Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



पूरब टाइम्स, भिलाई। लौह नगरी में डेंगू का लार्वा मिलने से रिसाली निगम का स्वास्थ्य अमला अलर्ट मोड पर आ गई है। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों द्वारा निगम वार्डों में घर-घर पहुंचकर टेमीफास की बोतलें व क्लोरिन टेबलेट युद्धस्तर पर बांटी जा रही है। रिसाली निगम आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे के निर्देश पर टेमीफास के बोतल के अलावा स्वास्थ्य अमला द्वारा प्रत्येक घरों में पहुंचकर कूलर में जमा पानी को खाली कराकर डेंगू नाशक दवाई का भी छिड़काव किया जा रहा है।


डेंगू के लार्वा पनपने का उपयुक्त स्थल कूलर, टायर, पोखर,  टूटे फूटे बर्तन, रेनवाटर हार्वेस्टिंग स्थल, गढ्डों में जमा पानी व अन्य अनुपयोगी पात्रों में पानी का जमाव न हो इसकी जानकारी स्वास्थ्य अमला के कर्मचारी घरों तक पहुंचकर आमजन को दे रहे है। आयुक्त के निर्देश एवं नोडल अधिकारी रमाकांत साहू के मार्गदर्शन में निगम के स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों द्वारा बोरिंग एवं नलकूप के आस-पास पानी के जमाव स्थल तथा नालियों की सफाई उपरांत मोबाइल ऑयल व मलेरिया ऑयल व कैरोसीन तेल के मिश्रण का भी व्यापकता के साथ छिड़काव किया जा रहा है।


इसके अतिरिक्त फागिंग मशीन  द्वारा मच्छर उन्मूलन कीटनाशक दवाओं का छिड़काव कार्य निगम के सभी वार्डों में तेजी लाने के सख्त निर्देश निगम आयुक्त ने स्वास्थ्य अधिकारी जगरनाथ कुशवाहा व स्वच्छता निरीक्षक बृजेन्द्र परिहार को दिए है। रिसाली निगम आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे ने क्षेत्र के रहवासियों से अपील की है कि बारिश के मौसम में जनजनित बीमारी से बचाव हेतु उबले हुए पानी पीये, घर के आस पास पानी जमा न होने दे तथा घर मे रखे अनुपयोगी पात्रों जहां मच्छर पनपने की संभावनाए बनी रहती है की साफ-सफाई रखे।

पूरब टाइम्स रिसाली। कलेक्टर डाॅ. सर्वेश्वर नरेन्द्र भूरे ने आज रिसाली हाई स्कूल प्रांगण में स्वामी आत्मानंद शासकीय अंग्रेजी व हिन्दी माध्यम स्कूल के लिए चल रहे रिनोवेशन कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने आवश्यकता को देखते हुए 13 अतिरिक्त कमरा निर्माण कराने निगम अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जहां पर अंग्रेजी माध्यम हेतु 28.12 लाख का जिला खनिज न्यास मद से एवं 43 लाख लोक शिक्षण संचनालय मद से निर्माण की जाएगी। इसके लिए स्कूल परिसर के बांयी ओर स्थित भवन के प्रथम तल पर 8 कमरो का निर्माण तथा शाला परिसर के अंतिम छोर पर बने भवन के प्रथम तल पर 5 कमरो का निर्माण कराने का निर्णय लिया गया। इस तरह हिन्दी के साथ ही अंग्रेजी माध्यम से अध्ययन की व्यवस्था को बेहतर तरीके से सुनिश्चित करने के लिए 13 नये कमरो का अतिरिक्त निर्माण कराने पर सहमति जताई गई।

निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री भूरे ने अंग्रेजी व हिन्दी माध्यम में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के लिए पृथक से बैठने की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इस दौरान कलेक्टर ने शाला परिसर के बायी ओर स्थित भवन में फर्सीकरण कार्य कड़पा टाइल्स से सुसज्जित करे एवं स्कूल परिसर के बायी और दायी ओर के भवनों के प्रथमतल पर एलीवेशन का समरूपता बनाए रखने के भी निर्देश निगम अधिकारियों को दिए।  

इसी कड़ी में रसायन शास्त्र प्रयोग शाला को यथावत रखते हुए भौतिकी और जीव विज्ञान के लिए पृथक से प्रयोगशाला निर्माण कराने का आदेश कलेक्टर श्री भूरे ने निगम अधिकारियों को दिए। साथ ही साथ कलेक्टर ने शाला परिसर से बाहर की सड़क से 10 मीटर अंदर वक्राकार प्रवेश द्वारा बनाने का निर्देश भी निगम अधिकारियों को दिए है। निरीक्षण के दौरान निगम आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे, एडीएम नुपुर रश्मि पन्ना, निगम के कार्यपालन अभियंता सुशील कुमार बाबर, सहायक अभियंता बी के सिंह, जनसंपर्क अधिकारी शैलेष साहू, उपअभियंता अखिलेश गुप्ता, हिमांशु कावड़े, गोपाल सिन्हा, रिसाली हाई स्कूल के प्राचार्य पी रमेश, प्रधान पाठक देवेन्द्र तिवारी, व्याख्याता संजय देशमुख आदि उपस्थित थे।




