32 वर्षों के बाद भी नीरजा के कातिलों का नही चल पाया पता

Posted on: 16-01-2019

नई दिल्ली। नीरजा भनोट का नाम हम सभी ने सुना होगा। यदि नहीं तो हम आपको बता दें कि 1986 में अपहरणकर्ताओं के चंगुल से पैन एएम फ्लाइट 73 के यात्रियों को बचाने में नीरजा ने अपनी जान की बाजी लगा दी थी। उनपर बॉलीवुड में एक फिल्म भी रिलीज हो चुकी है, जिसमें सोनम कपूर ने नीरजा की भूमिका निभाई थी। लेकिन साल दर साल गुजरने के बाद भी नीरजा को इंसाफ मिलना अभी बाकी है। आज तक भी नीरजा के असली कातिलों तक दुनिया की कोई पुलिस नहीं पहुंच सकी है। 32 वर्षों के बाद भी एफबीआई को उसके कातिलों की तलाश है।पिछले वर्ष जनवरी में अमेरिकी खुफिया एजेंसी एफबीआई ने पैन एएम की फ्लाइट को हाईजैक करने वाले चार अहरणकर्ताओं मुहम्मद हाफिज अल-तुर्की, जमाल सईद अब्दुल रहीम, मुहम्मद अब्दुल्ला खलील हुसैन और मुहम्मद अहमद अल-मुनवर की ताजा तस्वीर जारी की थी। ये चारो आतंकी अबु निदल संगठन(एएनओ) के सदस्य हैं। ये चारों एफ बीआई की मोस्ट वांटेड आतंकवादी की सूची में शामिल हैं। इन तस्वीरों को एफबीआई की लैब में साल 2000 में एजेंसी के हाथ लगी तस्वीरों के आधार पर बनाया गया था। अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने आरोपियों की सूचना देने वालों के लिए 50 लाख अमेरिकी डॉलर का इनाम रखा है।