Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



खेल। राजस्थान रॉयल्स ने शुक्रवार को इंडियन प्रीमियर लीग आईपीएल के महत्वपूर्ण मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब को 7 विकेट से हराकर प्लेऑफ की अपनी उम्मीदों को बनाए रखा है। राजस्थान की जीत में बेन स्टोक्स और संजू सैमसन ने महत्वपूर्ण योगदान दिया। संजू सैमसन ने किंग्स इलेवन के निकोलस पूरन को पीछे छोड़कर आईपीएल के इस सीजन में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं।

राजस्थान के खिलाफ मैच में निकोलस पूरन ने 22 रनों की पारी के दौरान 3 छक्के लगाकर संजू सैमसन को पीछे छोड़ा था। इसके बाद सैमसन ने भी 3 छक्के लगाए और पूरन से आगे निकल गए। संजू सैमसन आईपीएल के इस सत्र में 13 मैचों में 26 छक्के लगा चुके हैं। उन्होंने इस दौरान 21 चौके भी लगाए हैं। वे इस सत्र में 3 अर्द्धशतकों की मदद से 374 रन बना चुके हैं। निकोलस पूरन 13 मैचों में 25 छक्के लगाकर दूसरे स्थान पर हैं। उन्होंने कुल 351 रन बनाए हैं। किंग्स इलेवन पंजाब के क्रिस गेल 23 छक्कों के साथ तीसरे स्थान पर हैं। गेल की खासियत यह है कि उन्होंने मात्र 6 मैचों में इतने छक्के जड़े हैं। संजू सैमसन को क्रिस गेल से खतरा रहेगा।
संजू सैमसन ने किंग्स इलेवन के खिलाफ 25 गेंदों में 4 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 48 रन बनाए। उन्होंने इसी के साथ इस सत्र में अपने छक्कों की संख्या को 26 तक पहुंचाया। वे इसी के साथ राजस्थान रॉयल्स की तरफ से आईपीएल के एक सीजन में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले बल्लेबाज बन गए। उन्होंने यूसुफ पठान का 12 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा। यूसुफ पठान ने आईपीएल 2008 में राजस्थान की तरफ से 25 छक्के लगाए थे। संजू सैमसन के पास अपने इस रिकॉर्ड को और बेहतर करने का मौका है।

नई दिल्ली। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने सोमवार को क्रिकेटर उमर अकमल को मैच फिक्सिंग का दोषी पाए जाने के बाद उन पर तीन साल का प्रतिबंध लगा दिया। अकमल के खिलाफ पीसीबी की अनुशासनात्मक समिति जांच कर रही थी जिसमें उन्हें मैच फिक्सिंग का दोषी पाया गया।

पीसीबी ने ट्वीट किया, उमर अकमल को अनुशासनात्मक पैनल के अध्यक्ष जस्टिस (रिटायर्ड) फजल-ए-मीरन चौहान की ओर से क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से तीन साल का प्रतिबंध लगाया गया है।
इससे पहले, अकमल ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा था कि उन्हें एक मैच में दो गेंद छोड़ने के लिए फिक्सर की ओर से 2 लाख अमेरिकी डॉलर की पेशकश की गई थी। उन्होंने यह भी दावा किया कि उन्हें भारत के खिलाफ मैच छोड़ने के लिए पैसे की पेशकश की गई थी।

पाकिस्तान के इस बल्लेबाज ने यह भी बताया था उनसे फिक्सरों ने 2015 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की मेजबानी में खेले गए आईसीसी वर्ल्ड कप के दौरान संपर्क किया गया था।

नई दिल्ली। MS Dhoni के इंटरनेशनल क्रिकेट में भविष्य को लेकर स्थिति अभी साफ नहीं है लेकिन उनके पूर्व साथी और तेज गेंदबाज Ashish Nehra को लगता है कि यह पूर्व कप्तान भारत के लिए अपना अंतिम मैच खेल चुका है। MS Dhoni ने पिछले साल 9 जुलाई को न्यूजीलैंड के खिलाफ हुए वर्ल्ड कप सेमीफाइनल के बाद से कोई मैच नहीं खेला है।

Ashish Nehra ने टेलीग्राफ को दिए इंटरव्यू में कहा, यदि MS Dhoni फिट हैं और खेलना चाहते हैं तो वे मेरी नजर में अभी भी नंबर वन विकेटकीपर हैं। मैं MS Dhoni को जितना जानता हूं उसके हिसाब से लगता है कि वे भारत के लिए अपना अंतिम मैच खेल चुके हैं, लेकिन वे इस मामले में अपने फैसले से चौंका भी सकते हैं।

