Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



मुंबई। कोविड -19 महामारी के बीच गणेश उत्सव की शुरुआत शनिवार से हो रही है। 22 अगस्त को गणेश चतुर्थी मनाई जाएगी। इसके बाद अगले 10 दिनों तक गणेश उत्सव चलेगा। हालांकि इस बार कोरोना की वजह से बड़े पंडालों की अनुमति नहीं है, ऐसे में लोग घर पर ही गणेश जी को विराजमान करेंगें। बाॅलीवुड सेलेब्रिटीज इस उत्सव में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हैं। कुछ सितारों ने तो गणपति के आगमन की शुरुआत भी कर दी है।

एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी अपने घर गणपति बप्पा को ले आईं। उन्हें अपने घर के अंदर भगवान गणेश की मूर्ति ले जाते हुए देखा गया। इस नजर से शिल्पा बाॅलीवुड की पहली हस्ती हैं जिन्होंने सबसे पहले श्री गणेश का स्वागत किया है। इस बार का यह उत्सव शिल्पा के लिए काफी खास है क्योंकि उनकी बेटी की यह पहली पूजा होगी। इससे पहले शिल्पा अपने बेटे और पति राज कुंद्रा के साथ उत्सव को बड़ी धूमधाम से मनाती आई हैं।

शिल्पा के अलावा एक्टर नील नितिन मुकेश ने घर भी गणपति का आगमन हुआ है। इसकी कुछ तस्वीरें नील ने अपने अफिशल इंस्टाग्राम अकाउंट पर पोस्ट की। इन तस्वीरों में आप देखेंगे कि नील भगवान गणेश को चुन्नी से ढकरकर घर की ओर ले जा रहे हैं। हालांकि अभी उत्सव में एक दिन बाकी है। ऐसे में और भी सेलेब्रिटीज की गणेशोत्सव की तस्वीरें सामने आएंगी।

मुंबई। 14 जून को एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत अपने फ्लैट में मृत पाए गए थे. उससे पहले आठ जून को रिया चक्रवर्ती ने उनका घर छोड़ दिया था. अभी तक ये कहा जा रहा था कि सुशांत के कहने पर रिया ने ऐसा किया था और वे इस रिश्‍ते से बहुत खुश नहीं थे. लेकिन अब रिया चक्रवर्ती और महेश भट्ट की वॉट्सऐप चैट वायरल हो रही है जो कुछ अलग ही कहानी बयान करती है. ये चैट आठ जून की है. चैट से इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि रिया खुद ही सुशांत से अलग होकर गई थीं.  

इसमें रिया ने महेश भट्ट से कहा, आयशा अब भारी दिल और राहत की सांस के साथ आगे बढ़ रही है. हमारी आखिरी कॉल आंखें खोलनी वाली थी. आप मेरे एंजेल हैं. आप तब भी मेरे साथ थे. आज भी मेरे साथ हैं. महेश भट्ट का जवाब इस पर महेश भट्ट ने जवाब देते हुए कहा कि अब पीछे मुड़ कर मत देखना. जो जरूरी है उसको संभव बनाओ. इस कदम से तुम्‍हारे पिता खुश होंगे. अपने पिता को मेरा प्‍यार देना.


नई दिल्ली। भारत में गूगल और जीमेल का सर्वर डाउन हो गया है। गुरुवार सुबह से ही यूजर्स को जीमेल से ईमेल करने और फाइल अटैचमेंट में दिक्कत आ रही है। इसके अलावा भी जीमेल से जुड़ी कई सेवाओं में परेशानी आ रही है। गूगल ड्राइव को लेकर भी लोग सोशल मीडिया शिकायत कर रहे हैं। इसके अलावा यूट्यूब पर भी वीडियो अपलोड करने में कुछ तकनीकी दिक्कत बताई जा रही है। 

दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) उन 17 साइट्स में से एक है, जिन्हें ट्रायल आयोजित करने के लिए चयनित किया गया है। इन जगहों पर वैक्सीन की सुरक्षा और प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया की जांच की जाती है। इसमें सभी भारतीय ही शामिल होते हैँ। अध्ययन 7 महीने की अवधि के लिए योजनाबद्ध है और सीटीआरआई में पहले नामांकन की तारीख 24 अगस्त होगी।