पूरब टाइम्स,दुर्ग। नगर निगम दुर्ग के द्वारा निर्मित व आबंटित किये जाने वाले, उरला स्थित आईएचएसडीपी आवासों के निर्माण के समय से, फिर निर्माण समाप्त होने से, आबंटन तक, समय-समय पर अनियमितताएं उजागर हुई थीं व निगम प्रशासन के संज्ञान में आ गईं थी. कभी किसी आयुक्त ने तो कभी किसी महापौर ने उन गड़बड़ियों की जांच की बात की. अनेक बार जांच हुईं पर उन्हें पारदर्शी तरीक़े से पब्लिक डोमेन में नहीं लाया गया. निगम की विज्ञप्तियों के द्वारा निगम के पीआरओ ने चतुराई से, अनेक असल परिणामों को जनता के सामने आने से छिपा लिया. बताया गया कि दोषी ठेकेदार पर कार्यवाही की अनुशंसा की गई पर यह नहीं बताया गया कि अभी तक किस ठेकेदार व निगम के इंजीनियर से आज तक कितनी रिकवरी की गई. हालात ये बने कि वहां के आबंटियों के बार बार शिकायतों व राजनीतिक दबाव के चलते, फिर से निगम द्वारा से खर्च किये गये. कार्य होने के बाद, निगम पीआरओ द्वारा यह भी नहीं बताया गया कि निगम को कितने रुपयों की अतिरिक्त चोट पड़ी ? इसके बाद आईएचएसडीपी आवासों के आबंटन व अवैध कब्ज़े का खेल चला. बताया जाता है कि इनमें भी लाखों रुपयों के लेन देन का खेल चला. मीडिया में भी अवैध कब्ज़े का मामला उठा परंतु जान बूझ कर निगम आयुक्त ने कोई कार्यवाही नहीं की.  हालात ऐसे हैं कि अब सरे आम जनता, दुर्ग निगम के आयुक्त व अधिकारियों की तरफ उंगलियां उठा रही है. पूरब टाइम्स की एक खबर ...


उरला स्थित आईएचएसडीपी आवास के निरीक्षण के लिए कब पहुंचेगे आयुक्त, क्योंकि इस आवासीय योजान्तर्गत मकान आबंटित करवाने वाले स्थानीय रहवासियों की समस्याओं का पुलिंदा शिकायत के रूप स्थानीय लोगों ने नगर पालिक निगम दुर्ग के आयुक्त के सामने रख दिया है. यहां प्रत्येक ब्लाक में दो-तीन लोगों ने आवास में व्याप्त समस्याएं बताई हुई है. सफाई, नाली, पानी और अवैध कब्जे जैसे गंभीर आरोप की शिकायत इस योजना के हितग्राहियों ने की है. महापौर धीरज बाकलीवाल, निगम आयुक्त हरेश मंडावी , निगम अधिकारियों को यहां को समस्याओं का निराकरण करने का आदेश कब देंगे ? इसका इंतजार सभी को है. अवैध कब्जा एंव बिना आबंटन के लोगो ने यह मकान खरीदे जाने के मामले सामने आ रहे है लेकिन दुर्ग निगम के आयुक्त और महापौर इन गंभीर आरोपों वाली शिकायतों का संज्ञान नहीं ले रहे है और दुर्ग निगम की छवि को धूमिल कर रहे हैं.


उरला स्थित आईएचएसडीपी योजना के तहत आंबटित आवासीय योजना क्षेत्र ने 25 ब्लाक है. लोगों ने बताया कि इन ब्लाक में पानी निकासी के लिए बनाए गए गटर और नालियां सफाई व्यवस्था के अभाव में समय-समय पर जाम हो जाती है. जिसके कारण बारिश में पानी नालियों से बाहर आ जाता है. यही नहीं, यहां पेयजल की समस्या भी बनी हुई है. पेय जल की आपूर्ति अपेक्षा अनुसार नहीं होती है जिसके कारण लोग कठिनाइयों का सामना कर रहे है. रहवासियों ने यह भी बताया कि यहां पर ऐसे आवास जो आबंटित नहीं किए गए है, इनमें से कुछ घरों में लोगों ने अवैध कब्जा कर लिया गया है. कई लोगों ने चंद पैसो में आंबटित मकान को मूल लिज धारी से खरीद लिए है. कुछ घरों में खिड़की और दरवाजा भी नहीं लगाया गया है. कॉलोनी परिसर में कुछ लोग अवैध कब्जा कर, अस्थायी दुकान बनाकर, कारोबार भी कर रहे हैं. ऐसी गंभीर समस्याओं से ग्रसित शासकीय योजना की आवासीय कालोनी शासन की छवि को धूमिल करने का कारण बन गई है लेकिन दुर्ग निगम के महापौर और आयुक्त इस मामले को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं.


नगर पालिक निगम दुर्ग का राजस्व विभाग का अमला आईएचएसडीपी आवास में जबरन घुसे अवैध कब्जाधारियों को चिन्हाकित करने की पदेन जिम्मेदारी का निर्वहन करने में कर्तव्य निष्ठा नहीं दिखा रहा है इसलिए बिना आबंटन के आवास खरीदने वालो पर निगम अपना ताला कब लगाएगा ? यह प्रश्न अनुत्तरित रह जा रहा है . लोगो का कहना है एक व्यक्ति द्वारा दो-दो ब्लॉक का उपयोग करने के भी उदाहरण इस आवासीय कालोनी में है . कुछ लोग ब्लॉक के पीछे भी कब्जा करके बैठे है . बहुत से आंबटित मकानों किरायेदारो का कब्जा है. अपने ही आवास में नहीं रहते आबंटनधारी जैसी कई समस्याएं यहां घर कर गई है.