बाएं हाथ के तेज गेंदबाज आशीष नेहरा भारतीय टीम और आईपीएल फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स में महेंद्रसिंह धोनी के साथ खेल चुके हैं। आशीष नेहरा ने कहा, महेंद्रसिंह धोनी ने अभी संन्यास की घोषणा नहीं की हैं जो एक अलग मुद्दा है लेकिन उनका यह स्थिति से निपटने का अपना तरीका है।

टीम से निकाले जाने के बारे में सोचना गलत:

आशीष नेहरा ने कहा कि ऐसा सोचना भी गलत है कि धोनी को टीम से निकाला गया है। धोनी के प्रदर्शन में कोई खराबी नहीं है और उनकी अनुपस्थिति में टीम इंडिया को कार्यवाहर विकेटकीपर केएल राहुल से काम चलाना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि ऐसा माना जा रहा कि रिषभ पंत की वजह से धोनी पर दबाव आएगा लेकिन अभी धोनी की अनुपस्थिति में पंत भी टीम से बाहर चल रहे हैं।

नई दिल्ली। वेस्ट इंडीज के सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल (Chris Gayle) ने कहा कि भारतीय स्पिनर युजवेन्द्र चहल (Yuzvendra Chahal) सोशल मीडिया पर काफी परेशान करते हैं और वह उन्हें ब्लॉक करने जा रहे हैं। चहल सोशल मीडिया पर सबसे व्यस्त भारतीय क्रिकेटरों में से एक हैं। कोविड-19 (Covid- 19) महामारी के कारण देशभर में लागू लॉकडाउन के बीच वह सोशल मीडिया के विभिन्न मंचों पर पहले से कही अधिक समय बिता रहे हैं।

ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए जाने जाने वाले गेल ने इंस्टाग्राम पर आयोजित एक सत्र में कहा, मैं गंभीरता से टिकटॉक से बोलूंगा कि आपकों ब्लॉक करें। आप सोशल मीडिया पर काफी गुस्सा दिलाते हैं। आपको सोशल मीडिया से दूरी बनाने की जरूरत है। हम चहल से थक चुके हैं। मैं तुम्हें अपने जीवन में फिर से नहीं देखना चाहता। मैं तुम्हें ब्लॉक करने वाला हूं।

कोरोना वायरस संक्रमण के कारण दुनिया भर में क्रिकेट सहित दूसरी खेल गतिविधियों पर रोक लगी है। ऐसे में खिलाड़ी सोशल मीडिया के जरिए प्रशंसकों से जुड़ रहे हैं। इससे पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने साउथ अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर एबी डिविलियर्स के साथ लाइव वीडियो सत्र के दौरान चहल को गंवार करार दिया था।

कोहली ने कहा था, आपने टिकटॉक वीडियो देखा है? आपको युजवेन्द्र चहल का टिकटॉक वीडियो देखना चाहिए। उन्होंने कहा, आपको विश्वास नहीं होगा यह आदमी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहा है और 29 साल का है। आप उसके वीडियो देखेंगे तो लगेगा पूरी तरह से गंवार है।

मेलबर्न। टेस्ट क्रिकेट में विश्व के नंबर एक तेज गेंदबाज पैट कमिन्स (Pat Cummins) ने कहा कि टेस्ट क्रिकेट में चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) को गेंदबाजी करना सबसे मुश्किल है। इस ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ने भारत के मध्यक्रम के बल्लेबाज को अपनी टीम के लिए सबसे बड़ा सिरदर्द करार दिया। पुजारा नंबर 3 पर अपनी ठोस बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने 2018-19 में भारत की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में ऐतिहासिक जीत में अहम भूमिका निभाई थी।
कमिन्स से ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स संघ (ACA) द्वारा आयोजित सवाल जवाब के कार्यक्रम में जब पूछा गया कि किस बल्लेबाज को गेंदबाजी करना सबसे मुश्किल लगता है, तब उन्होंने पुजारा का नाम लिया। उन्होंने कहा, दुर्भाग्य से ऐसे कई बल्लेबाज हैं। लेकिन मैं एक ऐसे बल्लेबाज का नाम लूंगा, जो सबसे हटकर है और वह भारत के (चेतेश्वर) पुजारा हैं। वह हमारे लिए असली सरदर्द थे।

पुजारा ने ऑस्ट्रेलिया के पिछले दौर में तीन शतक और एक अर्धशतक की मदद से 521 रन बनाए थे, जिससे भारत पहली बार ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर टेस्ट सीरीज जीतने में सफल रहा था। कमिन्स ने याद किया कि ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को पुजारा को आउट करने में कैसी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था।