सीरम इंस्टीट्यूट जो वैश्विक स्तर पर उत्पादित और बेची जाने वाली खुराक की संख्या के हिसाब से दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन बनाने वाली कंपनी है, उसने एस्ट्राजेनेका के साथ पार्टनरशिप की है ताकि एस्ट्राजेनेका ऑक्सफोर्ड वैक्सीन का उत्पादन किया जा सके। तीन अगस्त को भारत के ड्रग्स कंट्रोलर ने देश में कोरोना वैक्सीन के दूसरे और तीसरे ​​परीक्षणों के लिए SII को स्वीकृति प्रदान की।परीक्षण देश भर में 17 अस्पतालों में आयोजित किया जाएगा, और डॉ. प्रसाद कुलकर्णी इसके प्रमुख अन्वेषक होंगे जो इस प्रक्रिया का नेतृत्व करेंगे।
इन परीक्षणों का संचालन करने वाले अस्पतालों में आंध्र मेडिकल कॉलेज-विशाखापत्तनम, जेएसएस एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन एंड रिसर्च-मैसूर, सेठ जीएस मेडिकल कॉलेज और केईएम अस्पताल-मुंबई, केईएम हॉस्पिटल रिसर्च सेंटर-वडू, बीजे मेडिकल कॉलेज और सैसल्स जनरल हॉस्पिटल, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स)-जोधपुर, राजेंद्र मेमोरियल रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज-पटना, सामुदायिक चिकित्सा संस्थान-मद्रास, पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च- चंडीगढ़, भारती विद्यापीठ डीम्ड यूनिवर्सिटी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल- पुणे, जहांगीर अस्पताल- पुणे, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान- नई दिल्ली, आईसीएमआर- क्षेत्रीय चिकित्सा अनुसंधान केंद्र, गोरखपुर, श्री रामचंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ हायर एजुकेशन एंड रिसर्च- चेन्नई, टीएन मेडिकल कॉलेज और बीवाईएल नायर अस्पताल- मुंबई , महात्मा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान, सेवाग्राम, गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज-नागपुर शामिल हैं।


तीनों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। इलाके की घेराबंदी कर आतंकियों की तलाश की जा रही है। चार दिन में सुरक्षाबलों पर आतंकी हमले की ये दूसरी घटना है। 14 अगस्त को नौगाम में आतंकियों की फायरिंग में 2 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। पिछले कुछ दिनों में पुलिस पार्टी और सेना के काफिले पर आतंकी हमले बढ़ गए हैं। 12 अगस्त को भी बारामूला के सोपोर में सुरक्षाबलों पर हमला किया गया था, जिसमें एक जवान घायल हुआ था। 

आतंकियों ने सीआरपीएफ और पुलिस की संयुक्त पार्टी को निशाना बनाया था। बारामूला जिले के सोपोर कस्बे में 1 जुलाई को भी सीआरपीएफ की पार्टी पर आतंकियों ने हमला किया था। हमले में एक जवान शहीद हो गया और 3 जख्मी हुए थे। आतंकियों की फायरिंग की चपेट में आए एक नागरिक की भी मौत हो गई थी। मारे गए व्यक्ति के साथ उनका 3 साल का पोता भी था। सिक्योरिटी फोर्सेज ने बच्चे को सुरक्षित निकाल लिया था।

गिरफ्तार तीन विदेशी महिलाओं में दो रूस और एक चेक रिपब्लिक की हैं गिरफ्तार तीन विदेशी महिलाओं में दो रूस और एक चेक रिपब्लिक की हैं। इनके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। पार्टी के आयोजक के खिलाफ भी इसी एक्ट के तहत कार्रवाई हुई है। अन्य 19 के विरुद्ध कोरोना काल में शारीरिक दूरी बनाए जाने के नियमों का पालन न करने पर कार्रवाई हुई है।
गोवा के पुलिस महानिदेशक मुकेश कुमार मीना ने कहा कि लोगों की सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस पूरी तरह से चौकस है। विधायक पलयेकर ने पुलिस पर पैसे लेकर पार्टी कराने का लगाया आरोप वहीं गोवा फारवर्ड पार्टी के स्थानीय विधायक विनोद पलयेकर ने कहा कि यहां के समुद्री तटों पर खुलेआम रेव पार्टी का आयोजन हो रहा है। उन्होंने स्थानीय पुलिस पर पैसे लेकर पार्टी कराने का आरोप लगाया।