उल्लेखनीय है कि विगत दिनों जिला कलेक्टर जनदर्शन में शिकायत मिली थी कि उरला स्थित आईएचएसडीपी आवासों में अवैध लोगों ने जबरन कब्जा कर निवास कर रहे हैं। एैसे लोगों की पतासाजी के लिए पूर्व निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन के निर्देशानुसार निगम कर्मचारियों से सर्वे कराया गया था। जिसमें लगभग 55 लोगों का नाम सामने आया था।  जिसमें से अधिकांशन आवास आबंटितियों ने आवास आबंटन कर किराये पर दे रखा था। निगम कर्मचारियों ने एैसे लोगों को चिन्हित कर सूची तैयार कर अपना ताला लगाकर तालाबंदी किया गया था लेकिन अब निगम का राजस्व विभाग व अमला आयुक्त के स्पष्ट निर्देश के बाद भी कार्यवाही करने के इंतजार में है ? क्या आगे भी सिर्फ फोटो बाजी कर निगम का राजस्व विभाग बिना कार्यवाही किये वापस आएगा या फिर उचित व कड़ी कार्यवाही की जाएगी.@GI@)


उक्त निर्देश के परिपालन में निगम उपायुक्त अशोक द्विवेदी के द्वारा आज कार्यालयीन समय प्रातः 10ः30 बजे स्वयं उपस्थित होकर निर्धारित कार्यालयीन समय पर उपस्थित नहीं होने वाले 41 कर्मचारियों को कारण बताओं सूचना पत्र जारी किया गया। तथा समस्त विभाग प्रमुखों को भी निर्देशित किया गया कि वे अपने-अपने विभाग के कर्मचारियों की उपस्थिति कार्यालयीन समय पर हो ऐसे व्यवस्था सुनिश्चित करें। भविष्य में इस प्रकार की लापरवाही किये जाने पर विभाग प्रमुखों के उपर भी कार्यवाही सुनिश्चित की जावेगी.

नगर पालिक निगम भिलाई के आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने समीक्षा बैठक के दौरान समस्त मुख्य कार्यालय के विभाग प्रमुख एवं समस्त जोन आयुक्त जोन क्र.01,02,03,04 एवं 05 को सख्त निर्देश देते हुए कहा की स्वयं एवं अधिनस्थ कर्मचारियों की उपस्थिति कार्यालयीन समय पर हो ऐसा सुनिश्चित करें। विलंब से आने वाले कर्मचारियों के संबंध में मुझे अवगत करावे.

कर्मचारियों के निर्धारित समय में उपस्थित नहीं होने के कारण कार्यालयीन कार्य प्रभावित होने के साथ-साथ आम नागरिकों को भी अनावश्यक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जिससे कार्यालयीन कार्य प्रभावित होता है। निगम के समस्त विभाग प्रमुख एवं कर्मचारियों को सख्त निर्देश जारी करते हुए कहा की भविष्य में इस प्रकार के पुनरावृत्ति होने पर वेतन कटौती के साथ-साथ निलंबन की भी कार्यवाही की जावेगी.  



पूरब टाइम्स,दुर्ग। छत्तीसगढ़ स्टेट पाॅवर डिस्ट्रीब्यूषन कंपनी लिमिटेड दुर्ग क्षेत्र के कार्यपालक निदेशक संजय पटेल 33/11 के.व्ही.उपकेंद्र जेवरा-सिरसा एवं हथखोज के कार्यों का जायजा लेने पहुंचे। पटेल ने क्षेत्र में चल रहे कृशि पंपों के विद्युतीकरण एवं इंडस्ट्रियल फीडर मेंटेनेंस के कार्यों का जायजा लिया। उनके द्वारा अधिकारियों से लो वोल्टेज संबंधी समस्याओं को दूर करने एवं कृशि पंप के कार्यो को जल्द से जल्द पूर्ण करने के निर्देष दिए।

निरीक्षण के दौरान कार्यपालक निदेषक द्वारा सबस्टेषनों के उचित रख-रखाव से संबंधित निर्देष अधिकारियों को दिए गए। उन्होंने उपभोक्ता षिकायतों पर त्वरित निराकरण की कार्यवाही करने के निर्देष दिए। पटेल ने सभी फीडरों पर चलने वाले विद्युत लोड की जानकारी लेकर निर्बाध विद्युत व्यवस्था बनाए रखने के आवष्यक दिषा-निर्देष अधिकारियों को प्रसारित किए। 

सबस्टेषनों के अंतर्गत आने वाले समस्त ग्रामों के विद्यमान विद्युत उपकरणों एवं 33/11 के.व्ही.लाइनों के उचित रखरखाव, वितरण ट्रांसफार्मरों की यथास्थिति के बारे में विस्तृत जानकारी ली। विद्युत व्यवस्था के परिप्रेक्ष्य में उन्होंने कहा कि वितरण ट्रांसफार्मरों एवं लाइनों के उपकरणों पर सतत निगरानी रखी जाए एवं विफल होने की स्थिति में इन्हें बदलने की त्वरित कार्यवाही हो। 

पटेल ने कार्यालय में उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाते हुए कार्यालय में पर्याप्त दूरी बनाकर बैठने, मास्क एवं हैंड सेनेटाइजर का अनिवार्यतः उपयोग करने एवं जल्द से जल्द टीका लगवाने की सलाह दी। पटेल ने कर्मचारियों से कहा कि बिल जमा करने आने वाले उपभोक्ताओं को ऑनलाइन पेमेन्ट या मोर बिजली एप के माध्यम से भुगतान करने हेतु प्रेरित करें। 