उन्होंने कहा, वह (पुजारा) सीरीज में उनकी तरफ से चट्टान की तरह खड़े हो जाते हैं। उन्हे आउट करना बेहद मुश्किल था। वह दिन प्रतिदिन गजब की एकाग्रता बनाए रखते थे। मेरा मानना है कि टेस्ट क्रिकेट में उसे आउट करना सबसे मुश्किल है।

पुजारा को इस सीरीज में मैन ऑफ द सीरीज चुना गया था। उन्होंने साबित किया कि एक खिलाड़ी अपने धैर्य और एकाग्रता से सारा अंतर पैदा कर सकता है।

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शतकों का शतक जमाने वाले सचिन तेंडुलकर ने इनमें से एक शतक अपने जन्मदिन यानी 24 अप्रैल को भी बनाया था जिसमें उन्होंने शेन वॉर्न  की गेंदों की जमकर धुनाई करके इस ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज को ऑटोग्राफ लेने के लिए मजबूर कर दिया था। तेंडुलकर और वॉर्न के बीच द्वंद्व क्रिकेट जगत के सबसे चर्चित व्यक्तिगत मुकाबलों में शामिल रहा है लेकिन शारजाह में 24 अप्रैल 1998 को ऑस्ट्रेलिया का शातिर लेग स्पिनर भारतीय मास्टर ब्लास्टर के आगे नतमस्तक था। 
आखिर तीन दिन के अंदर दूसरी बार उनकी गेंदों की जमकर धुनाई हुई थी जिसे खुद वॉर्न ने भी स्वीकार किया था। कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में अहम योगदान देने वाले चिकित्सकों, नर्सों, चिकित्सा सहयोगियों, पुलिसकर्मियों, सैन्यकर्मियों और सफाईकर्मियों के सम्मान में तेंडुलकर ने हालांकि कल अपना 47वां जन्मदिन नहीं मनाने का फैसला किया है। लेकिन आज से 22 साल पहले तेंडुलकर ने अपने 25वें जन्मदिन का भरपूर जश्न भी मनाया था और इस बीच उन्हें दो अनोखे उपहार भी मिले थे। भारत ने तेंडुलकर के दम पर शारजाह में तब त्रिकोणीय श्रृंखला जीती थी। तेंडुलकर मैन ऑफ द सीरीज और फाइनल के मैन ऑफ द मैच बने थे लेकिन अपने जन्मदिन पर उन्हें सबसे बड़ा पुरस्कार किसी और ने नहीं बल्कि स्वयं वॉर्न ने दिया था। उन्होंने अपनी शर्ट निकाली और तेंडुलकर को उस पर आटोग्राफ देने के लिए कहा। यह उस टूर्नामेंट का यादगार क्षण बन गया था। तेंडुलकर को दूसरा बड़ा इनाम ऑस्ट्रेलिया के तत्कालीन कप्तान स्टीव वॉ ने दिया था जिन्होंने पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान कहा था कि उनकी टीम को भारत ने नहीं बल्कि सचिन तेंडुलकर ने हराया।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस की वजह से देश में 21 दिनों का लॉकडाउन चल रहा है। इसके बावजूद BCCI ने केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों की तिमाही बकाया राशि का भुगतान कर दिया। BCCI ने इसी के साथ आश्वस्त किया कि कोरोना वायरस की वजह से बनी अनिश्चितता के बावजूद वह किसी को परेशान नहीं होने देगा। कोरोना वायरस महामारी की वजह से वैश्विक अर्थव्यवस्था को गहरा धक्का लगा है। इसकी वजह से दुनियाभर में 1 लाख से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसे प्रमुख क्रिकेट बोर्ड ने खिलाड़ियों के वेतन में कटौती के संकेत दिए हैं। BCCI के एक अधिकारी ने कहा कि 24 मार्च को लॉकडाउन घोषित किया गया इसके बावजूद बोर्ड किसी भी परिस्थिति का सामना करने के लिए तैयार था। बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों की केंद्रीय अनुबंध भुगतान की तिमाही किश्त चुका दी है। उन्होंने कहा कि भारत या भारत-ए की तरफ से खेलने वाले सभी खिलाड़ियों की मैच फीस वित्तीय वर्ष के अंत तक चुका दी गई थी।इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी वेतन में कटौती के लिए तैयार हैं। ऑस्ट्रेलिया में केंद्रीय अनुबंध की घोषणा को टाला गया है जबकि इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने यॉर्कशायर के अपने साथियों सहित सरकारी अवकाश पर जाने के लिए आवेदन किया है। इसके तहत ब्रिटिश सरकार वेतन का 80 प्रतिशत का भुगतान करती है।