नई दिल्‍ली। कोविड-19 से ठीक हो चुके मरीजों की परेशानी खत्‍म नहीं हो रही। आसीयू में और वेंटिलेटर्स पर कई दिन गुजारने और डिस्‍चार्ज किए जाने के बावजूद दिक्‍कत फिर हो जा रही है। अस्‍पतालों में यही ट्रेंड देखने को मिल रहा है। कोरोना का मरीज ठीक होता है, उसे वायरस मुक्‍त घोषित करके डिस्‍चार्ज कर देते हैं। मगर कुछ दिनों या हफ्तों बाद उन्‍हें कोरोना वायरस से जुड़ी कोई और परेशानी घेर लेती है। थकान से लेकर सांस लेने में दिक्‍कत आम लक्षण हैं मगर कुछ केसेज में फेफड़ों में परेशानी के साथ खून के थक्‍के बनना और स्‍ट्रोक तक देखने को मिल रहे हैं।
हाल ही में नोएडा के एक अस्‍पताल को तब अलर्ट किया गया जब एक डिस्‍चार्ज मरीज के ऑक्सिजन लेवल में खासी गिरावट दर्ज की गई और उसे सांस लेने में भी तकलीफ थी। मरीज की हालत और खराब होती, उससे पहले ही उसे फिर भर्ती कर लिया गया। शारदा हॉस्पिटल के प्रवक्‍ता डॉ अजीत कुमार ने कहा, 45 साल के मरीज को जुलाई में डिस्‍चार्ज किया गया था और अगस्‍त की शुरुआत में फिर भर्ती किया गया क्‍योंकि उसके फेफड़ों में इन्‍फेक्‍शन था और ऑक्सिजन सैचुरेशन लेवल कम था। यह हाल तब था जब कोविड-19 की रिपोर्ट निगेटिव आई थी।

दिल्‍ली के सर गंगाराम अस्‍पताल के सीनियर चेस्‍ट फिजिशियन डॉ अरूप बसु के अनुसार, कोविड-19 फेफड़ों को नुकसान पहुंचाता है। इन्‍फेक्‍शन खत्‍म होने के बावजूद इसके नुकसान का असर रहता है। उन्‍होंने कहा, "मोटे टिश्‍यूज पर मौजूद निशान फेफड़ों को ठीक से काम करने से रोकते हैं और अतिरिक्‍त ऑक्सिजन की जरूरत पड़ सकती है। उन्‍होंने 22 साल के एक मरीज का जिक्र किया जो महीने भर पहले ही ठीक हो चुका था मगर अबतक आईसीयू में है क्‍योंकि उसे हाई फ्लो ऑक्सिजन सपोर्ट की जरूरत पड़ रही है।

मथुरा। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्र्स्ट के अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास की तबीयत बिगड़ गई है। सूत्रों के मुताबिक, नृत्य गोपाल दास को सांस लेने में दिक्कत हो रही है। उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है और वे वेंटिलेटर पर हैं। नृत्य गोपाल दास इस समय मथुरा में है। आगरा के सीएमओ और तमाम डॉक्टर्स नृत्य गोपाल दास के इलाज के लिए पहुंचे हैं। गौरतलब है कि नृत्य गोपाल दास हर कृष्ण जन्माष्टमी के दौरान मथुरा आते हैं। मथुरा यात्रा के दौरान आज उनकी तबीयत बिगड़ गई। उन्हें सांस लेने में दिक्कत हो रही है। फिलहाल, डॉक्टर उनका इलाज कर रहे हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक महंत के साथ पूजा में शामिल लोगों का भी अब कोरोना टेस्ट किया जाएगा। क्योंकि महंत नृत्य गोपाल दास से सैकड़ों लोगों ने आशीर्वाद लिया था। मथुरा आश्रम पर भी महंत से सैकड़ों श्रद्धालुओं ने मुलाकात की थी। 5 अगस्त को उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम जन्मभूमि शिलान्यास कार्यक्रम हुआ था। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ नृत्य गोपाल दास, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, संघ प्रमुख मोहन भागवत और यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी थी।

महंत नृत्य गोपालदास में कोरोना वायरस की पुष्टि की जानकारी होने के बाद के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली है। सीएम ने मथुरा के डीएम से इस बारे में बात की और इलाज में हर संभव मदद करने के आदेश दिए। साथ ही उन्होंने मेदांता अस्पताल के डॉक्टर नरेश त्रेहान से भी बात की है। खबर है कि महंत नृत्य गोपालदास को इलाज के लिए जल्द से जल्द मेदांता में ही भर्ती कराया जाएगा।