उन्होंने अभियंताओं को निर्देषित करते हुए कहा कि सभी उपकेंद्रों एवं वितरण केंद्रों के दीवारों में वहां पदस्थ अधिकारियो एवं कर्मचारियों के दूरभाश नंबर चस्पा करें जिससे कि उपभोक्ताओं को किसी भी प्रकार की समस्या ना हो। इस दौरान अधीक्षण अभियंता ए.के.गौराहा एवं एस.आर.बांधे, कार्यपालन अभियंता अजीत कुमार बिजौरा, सहायक अभियंता नवीन साहू, एस.के.कुमार एवं मनीश अग्रवाल तथा कनिश्ठ अभियंता दिनेष गुप्ता आदि उपस्थित थे। 


मंगलवार सुबह सड़क किनारे पर नालियों की सफाई की गई. इससे जलभराव की समस्या नहीं होगी. नगर निगम के अधिकारियों के अनुसार छोटे-बड़े  प्रमुख नालियों की सफाई शुरू कराई गई है. दैनिक पूरब टाइम्स, की खबर के बाद वार्ड पार्षद ने नगर निगम के सफाई कर्मचारियों ने बारिश में जलभराव न हो इसके लिए निर्देश दिए परिणाम स्वरूप वार्ड 10, 11,में सफाई का कार्य प्रारंभ हो गया है बताया जा रहा है कि वार्ड वासियो को सुबह 7 बजे उठा कर सुपरवाइजर द्वारा वार्ड की समस्याओं की जानकारी ली गई और बताया गया की अब मोहल्ले में सफाई की कोई दिक्कत नही आएगी.@GI@

समस्याओं का तत्काल निराकरण का प्रयास किया जाएगा जिसके कारण सभी मे उम्मीद जग गई है उल्लेखनीय है कि वार्ड मे नाली के चौड़ीकरण का कार्य नही हुआ है इसलिए पानी का बहाव सड़को पर आ जाता है. सुपरवाइजर ने वार्ड वासियो से कहा कि अपने वार्ड पार्षद से बोल कर नाली चौडिकर का कार्य करवा लें आस्वासन में यह भी कहा कि अब 3 से 4 दिनों में नाली सफाई का कार्य किया जाएगा.  




पूरब टाइम्स दुर्ग। शहर की ओव्हरहेड टैंक व समवेल से जनता को शुद्ध पेयजल मिलने हेतु सफाई अभियान की शुरुवात की गई है। सफाई के दौरान टंकियों में जमे मड को  रोटरी जेड मशीन के माध्यम से मेकनाइज वाटर टैंक क्लीनिंग सिस्टम से साफ किया जा रहा है। पश्चात अल्ट्रावायलेट लैप का उपयोग करते हुए सोडियम हाइपोक्लोराइड का घोल बनाकर डाला जाएगा। जिससे वह एंटीबैक्टीरियल का कार्य करेगा। हर घर-घर में रोगाणुमुक्त पानी पहुंचेगा। यह कार्य निगम क्षेत्र के 11, 24 व 42 एमएलडी फिल्टर प्लाट से संबंधित सभी टैकों में किया जाएगा। आज पद्मनाभपुर जनता मार्केट पानी टंकी से इसकी शुरुवात की गई। जनता की मांग पर गंदे पानी से छुटकारा दिलाने की बार-बार शिकायत आमजन से विधायक अरुण वोरा व महापौर धीरज बाकलीवाल को मिल रही थी। 

इस दौरान टैंको की सफाई के संबंध में विधायक वोरा ने कहा कि जनहित में जलजनित बीमारी पीलिया, डायरिया जैसे संक्रामक रोग से बचाव हेतु समय-समय पर निगम के द्वारा संपूर्ण पानी टंकी की सफाई बिना विलंब के कराया जाना आवश्यक है। नगर निगम का दायित्व है कि गंदे पानी का निदान आवश्यक सेवा में शामिल है जिसका निराकरण शीघ्र किया जाना चाहिए। महापौर बाकलीवाल ने कहा कि कंपनी द्वारा टंकियों की सफाई प्रति वर्ष नियमित की जा रही है। जिससे वार्ड से संबंधित टंकी से पानी सप्लाई प्रभावित हो सकती है। अत: ओव्हरहेड टैंक व समवेल सफाई के दौरान संबंधित क्षेत्र के निवासियों से अपील है कि पानी का संग्रहण कर लेवें। पानी टंकी सफाई कार्य निरीक्षण में एल्डरमेन राजेश शर्मा, संजय धनकर, संजू श्रीवास्तव, आशीष नसीने आदि उपस्थित थे। 

पूरब टाइम्स, दुर्ग। बरसात के मौसम में शुरुवाती एक घंटे की बारिश से दुर्ग शहर के कई वार्डो का जन जीवन अस्त व्यस्त हो चुका है. दुर्ग के पार्षदों से मतदाता नाराज नजर आये क्योंकि जब पहली ही बरसात में दुर्ग के रास्ते पानी मे डूब गए तो लोगो ने शिकायत की तो अधिकांश पार्षदों ने बहाने बनाएं ऐसे ही पार्षद शेखर चंद्राकर, वार्ड व आम नागरिकों से मदद के लिए नदारत रहे. वार्ड 10 के लोगो का कहना है कि हर साल यही स्तिथि रहती है वार्ड की नाली सड़को का बुला हाल है. वही वार्ड के लोगो ने इस समस्या के लिए कई बार वार्ड पार्षद शेखर चंद्राकर से शिकायत की लेकिन आश्वसन में यही जवाब मिला, दुर्गा चौक के समीप नाले की सफाई का कार्य चल रहा है अब आगे से किसी वार्ड में पानी नही भरेगा..? इस आश्वासन से वार्ड वासी परेशान नजर आये@GI@



वार्ड वासियों ने बताया नाली के कार्य व सड़क अब तक ठीक से नही बनी है, कई वार्डो की सड़कें एक साल बनने के बाद भी दुबारा नही बनी है, वही वार्डो में सीसीटीवी कैमरा भी नही लगा है. अमृत मिशन के तहत नल खोदाई के बाद से सड़कों का बुरा हाल हो गया. नालियों की स्तिथि भी खराब है. अब देखने वाली बात होगी क्या वार्ड 10 के पार्षद शेखर चंद्राकर इस समस्या से वार्ड वासियो को निजात दिला पाएंगे.