कराची। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान  ने गुरुवार को बड़ा दावा करते हुए कहा कि मैच फिक्सिंग में क्रिकेटरों के समान ही बोर्ड के अधिकारी भी जिम्मेदार हैं। यूट्यूब वीडियो में Rashid Latif ने कहा कि बोर्ड ने फिक्सिंग के आरोपी खिलाड़ियों का बचाव किया हैं। हम खिलाड़ियों को दोष देते हैं लेकिन क्या उन्हें बचाने वाले बोर्ड अधिकारी भी समान रूप से दोषी नहीं हैं।

Rashid Latif ने कहा, आईसीसी की एंटी करप्शन यूनिट खिलाड़ियों को कुछ लोगों से दूर रहने को कहती हैं लेकिन कोई ठोस कदम नहीं उठाती हैं। आईसीसी क्रिकेटरों को जिन लोगों से दूर रहने को कहती हैं, वे फ्रेंचाइजी आधारित लीग में उन्हीं लोगों की टीम की तरफ से खेलते हैं। यह एक बड़ी समस्या है, अब क्रिकेटर्स उन लोगों से दूर कैसे रह सकते हैं।

राशिद लतीफ ने कहा, मैं मैच फिक्सिंग में शामिल होने के लिए पूरी तरह से सिर्फ क्रिकेटर को ही दोषी नहीं मानूंगा। क्रिकेटर तो महज प्यादे होते हैं, बोर्ड के सदस्य उनका उपयोग करते हैं। फिक्सिंग में बोर्ड की बड़ी भूमिका होती है। यदि कोई बोर्ड मेंबर शामिल नहीं हैं तो खिलाड़ी को सजा दी जाती है। यदि बोर्ड का कोई बड़ा अधिकारी राजनीतिक संबंधों की वजह से शामिल हो तो ऐसे में खिलाड़ी को बचा लिया जाता हैं।

खेल डेस्क।  कोरोना वायरस को लेकर बस एक ही बात कही जा रही है कि अगर इस भयंकर वायरस से निजात पाना है सुरक्षित रहना है तो बस सावधानी ही एक उपाय है. इसलिए हर कोई बस एक ही बात कह रहा है कि घर के अंदर रहें सुरक्षित रहें और सोशल डिस्टेंस बनाकर रखें. बीते मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी ने पूरे देश में 21 दिन के लिए पूरी तरह से लॉक डाउन कर दिया है। जिसके बाद से कई क्रिकेटर भी अपने अपने अंदाज में इस लॉकडाउन  का समर्थन कर रहे हैं। और हर किसी को घरों में रहने की सलाह दे रहे हैं.


 कोरोना वायरस के इस कहर के बीच फिरकी गेंदबाज आर अश्विन ने भी अपनी आईपीएल की एक तस्वीर शेयर की है, जिसमें वो बॉल को स्टंप में लगा रहे हैं और एक बल्लेबाज क्रीज के बाहर है। इस तस्वीर को डालकर अश्विन ने एक खास संदेश भी ट्वीट किया है। जिसे लॉक डाउन से जोड़कर लिखा है अश्विन ने लिखा है किसी ने मुझे ये भेजा और बताया है कि आज ही के दिन एक साल पहले ये रन आउट हुआ था देश में लॉकडाउन है, नागरिकों को ये याद दिलाने का अच्छा तरीका है । बाहर न निकलें, अंदर ही सुरक्षित रहें.

खेल डेस्क। देश में लगातार बढ़ रहे कोरोनावायरस के प्रकोप के कारण इस साल आईपीएल होने की संभावना बेहद कम है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड बीसीसीआई हाल ही में टूर्नामेंट को 29 मार्च से 15 अप्रैल तक के लिए टाल दिया था। हालांकि, अभी यह भी तय नहीं है कि यह टूर्नामेंट होगा भी या नहीं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा कि मई के शुरुआत में आईपीएल कराने का आखिरा मौका रहेगा।  यदि ऐसा नहीं हुआ तो इस साल इसके होने उम्मीद नहीं है।  यदि ऐसा होता है तो बीसीसीआई को 2 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान होगा।


 जबकि हर एक फ्रेंचाइजी को 100-100 करोड़ की हानि हो सकती है। आईपीएल रद्द होने की स्थिति में फ्रेंचाइजी को मुआवजा भी नहीं मिलेगा। आईपीएल को लेकर बीसीसीआई और सभी फ्रेंचाइजियों के बीच मंगलवार को बैठक होनी थी। कोरोनावायरस के कारण इसे अगले हफ्ते तक के लिए टाल दिया गया है। इससे पहले खेल मंत्रालय ने भी साफ कर दिया है कि आईपीएल को लेकर कोई भी फैसला सरकार की अगली एडवाइजरी के बाद ही लिया जा सकता है। यह एडवाइजरी 15 अप्रैल के बाद जारी हो सकती है।

