Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है




खेल।  टेस्ट क्रिकेटर माधव आप्टे का निधन सोमवार सुबह हो गया। कार्डिएक अरेस्ट के बाद उन्हें मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती किया गया था, जहां उन्होंने सुबह 6 बजकर 10 मिनट पर आखिरी सांस ली। वे 86 साल के थे। आप्टे ने अपने छोटे से टेस्ट करियर में भारत की ओर से सात मैच खेले जिसमें उन्होंने कुल 542 रन बनाए थे। उनके नाम पर 1 शतक और तीन अर्धशतक दर्ज हैं। उनके निधन पर कई दिग्गज क्रिकेटरों ने दुख व्यक्त करते हुए सोशल मीडिया पर उनको श्रद्धांजलि दी है।
आप्टे ने अपने टेस्ट करियर के 7 मैचों में 49.27 की औसत से कुल 542 रन बनाए थे। उनका उच्चतम स्कोर 163 रन था जो उन्होंने वेस्ट इंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन में बनाए थे। उन्होंने अपना टेस्ट डेब्यू नवंबर 1952 में मुंबई में पाकिस्तान के खिलाफ खेलते हुए किया था। जिसमें उन्होंने 30 और 10 रन की पारी खेली थी। अपने करियर के सात मैचों में से पांच मैच उन्होंने कैरेबियाई दौरे पर खेले। जहां उन्होंने 51.11 की औसत से 460 रन बनाए थे। उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट वेस्ट इंडीज के खिलाफ किंग्स्टन में अप्रैल 1953 में खेला था। 17 साल तक खेला प्रथम श्रेणी क्रिकेट टेस्ट करियर के मुकाबले प्रथम श्रेणी क्रिकेट में आप्टे का करियर काफी लंबा रहा। उन्होंने 17 साल तक फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेला और इस दौरान 67 मैचों में 3336 रन बनाए। जिसमें 6 शतक और 16 अर्धशतक भी शामिल हैं। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर नाबाद 165 रन था।
@GI@400+ रन बनाने वाले भारत के पहले ओपनर माधव आप्टे किसी एक टेस्ट सीरीज में 400 से ज्यादा रन बनाने वाले भारत के पहले ओपनर थे। उन्होंने 1953 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ हुई सीरीज में 460 रन बनाकर ये कारनामा किया था। वे मुंबई की टीम से घरेलू क्रिकेट खेलते थे और इस टीम के कप्तान भी रहे थे। माधव आप्टे ने अपने करियर के दौरान वीनू मांकड़, पॉली उमरीगर, विजय हजारे और रुसी मोदी जैसे कई महान क्रिकेटर्स के साथ खेला। बतौर गेंदबाज शुरू किया था करियर माधव आप्टे शुरुआती दौर में लेगब्रेक गेंदबाज थे लेकिन कॉलेज में उनके कोच रहे वीनू मांकड़ ने उनके अंदर छुपी बल्लेबाजी की प्रतिभा को पहचानकर उनसे ओपनिंग कराना शुरू कर दिया। आप्टे कुछ वक्त के लिए क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया के अध्यक्ष भी रहे थे। इसके अलावा वे आजीवन लीजेंड्स क्लब के अध्यक्ष रहे। जिसका गठन अलग-अलग खिलाड़ियों की उपलब्धियों को सेलिब्रेट करने के लिए हुआ था।
आप्टे के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए पूर्व भारतीय क्रिकेटर विनोद कांबली ने लिखा माधव आप्टे सर के निधन के बारे में सुना मैंने उन्हें बचपन से देखा था और उनसे सलाह लेता रहता था। वे हमेशा मेरा उत्साह बढ़ाते थे और अच्छा करने के लिए प्रेरित करते थे। मुझे और मेरे पापा दोनों को ही उनके साथ क्रिकेट खेलने का सौभाग्य मिला। आपकी आत्मा को शांति मिले सर।