शंकर नगर में हर वर्ष बारिश से वार्ड पानी-पानी हो जाता है आने जाने में काफी दिक्कतें आती है, ज्यादा पानी आने से लोगो के घरों में पानी चला जाता है, अगर किसी की तबियत खराब हो गई दु पहिया वाहन से लेकर जाना मुश्किल हो जाता है, वार्ड 10 की समस्या नही है, वार्ड 12,11,13, में भी ऐसी ही स्तिथि बनी रहती है. नगर निगम इस समस्या से हमे कब निजात दिलाएंगे यह तो भगवान ही मालिक है. (डॉ. संजय सिंग सेंगर)@GI@

पूरब टाइम्स दुर्ग।  मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल से आज उनके निवास कार्यालय में स्टील अर्थारिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड की चेयरमेन  सोमा मंडल ने सौजन्य मुलाकात की। मुख्यमंत्री  और सेल की चेयरमेन  मंडल के मध्य सेल के अधिकारियों का 2017 से पे-रिवीजन और कर्मचारियों का वेज रिवीजन लागू करने, बीएसपी के कर्मचारियों की नियुक्ति में छत्तीसगढ़ के मूल निवासियों को वरियता प्रदान करने, उनका कौशल उन्नयन करने प्रशिक्षण देने, बीएसपी क्षेत्र में स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों की स्थापना करने, सेक्टर-9 अस्पताल में सुविधाओं का विकास कर सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल का निर्माण करने, बीएसपी आवासीय क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति सीएसईबी के माध्यम से करने तथा भिलाई की धार्मिक-सांस्कृतिक एवं सामाजिक संस्थाओं को आवंटित भूमि के लीज नवीनीकरण की दर को घटाने के विषयों पर चर्चा हुई।

 मुख्यमंत्री ने कहा कि सेल और छत्तीसगढ़ का विकास परस्पर जुड़ा हुआ है। अब तक इसी परस्परता और सहयोग से दोनों आगे बढ़ते हैं, समय के साथ-साथ यह वातावरण और भी बेहतर हुआ है। उन्होंने राज्य शासन की ओर सेल को हर आवश्यक सहयोग देने का आश्वसन दिया साथ ही उम्मीद व्यक्त की कि छत्तीसगढ़ प्रदेश और यहां के लोगों के हित से जुड़े मुद्दों पर सेल से भी पूर्व की भांति सहयोग मिलता रहेगा।  सेल की चैयरमेन ने भी राज्य सरकार की ओर से मिल रहे सहयोग के लिये आभार जताया। इस अवसर पर खनिज साधन विभाग के सचिव  अन्बलगन पी. तथा स्टील एग्जीक्यूटिव फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष  नरेंद्र कुमार बन्छोर भी उपस्थित थे।

पूरब टाइम्स दुर्ग।  शहर के पटेल चौक से ग्रीन चौक, मिनीमाता से जेल तिराहा व मालवीय नगर से गौरव पथ, गुरुद्वारा रोड एवं गांधी चौक से ठगड़ाबांध के सभी सड़के लोक निर्माण विभाग के अंतर्गत निगम क्षेत्र की महत्वपूर्ण सड़को पर लगातार यातायात के बढ़ते दबाव से होने वाली दुर्घटना व जनहानि से बचाव हेतु रोड डामरीकरण, चौड़ीकरण व इन्हे फोरलेन के निर्माण का नया प्लान तैयार करवाकर राजधानी में प्रदेश मुखिया मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से लोक निर्माण विभाग में सीजीआरडीसी से स्वीकृति के साथ ही 12 सड़को के अंतर्गत पोल्ट्री फार्म पहुंच मार्ग लं. 1.50 कि.मी., पुराना पुलिस लाईन पहुंच मार्ग  लं. 0.570 कि.मी., न्यू सिविल लाईन पहुंच मार्ग 1.815 कि.मी., पुराना सिविल लाइन पहुंच मार्ग लं. 0.550 कि.मी., शासकीय भवन पहुंच मार्ग लं. 2.675 कि.मी., कसारीडीह सिविल लाईन पहुंच मार्ग लं. 1.630 कि.मी., पॉलीटेक्निक पहुंच मार्ग लं. 1.570 कि.मी., साइंस कॉलेज पहुंच मार्ग लं. 0.385 कि.मी., सर्किट हाउस पहुंच मार्ग लं. 1.230 कि.मी., न्यू पुलिस लाईन पहुंच मार्ग लं. 1.915 कि.मी., मानस भवन पहुंच मार्ग लं. 0.410 कि.मी., पांच बंगला पहुंच मार्ग लं. 3.50 कि.मी.  का उन्नयन की मांग करते हुए वरिष्ठ विधायक अरुण वोरा ने स्मार्ट सिटी की लक्ष्य को प्राप्त करने हेतु 50 करोड़ की मांग महानगर की तर्ज पर दुर्ग शहर में विकास कार्य करवाने के लिए सहमति मांगी। भविष्य में जनसुरक्षा के लिए किसी भी तरह का हादसा होने की आशंका को देखते हुए मुख्यालय में आवश्यक विकास कार्यो को किए जाने से मुख्यालय पहुंचने में ना सिर्फ आवागमन में सुविधा होगी अपितु समय की भी बचत होगी।   

