जल संरक्षक को लेकर चरौदा नगर निगम में हुई कार्यशाला

Posted on: 23-07-2019

पूरब टाइम्स भिलाई। भिलाई नगर निगम चरौदा में रेन वाटर हार्वेस्टिंग की कार्यशाला आयोजित की गई। बारिश के दिनों में जल प्रबंधन नही होने के कारण हम पानी का संचय नही कर पाते जिसके परिणाम स्वरूप हमे भू जल समस्या से जूझना पड़ता है। इसी समस्या से निपटने के लिए रेन वाटर हार्वेस्टिंग विषय के विशेषज्ञ मधुर चितलांग्या ने जल के महत्व के विषय मे पावर पॉइंट प्रजेंटेशन के द्वारा विस्तार से जानकारी दी । भिलाई नगर निगम चरौदा ने एक अच्छी पहल की है चरौदा निगम में आने वाले सभी घरों में रेन वायर हार्वेस्टिंग होना अनिवार्य है इस पर निगम के अधिकारी कर्मचारियों ने मुहिम छेड़ दी है। की जिस तरह से स्वछता अभियान चलाया गया उसी तरह से रेन वाटर हार्वेस्टिंग लगा कर वर्षा जल संचय के लिए हार्वेस्टिंग लगा कर अभियान चालाएंगे। आयोजित कार्यशाला में आयुक्त के.डी चन्द्राकर ने उक्त बातें कही। निगम क्षेत्र के आम नागरिकों से अपील की है कि वाटर हार्वेस्टिंग के महत्व को देखते हुए अधिक से अधिक इसके सहभागी बने। विगत दिनों पहले निगम क्षेत्र में जंल संकट का सामना करना पड़ा है। यह किसी से छिपा नही है, इसका समाधान वाटर हार्वेस्टिंग है। चरौदा नगर निगम की महापौर चन्द्रकांता माण्डले ने कहा, वाटर हार्वेस्टिंग बहुत जरूरी है, गर्मी के दिनों में पानी की जो समस्या आती है उससे बचने के लिए यदि हम गर्मी के दिनों के आने से पहले बरसात में जितना भी पानी होता है उसे हम संचय करे तो आने वाले दिनों में हम पानी को बचा सकते है। निगम क्षेत्र की आमजनता से अपील की कि जल है तो कल है पानी अवश्य बचाए। परिचर्चा एवं कार्यशाला में आयुक्त के. डी चंद्राकर, महापौर चन्द्रकांता माण्डले, इंजीनियर प्रकाश चन्द थवानी राजकुमार, अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।