खेल डेस्क।  यूईएफए यूरोपा लीग में गुरुवार को पिछले साल उपविजेता आर्सेनल ने ग्रुप-एफ में अपने पहले मैच में इंत्राक्त फ्रैंकफर्ट को 3-0 से हरा दिया। इंग्लैंड के क्लब आर्सेनल के लिए जो विलोक बुकायो साका और पिएरे एमरिक ने गोल किए। वहीं जर्मनी के क्लब इंत्राक्त के लिए कोई भी खिलाड़ी स्कोर नहीं कर सका। उसके डोमिनिक कोर को 79वें मिनट में लाल कार्ड दिखाया गया। इसके बाद टीम 10 खिलाड़ियों के साथ ही खेली।
दूसरी ओर ग्रुप-एल में इंग्लैंड के क्लब मैनचेस्टर यूनाईटेड ने अपने पहले मैच में जीत हासिल की। उसने कजाखस्तान के क्लब अस्ताना एफसी को 1-0 से हरा दिया। मैनचेस्टर के लिए इस मैच में 17 के मैसन ग्रीनवुड ने एकमात्र गोल किया। दोनों टीमें हाफटाइम तक 0-0 की बराबरी पर थी। ग्रीनवुड ने 73वें मिनट में गोल कर टीम को 1-0 से आगे कर दिया। पिएरे एमरिक
ग्रुप-जे में तुर्की के क्लब के इस्तांबुल बासाकसेहिर को पहले मैच में हार का सामना करना पड़ा। उसे इटली के क्लब रोमा एफसी ने 4-0 से हराया। रोमा के खाते में पहला गोल इस्तांबुल के जूनियर काईकारा (42वें मिनट) ने किया। जूनियर ने आत्मघाती गोल करते हुए अपने ही गोलपोस्ट में गेंद को भेज दिया। इसके बाद एडिन डेको ने 58वें और निकोलो जानिओलो ने 71वें मिनट में गोल किया। मैच के निर्धारित समय के बाद इंजरी टाइम (90+3वें मिनट में) जस्टिन क्लूवर्ट ने टीम के लिए चौथा गोल किया।

दो बार के ओलिंपिक पदक विजेता रेसलर सुशील कुमार ने शुक्रवार को आठ साल बाद वापसी की। उनकी वापसी अच्छी नहीं रही और वर्ल्ड चैम्पियनशिप के ओपनिंग बाउट में ही सुशील को हार का सामना करना पड़ा। कजाखस्तान के नूर-सुल्तान में इस अनुभवी भारतीय रेसलर को अजरबैजान के खाद्जहिमुराद गादझियुव ने हराया। 74 किलोग्राम भार वर्ग में उन्हें 11-9 से हार का सामना करना पड़ा। गादझियुव अगर फाइनल में पहुंचते हैं, तो सुशील को ओलिंपिक क्वालिफिकेशन और कांस्य पदक जीतने का मौका मिलेगा।

सुशील वर्ल्ड चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीतने वाले इकलौते भारतीय रेसलर हैं। उन्होंने 2010 में रूस की राजधानी मॉस्को में ये उपलब्धि हासिल की थी। वे गादझियुव के खिलाफ एक समय 9-4 से आगे चल रहे थे, लेकिन इसके बाद लगातार 7 अंक गंवा बैठे। 

करन, सुमित और प्रवीण हारे
दूसरी ओर, 70 किलोग्राम भार वर्ग (नन-ओलिंपिक) के क्वालिफिकेशन राउंड में करन को हार का सामना करना पड़ा। उन्हें उज्बेकिस्तान के इख्तियोर नावरुजोव ने 7-0 से हराया। वहीं, 125 किलोग्राम फ्रीस्टाइल क्वालिफिकेशन मैच में भारत के सुमित मलिक हार गए। उन्हें हंगरी के डेनियल लिगेती ने हराया। 92 किलोग्राम क्वालिफिकेशन मैच में प्रवीण को कोरिया के चान्गजाई सू ने हराया।

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ शुक्रवार को बेंगलुरु में टीम इंडिया के प्रैक्टिस सेशन में पहुंचे। इस दौरान द्रविड़ ने कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री से मुलाकात की। भारतीय टीम यहां के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम पर रविवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन टी-20 की सीरीज का तीसरा मुकाबला खेलेगी। भारत ने मोहाली में दूसरा टी-20 जीतकर सीरीज में 1-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली। पहला मुकाबला धर्मशाला में बारिश के कारण रद्द हो गया था।

द्रविड़ बेंगलुरु स्थित नेशनल क्रिकेट एकेडमी (एनसीए) के प्रमुख हैं। द्रविड़ और शास्त्री के फोटो को शेयर कर बीसीसीआई ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा- जब भारतीय क्रिकेट के दो महान लोग मिले।