पूरब टाइम्स दुर्ग।   नगर पालिक निगम दुर्ग के पटरीपार क्षेत्र में निरंतर विकास और निर्माण कार्य प्रगति पर है इस दिशा में आज विधायक अरुण वोरा  महापौर धीरज बाकलीवाल ने वार्ड पार्षद शिवेन्द्र परिहार एवं वार्ड नागरिकों की मांग पर आंगनबाड़ी भवन का लोकार्पण और साकेत कॉलोनी नरसिंह बिहार में सीमेंट सड़क और नाली निर्माण का भूमि पूजन किया गया ।  कार्यक्रम में सभापति राजेश यादव सामान्य प्रशासन विभाग प्रभारी  जयश्री जोशी लोक कर्मों प्रभारी अब्दुल गनी महिला एवं बाल विकास प्रभारी सुश्री जमुना साहू जलकार्य प्रभारी संजय कोहले, शिक्षा प्रभारी  मनदीप सिंह भाटिया पार्षद शिवेन्द्र परिहार सहित एल्डरमैन और नागरिकगण अधिक संख्या में उपस्थित थे ।
 विधायक  वोरा एवं महापौर श्री बाकलीवाल ने  पटरीपार की साकेत कॉलोनी और नरसिंह बिहार कॉलोनी में विकास निर्माण कार्य के लिए 46 लाख की लागत से विकास कार्य का भूमि पूजन किया गया ।  इस अवसर पर साकेत कॉलोनी बस्ती के बच्चों के लिए 6 लाख से  आंगनबाड़ी भवन का निर्माण किया गया । बताया गया कि साकेत कॉलोनी में  किराए के मकान में आंगनबाड़ी संचालित हो रहा था जहां कई तरह कि सुविधाएं और अव्यवस्था हो रही थी पार्षद की मांग पर साकेत कॉलोनी में आंगनबाड़ी भवन का  निर्माण किया गया । इसी प्रकार साकेत कॉलोनी में सीमेंटीकरण सड़क तथा नरसिंह विहार कॉलोनी में नाली और सीमेंट सड़क का निर्माण किया जाएगा ।  कार्यक्रम में  पार्षद अरुण सिंह काशीराम रात्रि विजेंद्र भारद्वाज एल्डरमैन राजेश शर्मा अजय गुप्ता अंशुल पांडेय, नागरिक निखिल खिचरिया,  कार्यपालन अभियंता राजेश पांडे सहायक अभियंता जगदीश केसरवानी उप अभियंता  अपर्णा मिश्रा एवं विकास यादव दीपिका साहू अन्य लोग उपस्थित थे । 

पूरब टाइम्स,भिलाई। आदिवासी समाज ने सेल चेयरमैन सोमा मंडल का छत्तीसगढ़ दौरे का विरोध एवं पुतला दहन किया उल्लेखनीय है आदिवासी समाज स्वर्गीय कार्तिक राम ठाकुर के परिवार को अनुकंपा नियुक्ति मामले को लेकर एवं बीएसपी प्रबंधन की व्यवस्था से व्यथित पीड़ित एवं नाराज है। आरोप लगाया गया की बीएसपी प्रबंधन स्थानीय लोगों के अधिकारों का हनन एवं छत्तीसगढ़ के संपदा का सिर्फ दोहन कर रही है इसलिए समाज ने विरोध प्रदर्शन करके वैश्विक महामारी कोरोना बीमारी से हुई मृत्यु की व्यथा को प्रदर्शित करके मांग की है कि प्रत्येक बीएसपी कर्मचारी के परिवार को अनुकंपा नियुक्ति दी जाए@GI@


विरोध प्रदर्शन में चंद्रभान सिंह ठाकुर जिला अध्यक्ष गोंडवाना गोंड महासभा चंद्रकला तारम अध्यक्ष महिला प्रभाग गोंडवाना गोंड महासभाअश्लेष मरावी उपाध्यक्ष गोंडवाना गोंड महासभा भुनेश्वरी उईके महासचिव रिसाली गोड़वाना समृद्धि आसन बाई ठाकुर घनश्याम मंडावी अध्यक्ष गोंडवाना समाज भिलाई रामचंद्र ध्रुव राजकुमार, राजा रावेन, जीवन भंडारी, दीपेश उइके, महेंद्र ठाकुर, ईश्वरी ध्रुव उपस्थित रहे करोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए लागू नियमों के कारण आदिवासी समाज के प्रमुख लोगों के विरोध प्रदर्शन करने की जानकारी सामाजिक पदाधिकारियों ने दी।@GI@

पूरब टाइम्स,भिलाई। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के आव्हान पर केन्द्र सरकार की गलत नीतियों के कारण देश में पेट्रोल-डीजल,रसोई गैस आदि पेट्रोलियम पदार्थो सहित दैनिक उपयोग की आवश्यक वस्तुओं के मुल्यों में हो रही बेतहाशा वृद्धि के विरोध में जिला कांग्रेस कमेटी पिछड़ा वर्ग भिलाई के तत्वधान में राहुल आटोमोबाईल पेट्रोल पंप छावनी चौक भिलाई में धरना प्रदर्शन किया गया साथ ही उक्त कार्यक्रम में बाईक ढपेल रैली निकाल कर केन्द्र के नरेन्द्र मोदी सरकार के खिलाफ नारे लगाकर रोष प्रदर्शन किया गया।@GI@

उक्त कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जिला कांग्रेस पिछड़ा वर्ग विभाग भिलाई जिलाध्यक्ष नरेश सागरवंशी जी उपस्थित हुए उन्होनें कहा कि नरेन्द्र मोदी की सरकार 7 साल पहले देश की जनता को अचछे दिन का सपना दिखा महंगाई कम करने का वादा किया था लेकिन आज प्रेट्रोलियम पदार्थों समेत दैनिक उपभोग की वस्तओं की किमत पिछले 70 सालों का रिकार्ड तोड़, आसमान छू रहा है केन्द्र सरकार महंगाई कम करने में फेल हो चुका है लेकिन फिर भी भाजपा के नेता महंगाई पर आमजनता को महंगाई न झेल पाने पर खाने पिना छोड़ने व पेट्रोल न डलवाने जैसे अनाप सनाप बयान देते हैं जो शर्मनाक है.