कोलंबो श्रीलंका के महान बल्लेबाज कुमार संगकारा ने कहा है कि उन्होंने फिलहाल खुद को अलग कर लिया है। कोविड- 19 के चलते श्रीलंका सरकार ने भी निर्देश दिए हैं कि यूरोप से लौटने वाले नागरिक खुद को अलग कर लें। सरकार और विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के इस हेल्थ प्रोटोकॉल के तहत संगकारा ने खुद को सेल्फ क्वॉरेंटाइन किया है।


संगकारा ने न्यूज फर्स्ट से कहा, मुझमें कोई लक्षण नहीं पाए गए हैं लेकिन मैं सरकार के निर्देशों का पालन कर रहा हूं। उन्होंने कहा, मैं एक सप्ताह पहले लंदन से आया और मैने देखा कि एक से 15 मार्च के भीतर विदेश से आने वालों के लिए पुलिस के पास रजिस्ट्रेशन कराना और खुद को अलग करना जरूरी है। मैंने पुलिस के पास रजिस्ट्रेशन करा लिया है।

संगकारा और पूर्वकप्तान महेला जयवर्धने सोशल मीडिया पर लोगों को घबराहट से बचने और सामाजिक दूरी बनाए रखने का आग्रह कर रहे हैं। श्रीलंका में कोविड- 19 के 80 मामले पॉजिटिव मिले हैं। इस बीच ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज जैसन गिलेस्पी भी इंग्लैंड से लौटने के बाद 2 सप्ताह के लिए सेल्फ क्वॉरेंटाइन में हैं।

नई दिल्ली।  अगर आज ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के सोशल मीडिया पेज फेसबुक और टि्वटर को देखें तो आज ही के दिन 23 मार्च वे 2003 में मिली वर्ल्ड कप जीत का जश्न मना रहे हैं। कंगारू टीम का यह जश्न भारत को आज भी एक टीस देता है क्योंकि फाइनल में टीम इंडिया को हराकर ही उसने यह वर्ल्ड कप खिताब अपने नाम किया था। पांच बार वनडे वर्ल्ड कप चैंपियन का खिताब अपने नाम कर चुकी  स्ट्रेलिया की यह तीसरी वर्ल्ड कप जीत थी।

सौरभ गांगुली की कप्तानी वर्ल्ड कप में उतरी टीम इंडिया उस दौरान शानदार लय में थी लेकिन भारतीय टीम वर्ल्ड कप चूमने से सिर्फ एक कदम दूर रह गई। साल 2003 में वर्ल्ड कप की मेजबानी साउथ अफ्रीका कर रहा था। टीम इंडिया इस विश्व कप के खिताबी मुकाबले में दुनिया की सभी टीमों को मात देकर ऑस्ट्रेलिया से भिड़ने उतरी थी। भारतीय टीम और उसके फैन्स को उम्मीद थी कि सौरभ गांगुली की कप्तानी में भारत एक बार फिर इतिहास रचेगा। 20 साल बाद भारत दूसरा विश्व कप खिताब जीतेगा।


 कि इस फैसले में इतना समय क्यों लग रहा है। उन्होंने लिखा, मैं जानता हूं कि इस अभूतपूर्व स्थिति में आपके जेहन में कई सवाल होंगे। मैं जानता हूं कि इस जज्बाती समय में इस तरह का व्यवहारिक रवैया आपको सही नहीं लगेगा। इस बीच विश्व ऐथलेटिक्स के अध्यक्ष सेबेस्टियन कू ने बाक को पत्र लिखकर कहा है कि जुलाई में ओलिंपिक करना ना तो संभव है और ना ही उचित। कू ने कहा, कोई भी नहीं चाहता कि ओलिंपिक स्थगित हों लेकिन हम खिलाड़ियों की सुरक्षा की कीमत पर खेल नहीं करा सकते।