मुंबई। बुधवार को साउथ अफ्रीका के खिलाफ जब भारतीय टीम 150 रन के लक्ष्य का पीछा कर रही थी, तो शिखर के आउट होने के बाद नंबर 4 पर ऋषभ पंत को ही बैटिंग पर भेजा गया। पंत ने एक बार फिर अपने खराब शॉट सिलेक्शन से टीम मैनेजमेंट की चिंताओं को बढ़ा दिया। यह युवा लेफ्टहैंडर बल्लेबाज मात्र 4 रन बनाकर पविलियन लौट गया। पंत जब क्रीज पर आए थे तब विराट कोहली उनके साथ दूसरे छोर पर मौजूद थे और मैच जीतने के लिए परिस्थितियां भी माकूल थीं। यानी टीम इंडिया को कोई कोई जोखिम उठाने की जरूरत नहीं थी। इस मैच में 4 रन बना चुके पंत के सामने अपना पहला मैच खेल रहे साउथ अफ्रीका के लेफ्ट आर्म स्पिनर बोर्न बोर्न फॉच्र्यून बोलिंग पर थे। फॉर्यून की दिशा से भटकी हुई एक गेंद पंत के सामने आई, तो उन्होंने इसे फाइन लेग पर घुमाना चाहा था। लेकिन गेंद ठीक से कनेक्ट नहीं हुई और सर्किल के भीतर खड़े तबरेज शम्सी ने उनका आसान सा कैच लपक लिया।
अपने खराब शॉट पर आउट होने के बाद जब यह युवा विकेटकीपर बल्लेबाज पविलियन लौट रहा था तो उनके चेहरे की भाव-भंगिमाएं सारी कहानी बयां कर रही थीं। वह आउट होने के इस ढंग पर निराश, चिड़चिड़े और चिंतित दिख रहे थे। वल्र्ड कप 2019 के खत्म होने के बाद अभी करीब एक महीना पहले ही भारतीय टीम के चीफ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद ने 21 वर्षीय पंत को तीनों फॉर्मेट के खेल के लिए धोनी का उत्तराधिकारी चुना है। लेकिन तब से ही यह युवा बल्लेबाज लय से भटकता दिख रहा है।


खेल डेस्क।  कप्तान  विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मोहाली में खेले गए दूसरे टी-20 में नाबाद 72 रन की पारी खेली। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने उनकी इस पारी की तारीफ की। उन्होंने इस पारी और तीनों फॉर्मेट में 50 से ऊपर औसत रखने के लिए कोहली को बधाई दी। पहले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने कोहली को बधाई देते हुए ट्वीट किया। इसके बाद अफरीदी ने इसे रीट्वीट करते हुए लिखा विराट आपको बधाई। आप वास्तव में महान खिलाड़ी हैं। इसी तरह सफलता हासिल करते रहें और दुनियाभर में मौजूद अपने प्रशंसकों का मनोरंजन करते रहें। टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका को 7 विकेट से हरा दिया। इसके साथ ही सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली। धर्मशाला में पहला मैच बारिश की वजह से रद्द हो गया था। तीसरा और आखिरी टी-20 बेंगलुरु में 22 सितंबर को खेला जाएगा।@GI@
अफरीदी ने भारत को जंग की धमकी दी थी अफरीदी हाल के दिनों में अलग वजहों से चर्चा में रहे। अनुच्छेद 370 हटाए जाने के मुद्दे पर वो प्रधानमंत्री इमरान खान की पीओके वाली रैली में भी शामिल हुए थे। भारत को जंग की धमकी भी दी थी। हालांकि वे पहले भी राजनीतिक बयानबाजी करते रहे हैं। कुछ दिनों पहले उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था कि वे सक्रिय राजनीति में भी जा सकते हैं। बहरहाल मोहाली टी-20 में कोहली की उपलब्धि पर वो खुश नजर आए। अगस्त 2017 में विराट ने अफरीदी के चैरिटी फाउंडेशन को नीलामी के लिए ऑटोग्राफ वाला बैट गिफ्ट किया था। शाहिद ने तब उनको शुक्रिया कहा था। 2 साल पहले विराट ने अफरीदी की सामाजिक संस्था को ऑटोग्राफ वाला बैट गिफ्ट किया था कोहली टी-20 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज कोहली टी-20 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बन गए। इस मामले में रोहित शर्मा को पीछे छोड़ा। कोहली के 2441 और रोहित के 2434 रन हैं। इस मामले में न्यूजीलैंड के मार्टिन गुप्टिल तीसरे स्थान पर हैं। गुप्टिल ने 2283 रन बनाए। पाकिस्तान के शोएब मलिक चौथे और न्यूजीलैंड के ब्रेंडन मैकुलम पांचवें स्थान पर हैं। मलिक ने 2263 और मैकुलम ने 2140 रन बनाए।