नरेश सागरवंशी ने कहा कि इस कोरोना काल में महंगाई कम कर जनता को राहत देना छोड़ पेट्रोल डीजल पर एक्साईज ड्यूटी बढ़ा कर केन्द्र सरकार अपना कोष भरने में लगा हुआ है जिससे आम जनता को आर्थिक नुकसान हो रहा है अगर वे महंगाई को लगाम नही लगा पाए तो आने वाले समय में पिछड़ा वर्ग कांग्रेस द्वारा उग्र प्रदर्शन किया जाएगा। कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष नरेश सागरवंशी, महामंत्री कृष्ण कुमार वर्मा, ब्लाक अध्यक्ष दिनेश कुमार जंघेल,रोमन सेन, संयुक्त महामंत्री नारायण प्रसाद सेन, सचिव आर एन विश्वकर्मा, नंदकुमार यादव,ओमप्रकाश कौशिक, आदि उपस्थित थे।@GI@

पूरब टाइम्स दुर्ग। मालवीय नगर मुख्य मार्ग में चल रहे रोड व नाली निर्माण कार्य में लेटलतीफी को लेकर नाराज भाजपा पार्षदों ने गुरुवार को लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता का घेराव किया। मामले को लेकर चर्चा के लिए पहुंचे भाजपाइयों ने कार्यपालन अभियंता पर दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

लोक निर्माण विभाग द्वारा इन दिनों में मालवीय नगर क्षेत्र में सड़क निर्माण के लिए शंकरनाला को डायवर्ट किया गया है। इसके अलावा नाली निर्माण के लिए मुख्य मार्ग के किनारे खोदाई की गई है। उक्त कार्य में लेटलतीफी के कारण बारिश में आम लोगों और दुकानदारों को होने वाली परेशानियों का हवाला देते हुए भाजपा पार्षद दल के नेता अजय वर्मा के नेतृत्व में भाजपा पार्षदों ने लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता अशोक श्रीवास का घेराव कर दिया। भाजपा पार्षदों ने आरोप लगाते हुए कहा कि इस मामले पर चर्चा करने के बजाए कार्यपालन अभियंता उनके साथ दुर्व्यवहार करने लगे। इससे आक्रोशित भाजपाई कार्यालय के सामने एकत्रित होकर कार्यपालन अभियंता के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। प्रदर्शन कर रहे भाजपाइयों का कहना था कि मालवीय नगर रोड में बेतरतीब ढंग से किए जा रहे कार्यों को व्यस्थित किया जाए। ताकि आवागमन को लेकर आम जनता व कारोबार को लेकर दुकानदारों को परेशानी न हों। 

भाजपाइयों ने निर्माण कार्य जल्द पूरा करने के साथ ही सड़क किनारे पड़े मिट्टी को भी जल्द हटाए जाने की मांग की। काम जल्द पूरा नहीं होने पर भाजपाइयों ने अग्र आंदोलन की चेतावनी दी है। प्रदर्शन के दौरान जिला भाजपा मंत्री दिनेश देवांगन, पार्षद गायत्री साहू, काशीराम कोसरे,नरेंद्र बंजारे, ओमप्रकाश सेन, मनीष साहू, अजीत वैद्य, चमेली साहूू, कुमारी साहू, शशि द्वारिका साहू, पुष्पा गुलाब वर्मा ,लीना देवांगन, योगेंद्र साहू ,राहुल भट्ट, राकेश साहू सहित अन्य उपस्थित थे।

पूरब टाइम्स भिलाई। सेल चेयरमैन बनने के बाद भिलाई दौरे पर आ रही सोमा मंडल नक्सल प्रभावित क्षेत्र रावघाट जाने वाली पहली चेयरमैन तो होंगी ही इसके साथ ही छत्तीसगढ़ आने के बावजूद प्रदेश के मुख्यमंत्री से न मिलने वाली पहली चेयरमैन भी होंगी। उनके दौरा कार्यक्रम में प्रदेश के मुखिया से सौजन्य भेंट का उल्लेख ही नहीं है। वह भी तब जब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दुर्ग जिला से हैं और इसी जिले में भिलाई इस्पात संयंत्र स्थापित है। इसे लेकर अब राजनीतिक गलियारे में चर्चा का दौर शुरू हो गया है। कई तरह के कयास भी लगने लगे हैं। रावघाट प्रोजेक्ट के क्रियान्यवयन में राज्य शासन की भी अहम भूमिका है। कर्मचारियों का कहना कि प्रदेश सरकार के सहयोग के बिना प्रबंधन को दिक्कत हो सकती है।