चेन्नई। महेंद्रसिंह धोनी के नेतृत्व में टीम इंडिया ने अपने देश में 2011 में दूसरी बार आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप जीता था। युवराज सिंह इस वर्ल्ड कप में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुने गए थे। युवराज सिंह को 20 मार्च को चेन्नई में जबर्दस्त गर्मी की वजह से उल्टियां हो रही थी, उन्होंने इसके बावजूद वेस्टइंडीज के खिलाफ धमाकेदार शतक जड़ा था। एम चिदंबरम स्टेडियम में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने 51 रनों पर 2 विकेट खो दिए थे। इस विषम स्थिति में विराट कोहली और युवराज ने तीसरे विकेट के लिए 122 रनों की साझेदारी कर पारी को संभाला। 
विराट 59 रन बनाकर आउट हुए लेकिन युवी एक छोर पर जमे रहे। युवी को इस पारी के दौरान मैदान पर कई बार उल्टियां हुई लेकिन उन्होंने बल्लेबाजी करना जारी रखा। उन्होंने 10 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 113 रन बनाए। उनके शतक ले भारत ने 268 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा किया। इसके बाद भारतीय गेंदबाजों के सामने कैरेबियाई बल्लेबाज टिक नहीं पाए और भारत ने यह मुकाबला 80 रनों से जीता था। उन्होंने इसके बाद कहा था- मुझे पहले लगा था कि चेन्नई की गर्मी की वजह से मुझे उल्टियां हो रही हैं। मैं वर्ल्ड कप में शतक लगाना चाहता था, लेकिन ऐसा हुआ नहीं था क्योंकि मैं छठे क्रम पर बल्लेबाजी करता था। मैंने भगवान से प्रार्थना की थी कि भले ही मुझे कुछ भी हो जाए भारत को वर्ल्ड कप जीतना चाहिए। भारत ने मुंबई में हुए फाइनल में श्रीलंका को हराकर दूसरी बार वर्ल्ड कप खिताब हासिल किया था। युवराज ने इस वर्ल्ड कप में 362 रन बनाए और 15 विकेट लिए थे और वे प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुने गए थे। युवराज ने कैंसर से उबरने के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी की लेकिन इसके बाद वे ज्यादा समय तक टीम इंडिया की तरफ से नहीं खेल पाए थे। उन्होंने अपने इंटरनेशनल करियर में 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी20 मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया था। युवी ने 2007 में टी20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड के ओवर में छह गेंदों पर छह छक्के लगाए थे।

मेलबोर्न। टी-2- महिला विश्व कप के खिताबी मुकाबले में आस्ट्रेलिया ने भारत को 85 रनों से शिकस्त देकर ट्राफी की उम्मीद लगाए  करोड़ों भारतीयों के सपनों को चूर-चूर कर दिया. क्रिकेट की तीनों विधा – बैटिंग, बॉलिंग और फिल्डिंग में नाकाम भारतीय टीम 185 रन का पीछा करते हुए 20 ओवर खत्म होने से पहले ही महज 99 रनों में सिमट गई. मेलबोर्न के विश्वप्रसिद्ध एमसीसी क्रिकेट ग्राउंड में किसी भी महिला क्रिकेट मैच को देखने के लिए मौजूद 86,174 दर्शकों के बीच भारत की महिला टीम अपनी क्षमता के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाई. भारत की कमजोर गेंदबाजी और फिल्डिंग की वजह से आस्ट्रेलिया चार विकेट के नुकसान पर 184 रन बनाने में कामयाब रही.

बड़े स्कोर का जवाब देने के लिए उतरे भारतीय बल्लेबाज भी जरूरत के समय अपना प्रदर्शन नहीं कर पाए. पूरे टूर्नामेंट में टॉप फॉर्म में रही शैफाली वर्मा महज दो रन बनाकर आउट हो गई, तो वहीं जेसन की गेंद हेलमेट में लगने से चोटिल हुई तान्या भाटिया भी महज दो रन पर पेवेलियन लौट गई. कप्तान हरमनप्रीत कौर भी 4 रन ही बना पाई. आस्ट्रेलिया की ओर से सफल गेंदबाज मेगन शूट रहीं, जिन्होंने 18 रन देकर चार विकेट लिए, इसके अलावा जोनासेन ने 20 रन देकर 3 विकेट, मोलीनिक्स, कीमिन्स और केरी ने एक-एक विकेट लिए.

नई दिल्ली। भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने शुक्रवार को इतिहास रच दिया. टी-20 विश्वकप में इंग्लैंड के साथ सेमीफाइनल मैच रद्द होने की वजह से लीग मैच में मिले पाइंट के आधार पर भारत ने फाइनल में जगह बना ली. भारत के लीग मैच में 8 तो इंग्लैंड के 6 अंक थे. आस्ट्रेलिया के सिडनी शहर में टी-20 विश्वकप का सेमीफाइनल मैच ग्रुप ए की शीर्ष टीम भारत का मुकाबला ग्रुप बी की दूसरे नंबर की टीम इंग्लैंड से था. लेकिन बारिश की वजह से एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी. मैच नहीं होने की वजह से दोनों की टीमों को जहां निराशा मिली, वहीं दूसरी ओर रोमांचक मैच का इंतजार कर रहे दर्शकों को भी नाउम्मीदी मिली. इंग्लैंड की कप्तान हीथर नाइट ने मैच को रद्द करने के बाद चर्चा में कहा कि विश्व कप की यात्रा को इस तरह से समाप्त होते हुए नहीं देखना चाहते थे, लेकिन ऐसी स्थिति में आप कुछ नहीं कर सकते हैं. लीग मैच में साउथ अफ्रीका से मिली हार पर अफसोस जताते हुए उन्होंने कहा कि टॉस की वजह से वह मैच हमारे हाथ से चला गया. 