नई दिल्ली। देश की लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था के प्रतीक लाल किले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 अगस्त 2020 को जब तिरंगा लहराएंगे तो राजनीतिक इतिहास का एक दिलचस्प रिकार्ड भी बनाएंगे। मोदी लगातार सातवीं बार तिरंगा लहराएंगे और इसी के साथ सबसे अधिक बार यह सौभाग्य हासिल करने वाले प्रधानमंत्रियों की सूची में वे चौथे नंबर पर पहुंच जाएंगे। लाल किले पर सबसे अधिक बार तिरंगा लहराने का रिकार्ड पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के नाम है। इंदिरा गांधी इस उपलब्धि में दूसरे नंबर पर तोड़ा मनमोहन सिंह तीसरे नंबर हैं।

आजादी के बाद से अब तक स्वतंत्रता दिवस के मौके पर तिरंगा लहराने वाले प्रधानमंत्रियों की दिलचस्प दास्तान में पीएम बने तमाम नेताओं को कम या अधिक यह सौभाग्य हासिल हुआ है। लेकिन चंद्रशेखर और गुलजारी लाल नंदा दो ऐसे प्रधानमंत्री भी हुए जिन्हें लाल किले पर तिरंगा लहराने का मौका ही नहीं मिल पाया। नरेंद्र मोदी 15 अगस्त को जब सातवीं बार तिरंगा लहराएंगे तो वे अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधानमंत्री के रुप में छह बार लाल किले पर तिरंगा फहराने के रिकार्ड को पीछे छोड़ देंगे।




नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज देश के 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कोरोना संक्रमण की स्थिति जानने के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंस से चर्चा कर रहे हैं. इस बैठक में उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, बिहार, कर्नाटक, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, पंजाब, गुजरात, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी उपस्थित रहे। 

इस बैठक में मोदी ने कहा कि जैसे-जैसे वक्त बीत रहा है, महामारी अपना रूप बदल रही है और कई तरह की परिस्थिति पैदा हो रही हैं. मुख्यमंत्रियों से पीएम ने कहा कि इतने बड़े संकट के दौरान सभी का साथ काम करना बड़ी बात है, आज 80 फीसदी एक्टिव केस सिर्फ दस राज्यों में हैं. देश में एक्टिव केस 6 लाख से ज्यादा हैं, इसलिए इन राज्यों से चर्चा जरूरी है. अगर 10 राज्यों में कोरोना को रोक लिया तो देश कोरोना से जंग जीत जाएगा. पीएम मोदी ने कहा कि अगर सभी राज्य मिलकर अपने अनुभवों को बांटेंगे, टेस्टिंग की संख्या बढ़ रही है. हर दिन 7 लाख टेस्ट हो रहे है। 

मुख्यमंत्रियों से पीएम ने कहा कि इतने बड़े संकट के दौरान सभी का साथ काम करना बड़ी बात है, आज 80 फीसदी एक्टिव केस सिर्फ 10 राज्यों में हैं. देश में एक्टिव केस 6 लाख से ज्यादा हैं,  इसलिए इन राज्यों से चर्चा जरूरी है. अगर 10 राज्यों में कोरोना को रोक लिया तो देश कोरोना से जंग जीत जाएगाय पीएम मोदी ने कहा कि अगर सभी राज्य मिलकर अपने अनुभवों को बांटेंगे, टेस्टिंग की संख्या बढ़ रही है. हर दिन 7 लाख टेस्ट हो रहे है। 


बता दें कि देश में कोरोना संक्रमण से अब तक 45 हजार 257 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं देशभर में एक दिन में 53 हजार 601 नए मामले सामने आए हैं और 871 लोगों की मौत हुई है. देशभर में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 22 लाख 68 हजार 675 हो गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में अभी 6 लाख 39 हजार 929 एक्टिव केस हैं, जिनका इलाज चल रहा है. वहीं 15 लाख 83 हजार 489 लोग स्वस्थ हो चुके है। 


दरअसल, कोरोना संक्रमण काल में अपने घर लौटीं सुदीक्षा अपने रिश्तेदार के पास जा रही थीं। वह चाचा के साथ बाइक पर बैठी थीं। रास्ते में ही बुलेट सवार कुछ शोहदों ने छेड़खानी शुरू कर दी। फ्लर्ट के दौरान आरोपी युवक बार-बार बाइक को ओवरटेक कर रहे थे। उसी दौरान मनचलों से बचने के चक्कर में गाड़ी गिर गई और सुदीक्षा की मौत हो गई।


