डेंगू नियंत्रण के लिए बताएं रहे हैं उपाय, जलजमाव वाले पात्रों का कर रहे हैं सघन निरीक्षण

Posted on: 07-08-2019

पूरब टाइम्स भिलाईनगर। नगर पालिक निगम, भिलाई द्वारा जलजनित बीमारियों से बचाव एवं डेंगू नियंत्रण के लिए निगम क्षेत्र के वार्डों में टेमीफास का वितरण कर मच्छर के लार्वा को समाप्त करने के उपाय लोगों को बताये जा रहें हैं। इसी कड़ी में आयुक्त श्री ऋतुराज रघुवंशी ने कल घर-घर जाकर डेंगू नियंत्रण के लिए किये जा रहे कार्यों की जानकारी रहवासियों से ली। डेंगू नियंत्रण के इस कार्य में स्वास्थ्य कार्यकर्ता, मितानीन, महिला आरोग्य समिति के सदस्य भी घर-घर घुमकर कूलर, टंकी, केन्टेनर, टायर में जमे बरसाती पानी को खाली करवाने का कार्य कर रही है। निगम का स्वास्थ्य अमला शहरी परिवार कल्याण केन्द्र सुपेला के साथ मिलकर रामनगर, वैशालीनगर, बापूनगर, खुर्सीपार, छावनी, बैकुण्ठधाम, कोसानगर, टंकी मरोदा, नेवई भाठा, चन्द्रशेखर आजाद नगर के क्षेत्रों में पहुंचकर बरसाती जल जो गमले, टायर सहित अनुपयोगी पात्र में भरे हुए हैं उसमें डेंगू का लार्वा उत्पन्न न हो के उपाय बताये जा रहें हैं। निगम का अमला वार्ड के प्रत्येक घरों में टेमीफास का बाटल भी प्रदान कर रही है। जिसे जमे पानी पर डालकर मच्छर के लार्वा को खतम किया जा सकता है। आज पाड़े पारा नेवई भाठा वार्ड 42 एवं चन्द्रश्क्षेखर आजाद नगर वार्ड 37 में 206 परिवारों से मिलकर 54 कूलरों में टेमीफास का छिड़काव किया गया, एवं जनजागरुकता हेतु 330 पाम्पलेट का वितरण किया गया 40 मरीजों की जांच की गई और 11 लोगों का रक्त पट्टिका तैयार कर लैब भेजा गया है। वर्षाकाल के प्रारम्भ में फैलने वाली मौसमी बीमारी की रोकथाम के लिए निगम एवं शहरी परिवार केन्द्र द्वारा चलित मोबाईल चिकित्सालय सघन बस्ती में पहुंचकर लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर रही है साथ ही डेंगू, मलेरिया, पीलिया जैसे बीमारी से बचाव के उपाय भी बताये जा रहें हैं। आयुक्त श्री रघुवंशी ने नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि अपने घर के कूलर, छत में पड़े टायर, गमले, अनुपयोगी पात्र पर बरसात का पानी जमा न होने दें, ताकि मच्छर के लार्वा को पनपने का अवसर न मिल सके। घर के आसपास जमे हुए पानी पर निगम द्वारा प्रदान किये गये टेमीफास का सावधानी पूर्वक उपयोग करें । घर के किसी सदस्य को बूखार की शिकायत होने पर तत्काल नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में जांच करायें।