हम सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीद लगाए हुए थे, और हम सेमीफाइनल में पहुंचने में कामयाब भी हुए. भारतीय टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर ने मैच के बाद चर्चा में कहा कि मौसम की वजह से मैच नहीं हो पाना दुर्भाग्यपूर्ण है. लेकिन यही नियम है.बेहतर रहेगा कि भविष्य में रिजर्व डे रखना अच्छा रहेगा. पहले ही दिन से हमें मालूम था कि हम सभी गेम जीतने वाले हैं, नहीं तो सेमीफाइनल में मैच नहीं हो पाने पर हमारे लिए बहुत मुश्किल होता. ग्रुप ए के लीग मैच में भारत ने उद्घाटन मैच में आस्ट्रेलिया हो पराजित करने के बाद बांग्लादेश, श्रीलंगा और न्यूजीलैंड को पराजित कर पूरे आठ अंक हासिल किए. इस जीत में ओपनर शैफाली वर्मा और स्पिनर पूनम यादव के अलावा राजेश्वरी गायकवाड, राधा यादव और दिप्ती शर्मा का अहम योगदान रहा.

खेल।  47 दिन और 22 मैचों के बाद आखिरकार अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप का फाइनल मुकाबला सामने है। कल यानी रविवार 9 फरवरी को भारत और बांग्लादेश खिताबी जीत के लिए आमने सामने होंगी। यह मैच दक्षिण अफ्रीका के पोश्फेस्ट्रूम में भारतीय समय के अनुसार दोपहर 1.30 बजे शुरू होगा। सेमीफाइनल में भारत ने पाकिस्तान को बड़ी आसानी से 10 विकेट से हराया था। बांग्लादेश ने न्यूजीलैंड के खिलाफ शुरुआती मुश्किलों के बाद जीत हासिल की। बांग्लादेश पहली बार अंडर-19 विश्व कप के फाइनल में पहुंचा है। यहां हम आपको पिच और मौसम रिपोर्ट के अलावा फाइनल मैच के लिए दोनों टीमों की संभावित प्लेइंग 11 की जानकारी दे रहे हैं। 


पिच और मौसम रिपोर्ट  सेन्यूस पार्क पोश्फेस्ट्रूम का यह वही मैदान है, जहां भारत ने पाकिस्तान को सेमीफाइनल में करारी शिकस्त दी थी। मैदान से कुछ दूरी पर मूई नदी है। यहां तेज हवा चलती है जिसकी वजह से तेज गेंदबाजों को मदद मिलती है। इस विकेट पर शुरुआत में तेज गेंदबाजों को मदद मिलती है। हालांकि, कुछ वक्त बाद उछाल कम हो जाता है और बल्लेबाज स्ट्रोक्स खेल सकते हैं। इस विकेट पर 270 का स्कोर किया जा सकता है। पिछले मुकाबले में पाकिस्तान ने सिर्फ 172 रन बनाए थे। भारत 10 विकेट से जीता था। इस मैच बारिश खलल डाल सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक, मैच में बारिश होने की 50 प्रतिशत आशंका है। तापमान करीब 20 डिग्री सेल्सियस रहेगा।  

भारतीय टीम में बदलाव की संभावना कम इस बात की संभावना कम ही है कि भारतीय टीम में कोई परिवर्तन होगा। यानी पाकिस्तान के खिलाफ 10 विकेट से जीत हासिल करने वाली टीम ही इस मैच में उतर सकती है। भारतीय टीम के मिडल ऑर्डर बल्लेबाजों को चौकन्ना रहना होगा क्योंकि बांग्लादेश के पास अच्छे स्पिनर हैं।  ये हो सकती है टीम इंडिया की प्लेइंग XI यशस्वी जयसवाल, दिव्यांश सक्सेना, तिलक वर्मा, प्रियम गर्ग (कप्तान), ध्रुव जुरेल (विकेटकीपर), सिद्धेश वीर, अथर्व अंकोलेकर, रवि बिश्नोई, सुशांत मिश्रा, कार्तिक त्यागी और आकाश सिंह।  और ये हो सकती है बांग्लादेश की प्लेइंग XI परवेज हुसैन इमॉन, तंजीद हसन, महमूद-उल-हसन जॉय, तौहीद हिरीदॉय, शहादत हुसैन, अकबर अली (कप्तान और विकेटकीपर), शमीम हुसैन, रकीबुल हसन, शोरीफुल इस्लाम, तंजीम हसन शाकिब और हसन मुराद।  