सुदीक्षा का परिवार गौतम बुद्धनगर के दादरी क्षेत्र का निवासी है। परिजन के मुताबिक कोरोना की वजह से सुदीक्षा अमेरिका से स्वदेश लौटी थी। वह अपने मामा से मिलने जा रही थी। कुछ दिनों के बाद ही उसे वापस अमेरिका पढ़ाई के लिए लौटना था। लेकिन किसी को क्या पता था कि कुछ शोहदों की करतूत की वजह से उसकी मौत हो जाएगी और फिर वह कभी अमेरिका नहीं जा पाएगी।

नई दिल्ली। योग गुरु बाबा रामदेव की पतंजलि आईपीएल 2020 की स्पॉन्सरशिप के लिए बोली लगाने पर विचार कर रही हैं। आईपीएल के मुख्य प्रायोजक चीन की स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी वीवो के हटने के बाद यह फैसला लिया गया है। पतंजलि के प्रवक्ता एस के तिजारावाला ने कहा कि हम आईपीएल को इस साल प्रायोजित करने की सोच रहे हैं, ताकि पतंजलि को ग्लोबल मार्केट मिल सके। 

बीसीसीआई और वीवो ने भारत और चीन की सीमा पर हुई सैनिकों की भिड़ंत के कारण चीनी उत्पादों के बहिष्कार करने की बातों के चलते 2020 आईपीएल के लिए अपनी भागीदारी निलंबित करने का फैसला किया, जो 19 सितंबर से संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में हो रही है। पतंजलि के प्रवक्ता ने इकोनॉमिक टाइम्स के साथ इस बात की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि पतंजलि बीसीसीआई को एक प्रस्ताव भेजने पर विचार कर रही है। मार्केट के जानकारों का मानना है कि पतंजलि चीन की वीवो कंपनी को रिप्लेस कर सकती है। 

ब्रांड रणनीतिकार हरीश बिजूर ने कहा, आईपीएल के छोटे प्रायोजक होने से आईपीएल से ज्यादा पतंजलि का फायदा होगा। राष्ट्रीय नजरिये से भी यह उनके लिए उपयोगी होगा, क्येंकि भारत में इस समय चीन विरोधी लहर चल रही है। इस साल आईपीएल यूएई में खेला जाना है। वहां स्टेडियम में दर्शक नहीं होंगे। बावजूद इसके मीडिया पर इसके असंख्य विज्ञापन होंगे। 

वीवो के हाथ खींच लेने के बाद बीसीसीआई नए प्रायोजक तलाश कर रही है। कई नाम उनके जेहन में हैं- जिओ, एमेजन, टाटा ग्रुप, ड्रीम इलेवन, अडानी ग्रुप और एजुकेशन स्टार्ट अप बाइजस जैसे नाम प्रायोजक के रूप में सामने आए। बाबा रामदेव के नेतृत्व में पतंजलिआयुर्वेद भी इसी कड़ी में सामने आया है। जून की शुरुआत में बाबा रामदेव कोरोना वायरस की दवा कोरोनिल बनाकर काफी विवादों में आए थे। आयुष मंत्रालय ने इसकी बिक्री पर रोक लगा दी थी। 


उज़मा के पिता उम्रदराज कुरैशी ने बताया, 30 जुलाई को अचानक मेरी बेटी गायब हो गयी थी, जिसके बाद मैंने ओशिवारा पुलिस स्टेशन में उसके लापता होने की शिकायत दर्ज करायी थी. पर कहीं न कहीं मुझे अंदेशा था कि वो चरणदीप के साथ भाग गयी है. उन्होंने कहा, जब मुझे पता चला कि मेरे लॉकर से 65 तोला सोना और 10 लाख रुपए नगद गायब हैं, तब मुझे याद आया कि कुछ दिनों पहले उज़मा ने मुझसे लॉकर की चाभी ली थी। 


पुलिस ने उज़मा के खिलाफ आईपीसी की धारा 379, 406, 411 और 34 के तहत केस दर्ज किया था. ओशिवारा पुलिस थाने के एक ऑफिसर ने बताया कि पंजाब पुलिस की जानकारी पर हमने अपनी एक टीम वहां भेजी. दोनों आरोपी अमृतसर के स्वर्ण मंदिर के पास सीता निवास में छुपे हुए थे. मुंबई पुलिस ने अमृतसर पुलिस की मदद से होटल में छापा मारकर दोनों को गिरफ्तार किया. पुलिस के सामने चरणदीप और उज़मा ने अपना गुनाह स्वीकार कर लिया, फ़िलहाल दोनों मंगलवार तक पुलिस कस्टडी में है। 

नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कोरोनो वायरस महामारी से चौपट हुई अर्थव्यवस्था को थामने के लिए सुझाव दिए हैं। पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि आर्थिक संकट को रोकने के लिए तत्काल तीन कदम उठाने होंगे। बता दें कि भारतीय अर्थव्यवस्था महामारी की शुरुआत से पहले ही मंदी की गिरफ्त में थी। 2019-20 में जीडीपी ग्रोथ 4.2% रही, जो लगभग एक दशक में सबसे कम ग्रोथ रेट रही।

पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार को संकट दूर करने और आने वाले वर्षों में आर्थिक सामान्य स्थिति को बहाल करने के लिए तीन कदम उठाने चाहिए। पहला- सरकार को लोगों की आजीविका को सुनिश्चित करना चाहिए और उन्हें डायरेक्ट कैश ट्रांसफर कर उनके खर्च करने की शक्ति को मजबूत करना होगा। दूसरा- सरकार समर्थित क्रेडिट गारंटी प्रोग्राम के माध्यम से व्यवसायों के लिए पर्याप्त पूंजी उपलब्ध करानी होगी।

तीसरा- इंस्टीट्यूशनल ऑटोनॉमी एंड प्रोसेस के माध्यम से फाइनेंशियल सेक्टर को ठीक करना चाहिए। भारतीय अर्थव्यवस्था महामारी की शुरुआत से पहले ही मंदी की गिरफ्त में थी। 2019-20 में जीडीपी ग्रोथ 4.2% रही, जो लगभग एक दशक में सबसे कम ग्रोथ रेट रही। देश अब धीरे-धीरे और लंबे समय तक बंद होने के बाद अपनी अर्थव्यवस्था को अनलॉक कर रहा है, लेकिन संक्रमण संख्या बढ़ने के कारण भविष्य अनिश्चित है। 

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से बॉलीवुड इंडस्‍ट्री को लेकर एक के बाद एक बड़े खुलासे हो रहे हैं। अब फिल्‍म इंडस्‍ट्री से एक और बड़ी खबर आई है कि मशहूर रैपर बादशाह ने फर्जी फॉलोअर्स और लाइक बढ़ाने के लिए 75 लाख खर्च किए हैं। फर्जी फॉलोअर्स लाइक बढ़ाने से जुड़े सोशल मीडिया रैकेट का खुलासा हुआ हैं। जिसमें मुंबई पुलिस रैपर बादशाह समेत 20 बड़ी हस्तियों के खिलाफ जांच में जुट गई है।

सूत्रों के अनुसार पिछले महीने इस फर्जी फैन फॉलोअर्स बढ़ाने वाले रैकेट की पोल खुली।बादशाह का इंस्टाग्राम अकाउंट्स @badboyshah पर फर्जी फॉलोवर्स और लाइक्‍स बढ़ाने का आरोप हैं। शुक्रवार को रैपर बादशाह को क्राइम ब्रांच के ऑफिस में पूछताछ के लिए बुलाया भी गया। फैन फॉलोअर्स के अनुसार सिंगर, कलाकारों की रेटिंग पता चलती हैं। यही कारण है कि सोशन मीडिया पर एक्‍टर, सिंगर समेत अन्‍य जानी-मानी हस्तियां काफी सक्रिय नजर आते हैं।


आगरा। घर से गेहूं चोरी करने पर मासूम बेटे को पिता ने बेटे को रस्सी से बांधकर खिड़की पर उल्टा लटकाया। इसके बाद उसे बेरहमी से पीटा। बेरहम पिता को अपने बच्चे को ऐसी सजा देने का ग्रामीणों ने विरोध किया। किसी ने इस अमानवीय करतूत का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। इसके बाद हरकत में आई पुलिस ने शनिवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

मामला उत्तर प्रदेश के आगरा के जगनेर थाना क्षेत्र के गांव मेवली का है। यहां गुड्डू खां का 10 साल का बेटा रमजानी शुक्रवार को अपने घर से गेहूं चुराकर दुकान पर कुछ सामान लेने गया था। इसकी जानकारी जब पिता गुड्डू को हुई तो आगबबूला हो गया और शाम को उसने बेटे को रस्सी से बांधकर कमरे के बाहर खिड़की से रस्सी बांध दी और इस रस्सी से बेटे को पैर से बांधकर उल्टा लटका लिया। इसके बाद उसके मुंह पर पानी मारता रहा और रस्सी से उसकी नंगी पीठ पर कोड़े बरसाता रहा।
पिटाई के कारण बच्चे की चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनकर आस-पड़ोस के लोग जुट गए। उन्होंने गुड्डू खां को रोकने का प्रयास किया, लेकिन वो 10 मिनट तक बेटे को पीटता रहा और अधमरा सा होने पर उसे नीचे उतारा। इस दौरान वहां मौजूद किसी ग्रामीण ने मोबाइल से घटना का वीडियो बना लिया। शनिवार सुबह यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