नई दिल्ली. नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई (Malala Yousafzai) के कश्मीर को लेकर ट्वीट करने पर भारत की स्‍टार निशानेबाज हिना सिद्धू (Heena Sidhu) भड़क गई और उन्‍होंने करारा जवाब दिया. दरअसल मलाला यूसुफजई (Malala Yousafzai) ने ट्वीट करके कहा था कि वह कुछ दिन पहले कश्मीर आई थीं और उन्होंने वहां लोगों के साथ समय बिताया. मलाला यूसुफजई ने कश्मीरी लड़कियों की शिक्षा को लेकर सोशल मीडिया पर लिखा. जिसके जवाब में हिना ने कहा कि आपका कहना है कि कश्मीर पाकिस्तान को दे दिया जाए, क्योंकि वहां पर लड़कियों की शिक्षा के मामले में आपकी ही तरह अच्छे मौके हैं. हिना (Heena Sidhu) ने मलाला यूसुफजई को याद  दिलाया कि कैसे पाकिस्तान में शिक्षा के कारण ही उनकी जान जाते-जाते बची थी. भारत की इस स्टार निशानेबाज ने कहा ‌कि आपने अपना देश  छोड़ दिया और कभी लौट के नहीं गईं. उन्होंने कहा कि पहले वह पाकिस्तान जाकर एक उदाहरण पेश करें. सिर में तालिबानियों ने मार दी थी गोली
मलाला यूसुफजई (Malala Yousafzai) ने ट्वीट करके कहा था कि कश्मीर में लड़कियां स्कूल नहीं जा पा रहीं, जिससे वह निराश हैं. अपने ट्वीट ने उन्होंने दावा किया कि कश्मीर में तीन लड़कियों से उनकी बात हुई. जिसमें से एक ने कहा कि इस हालात में वे स्कूल नहीं जा पा रही और इसी कारण वह 12 अगस्त को परीक्षा भी नहीं दे पाईं. उनके इस ट्वीट के बाद दुनिया की पूर्व नंबर एक निशानेबाज हिना (Heena Sidhu) ने उन्हें याद दिलाया कि कैसे स्कूल जाने पर पाकिस्तान में तालिबानियों ने उनके सिर में गोलियां मार दी थी. पाकिस्तान में इलाज के दौरान उनकी हालात गंभीर हो गई ‌थी, जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए ब्रिटेन भेज दिया गया. जहां मुश्किल से उनकी जान बच पाई. उसके बाद मलाला वहीं पर बस गईं.


  • भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी सौरभ वर्मा ने फेई जियांग सुन 21-12, 17-21, 21-14 से हराया लक्ष्य सेन ने डेनमार्क के विक्टर को 21-14 21-15 से हराकर बेल्जियन इंटरनेशनल खिताब जीता

जापान। भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी सौरभ वर्मा ने रविवार को वियतनाम ओपन खिताब अपने नाम कर लिया। फाइनल में दूसरी सीड सौरभ ने चीन के फेई जियांग सुन 21-12, 17-21, 21-14 से हरा दिया। इससे पहले सौरभ ने सेमीफाइनल में जापान के मिनोरू कोगा को 22-20, 21-15 से हराया था। मैच के पहले सेट में 25 वर्षीय सौरभ ने फेई जियांग को 21-12 से हराया था। इसके बाद फेई ने शानदार वापसी की और सौरभ को दूसरे सेट में 21-17 से हराते हुए मैच बराबर कर दिया। तीसरे और निर्णायक सेट में सौरभ ने फिर वापसी की और फेई को 21-14 से हराते हुए मैच अपने नाम कर लिया। यह मैच 72 मिनट तक चला।
लक्ष्य ने बेल्जियन इंटरनेशनल खिताब जीता वहीं भारत के उभरते युवा शटलर लक्ष्य सेन ने शनिवार को उलटफेर करते हुए बेल्जियन इंटरनेशनल चैलेंज खिताब जीता। लक्ष्य ने पुरुष एकल वर्ग में डेनमार्क के दूसरी सीड विक्टर स्वेंड्सन को सीधे सेट में 21-14 21-15 से हराया। यूथ ओलम्पिक में रजत पदक विजेता लक्ष्य ने यह मुकाबला 34 मिनट में जीत लिया।