भारत और श्रीलंका के बीच 3 मैच की टी-20 सीरीज का दूसरा मुकाबला इंदौर में खेला गया, जहां भारतीय टीम ने श्रीलंका को करारी शिकस्त दी, और मैच में 7 विकेट से जीत दर्ज की.श्रीलंका ने टीम इंडिया के सामने जीत के लिए 143 रन का टारगेट रखा था जिसे भारतीय टीम ने आसानी से 17.3 ओवर में 3 विकेट खोकर हासिल कर लिया.भारतीय टीम ने श्रीलंका को सीरीज के दूसरे टी-20 मैच में आसानी से हरा दिया, 143 रन के टारगेट को भारतीय टीम ने 17.3 ओवर में 3 विकेट खोकर हासिल कर लिया, और 144 रन ठोक दिए. टीम इंडिया के बल्लेबाजों में पारी की शुरुआत करने लोकेश राहुल और शिखर धवन उतरे जहां लोकेश राहुल ने 32 गेंद में 45 रन बनाए तो वहीं शिखर धवन ने 29 गेंद में 32 रन की पारी खेली. तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए श्रेयस अय्यर मैदान पर उतरे जहां अय्यर ने 26 गेंद में 34 रन की पारी खेली अपनी इस पारी में अय्यर ने 3 चौका और 1 सिक्सर लगाया.मैच में कप्तान विराट कोहली 17 गेंद में 34 रन बनाकर नाबाद रहे कोहली ने अपनी इस पारी में 1 चौका और 2 सिक्सर लगाया, इसके अलावा रिषभ पंत 1 गेंद में 1 रन बनाकर नाबाद रहे मैच में टीम इंडिया ने टॉस जीता था और पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया, जहां श्रीलंका टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 9 विकेट खोकर 142 रन बनाए. और भारतीय टीम के सामने 143 रन का टारगेट सेट किया था.

नई दिल्ली।  भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह चोट से उबरकर श्रीलंका के खिलाफ होने वाली तीन टी20 मैचों की सीरीज से मैदान पर वापसी करने वाले हैं। यह सीरीज 5 जनवरी से शुरू होने वाली है। बुमराह ने साल के अंतिम दिन ट्वीट कर इस साल को यादगार बताया और अब उनकी निगाहें अगले साल पर टिक गई हैं। बुमराह ने छह फोटोज का कोलाज ट्विटर पर पोस्ट कर लिखा, साल 2019 उपलब्धियों भरा रहा। इस साल मैदान के अंदर और बाहर सीखने को मिला, कड़ी मेहनत की और यादें बनाने को मिली। साल के अंतिम दिन मैं अगले साल यानी 2020 में जो कुछ भी दांव पर होगा उसे हासिल करने को बेताब हूं। बुमराह ने जो फोटोज शेयर की है उनमें पहली फोटो आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 की है, इस टूर्नामेंट में उनका प्रदर्शन अच्छा रहा था। दूसरी फोटो वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीतने के बाद की हैं। तीसरी फोटो 2019 की आईपीएल ट्रॉफी के साथ है जो उन्होंने मुंबई इंडियंस टीम के खिलाड़ी के रूप में जीती थी। इसके बाद तीन फोटोज मैदान में विकेट लेने के बाद जश्न मनाने की है।

 भारत में इन दिनों रणजी क्रिकेट का रोमांच चल रहा है, जहां कई टीमों से भारतीय टीम के दिग्गज क्रिकेट स्टार खेल रहे हैं जो इस क्रिकेट को और भी दिलचस्प बना रहा है, आज दिल्ली और हैदराबाद के बीच मुकाबला खत्म हुआ जहां दिल्ली की टीम ने शानदार अंदाज में बड़ी ही आसानी से हैदराबाद की टीम को हरा दिया, तो इस जीत में शिखर धवन और ईशांत शर्मा का बड़ा रोल रहा, क्योंकि बल्लेबाजी में जहां ईशांत शर्मा ने पहली ही पारी में शानदार शतक ठोक दिया तो वहीं ईशांत शर्मा ने मैच के दोनों ही पारियों में 4-4 विकेट लेकर दिल्ली की टीम को हैदराबाद खिलाफ बड़ी जीत दर्ज करने में अहम रोल अदा किया.