नई दिल्ली। केंद्रीय रक्षा मंत्री ने आत्मनिर्भर भारत के तहत 101 वस्तुओं पर आयात एम्बार्गो लगाने की घोषणा की। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बड़ी घोषणा कर दी है। आत्मनिर्भर भारत के तहत सरकार ने 101 वस्तुओं पर आयात एम्बार्गो लगाने की घोषणा की। घरेलू कंपनियों से अब 52 हजार करोड़ के रक्षा उपकरणों की खरीद की जाएगी।

रक्षा मंत्रालय अब रक्षा मंत्रालय अब आत्मनिर्भर भारत को बड़ा पुश देने के लिए तैयार है। रक्षा उत्पादन के स्वदेशीकरण को बढ़ावा देने के लिए रक्षा मंत्रालय अब 101 आइटम्स पर प्रतिबंध लगाएगा। आयात पर प्रतिबंध को 2020 से 2024 के बीच उत्तरोत्तर लागू करने की योजना है। हमारा उद्देश्य सशस्त्र बलों का आवश्यकताओं के बारे में भारतीय रक्षा उद्योगों को आगे बढ़ाना है ताकि वे स्वदेशीकरण के लिए बेहतर तरीके से तैयार हों। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पांच स्तंभों - अर्थव्यवस्था, इंफ्रास्ट्रक्चर, प्रणाली, जनसांख्यिकी और मांग के आधार पर आत्मनिर्भरता का आव्हान किया है। इसके लिए विशेष आर्थिक पैकेज भी घोषणा भी की गई।

इस बीच भारत और चीन के बीच दौलत बेग ओल्डी और देपसांग समेत एलएसी पर गतिरोध वाले इलाकों से सैनिकों के पीछे हटने की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए वरिष्ठ सैन्य कमांडरों की बातचीत शनिवार शाम को समाप्त हुई। यह माना जा रहा है कि भारत तब तक अपनी सेना पीछे नहीं हटाएगा जब तक चीनी सैनिक इलाके को पूरी तरह खाली नहीं कर देते।

रणनीतिक दृष्टिकोण से देपसांग भारत के लिए बहुत ही अहम है। माना जाता है कि इस सेक्टर में घुसपैठ कर चीन भारत के दौलत बेग ओल्डी हवाई अड्डे पर सीधी नजर रखने की मंशा रखता है। 18 किलोमीटर क्षेत्रफल के इस हिस्से में वर्ष 2013 में भी चीन की सेना ने घुसपैठ की थी। तब कई हफ्तों के विमर्श के बाद हालात को सामान्य किया गया था। चीन ने अभी भी डीबीओ सेक्टर में सीधे तौर पर घुसपैठ की हुई है। वहां से कुछ स्थलों से उसने अपनी सेना वापस भी की है।

मिर्जापुर। गोलगप्पे की दुकान लगी हो और खाने का मन ना करे, आमतौर पर ऐसा नहीं होता। खासकर महिलायें और युवतियां आपको गोलगप्पे खाती जरूर दिखाई देंगी। लेकिन यह नहीं सुना होगा कि गोलगप्पे खाते खाते गोलगप्पे वाले को कोई महिला या युवती दिल ही दे बैठे। लेकिन यह वाकया हुआ यूपी के मिर्जापुर के कछवा थाने के आदर्श नगर में। एक लड़की को गोलगप्पा खाते-खाते गोलगप्पे वाले से ही प्यार हो गया और वह लड़की उसके साथ फरार भी हो गई।

कोरोना काल मे लगे लॉकडाउन पीरियड में एक युवती गोलगप्पे वाले को गोलगप्पा खाते-खाते अपना दिल दे बैठी और दोनों फरार भी हो गए। यह मामला देखने को मिला उत्तर प्रदेश के मिर्ज़ापुर जनपद में जहां गोलगप्पे बेचने वाले युवक से गोलगप्पे खाने-खिलाने के दौरान युवती को प्यार हो गया। प्यार इस कदर परवान चढ़ा कि दोनों एक दिन चोरीछिपे फरार भी हो गए। बहरहाल पुलिस ने लड़की को बरामद कर उसके घरवालों को सुपुर्द कर दिया है। लड़की के परिवारवालों ने लोकलाज के भय से पुलिस में कोई शिकायत नहीं दर्ज करवाई है।
दरअसल, लड़की रोज चाट खाने गोलगप्पे वाले के पास जाती थी। उसको वहां का गोलगप्पा खाना बहुत पसंद था पर लोग यह समझ नहीं पाए कि गोलगप्पा खाते-खाते उसे गोलगप्पे वाले से प्यार हो जाएगा। जब प्यार हो गया तो गोलगप्पा वाला अपना गोलगप्पा बेचना बंद कर उस लड़की को लेकर अपने घर झांसी के लिए फरार हो गया। मगर घर पहुंचने से पहले ही लड़के के घर पहुंची पुलिस ने लड़की को बरामद कर उसके परिवारवालों के सुपुर्द कर दिया। हालांकि लड़की के परिवारवालों की ओर से कोई तहरीर न देने की वजह से मुकदमा दर्ज नहीं किया गया। यह घटना पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है।
घटना के बारे में कछवा थाना प्रभारी ने बताया कि लॉकडाउन में झांसी का रहने वाला एक युवक जिसकी उम्र 20- 22 साल रही होगी, वह कछवा बाजार में गोलगप्पे बेचने का काम करता था। इस दौरान कस्बे की रहने वाली एक युवती से गोलगप्पे खाने के दौरान दोनों में प्यार हो गया और वे दोनों फरार हो गए। हम लोगों ने लड़की को झांसी से बरामद कर उसके परिवारवालों के हवाले कर दिया था। मामले की कोई तहरीर ना मिलने की वजह से कोई मुकदमा नहीं दर्ज किया गया है।

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस में मुंबई स्थित ईडी ऑफिस में एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती से अभी पूछताछ जारी है जबकि रिया के भाई शोविक को करीब 2 घंटे की पूछताछ के बाद जाने दिया गया है। यहां मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय रिया चक्रवर्ती से पूछताछ कर रही है और कथित लेन-देन को खंगाल रही है। हालांकि, इससे पहले चक्रवर्ती ने प्रवर्तन निदेशालय के सवालों की बौछार का सामना करने से बचने के लिए सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई तक की मोहलत की मांगी थी। उनके वकील सतीष मानेशिंदे ने कहा था कि सुशांत सिंह राजपूत केस में रिया चक्रवर्ती ने अनुरोध किया है कि प्रवर्तन निदेशालय के सामने उनके बयान की रिकॉर्डिंग सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई तक के लिए टाल दी जाए।

दरअसल, सुशांत केस के सिलसिले में एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 7 अगस्त पूछताछ के लिए मुंबई में पेश होने का नोटिस भेजा था। बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत केस में आर्थिक पहलू से जांच कर रहा प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम रिया की संपत्ति को खंगाल रही है। वहीं,(ईडी) ने सुशांत की पूर्व बिजनेस मैनेजर श्रुति मोदी को भी आज पूछताछ के लिए बुलाया है। जांच एजेंसी ने सुशांत के साथ रहने वाले उनके दोस्त सिद्धार्थ पिठानी को भी कल यानी 8 अगस्त को बुलाया है। 

वहीं, मानशिंदे ने कहा कि अभिनेत्री शुक्रवार को ईडी के समक्ष पेश नहीं होंगी। उन्होंने बताया कि चक्रवर्ती ने न्यायालय में उनकी याचिका की सुनवाई तक उनका बयान दर्ज नहीं किए जाने का अनुरोध किया है। मानशिंदे ने कहा कि ईडी ने उनके अनुरोध का अभी कोई उत्तर नहीं दिया है। मगर, रिया अब जब मुंबई स्थित ईडी दफ्तर पहुंच चुकी हैं तो माना जा रहा है  कि ईडी ने मोहलत नहीं दी है।
सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में 31 जुलाई को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने जांच शुरू करते हुए मनी लॉन्ड्रिंग के तहत केस दर्ज किया था। ईडी ने यह केस बिहार पुलिस द्वारा दर्ज की गई एफआईआर के आधार पर किया गया है। सबसे पहले ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग  के मामले में सोमवार (3 अगस्त) को बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के चार्टर्ड अकाउंटेंट संदीप श्रीधर से पूछताछ की।