सेल (स्टील अथारिटी आफ इंडिया लिमिटेड) की चेयरमैन सोमा मंडल भिलाई इस्पात संयंत्र के दौरा पर आ रही हैं। चेयरमैन बनने के बाद भिलाई में उनका यह पहला दौरा है। इस वजह से उनका दौरा अहम है। रेलवे के लिए उनकी मांग के अनुसार उच्च स्तरीय रेल पटरी का निर्माण करने वाले भिलाई इस्पात संयंत्र का विस्तारीकरण परियोजना लगभग पूरा होने को है। बढ़ते उत्पादन लक्ष्य और भविष्य की जरूरतों के लिहाज से भिलाई में की गई तैयारियों, रावघाट परियोजना पर जारी काम आदि का निरीक्षण करने सेल चेयरमैन सोमा मंडल भिलाई आ रही है। उनके दौरा कार्यक्रम में संयंत्र और रावघाट के अंजरेल माइंस का निरीक्षण के अलावा उससे जुड़ी गतिविधियों की जानकारी भी लेंगी।

इन सबके बीच भिलाई (छत्तीसगढ़) प्रवास के दौरान छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से सौजन्य भेंट का कोई कार्यक्रम नहीं रखा गया है। जबकि आम तौर पर भी सेल के जितने भी चेयरमैन भिलाई (छत्तीसगढ़) प्रवास पर आते हैं वे सौजन्यवश मुख्यमंत्री से मुलाकात करते हैं एक तरह से इसे शिष्टाचार होने के साथ ही रणनीतिक रूप से अहम माना जाता है। क्योंकि भिलाई इस्पात संयंत्र भले ही केंद्र सरकार का सार्वजनिक उपक्रम है परन्तु कई मामलों में राज्य शासन के सहयोग के बिना कुछ भी संभव नहीं हो पाता। खासकर भिलाई इस्पात संयंत्र की भविष्य की जरूरतों को देखते हुए नक्सल प्रभावित क्षेत्र रावघाट माइंस में खनन कार्य में तेजी आनी है। जहां सुरक्षा, परिवहन सहित अन्य मुद्दों पर प्रदेश सरकार का सहयोग बीएसपी को लेना मजबूरी है।ऐसे में सेल चेयरमैन का मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से न मिलने को लेकर चर्चा का दौर भी शुरू हो गया है।

पूरब टाइम्स, दुर्ग। लगातार शादी का प्रलोभन देकर आरोपी संदीप साहू द्वारा लगातार शारीरिक संबंध बनाने की रिपोर्ट पर चौकी पद्मनाभपुर थाना कोतवाली दुर्ग में आरोपी संदीप साहू के विरूद्ध अपराध क्र . 646/2020 धारा 376,376 ( 2 ) ( द ) पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। जिले में महिलाओं पर घटित अपराध में तत्काल संज्ञान लेने हेतु पुलिस अधीक्षक दुर्ग प्रशांत ठाकुर एवं अति. पुलिस अधीक्षक (शहर ) संजय घुब, नगर पुलिस अधीक्षक दुर्ग विवेक शुक्ला के मार्गदर्शन में महिला एवं बच्चों से संबंधित मामलों में प्राथमिकता पर संज्ञान में लेते हुए विवेचना के दौरान एक वर्ष से फरार आरोपी को मुखबीर सूचना एवं साइबर सेल मिलाई के माध्यम से ग्राम सिंघारी याना कसडोल जिला बलौदाबाजार से गिरफ्तार किया गया। रिमाण्ड पर न्यायालय पेश किया।



पूरब टाइम्स, दुर्ग। लोक निर्माण विभाग द्वारा नेहरू नगर से मिनीमाता तक चल रहे हैं रोड सौंदर्यीकरण कार्य के तहत मालवीय नगर चौक मे शंकर नाला डायवर्ट व मुख्य मार्ग में हो रहे नाली निर्माण कार्य  के लेटलतीफी के कारण बारिश में आम लोगों व दुकानदारों को हो रही भारी परेशानी को ध्यान में रखते हुए भाजपा पार्षद दल नेता अजय वर्मा के नेतृत्व में भाजपा पार्षदों ने लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता अशोक श्रीवास का घेराव कर जनता व व्यापारियों को हो रही तकलीफों को लेकर जोरदार विरोध दर्ज कराते हुए प्रदर्शन किया. 

शीघ्र निर्माण कार्य पूरा करने व व्यवस्था दुरुस्त करने की मांग की गई। इससे पूर्व वार्ड पार्षद नरेश तेजवानी व व्यापारियों की मांग पर आज भाजपा पार्षदों ने निर्माण कार्य स्थल का अवलोकन किया जहां कार्यस्थल मुख्य मार्ग पर ठेकेदार द्वारा बनाए जा रहे हैं नाली निर्माण में दुकानदारों की सामने की गई खुदाई से गंभीर हादसा होने की संभावना तथा मार्ग में फैलाए गए मलबे से मार्ग अवरुद्ध किए जाने के मुद्दे को लेकर पार्षदों ने पीडब्ल्यूडी कार्यालय पहुंचे जहां कार्यपालन अभियंता श्रीवास के दुर्व्यवहार से आक्रोशित भाजपा पार्षदों ने जोरदार नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया. 

बेतरतीब ढंग से किए जा रहे अवस्थित कार्यों का विरोध करते हुए तत्काल निर्माण कार्य पूर्ण करने मलबा उठाने की मांग की इस अवसर पर जिला भाजपा मंत्री दिनेश देवांगन पार्षद गायत्री साहू, काशीराम कोसरे, नरेंद्र बंजारे, ओमप्रकाश सेन, मनीष साहू, अजीत वैद्य, चमेली साहूू, कुमारी साहू, शशि द्वारिका साहू, पुष्पा गुलाब वर्मा,लीना देवांगन योगेंद्र साहू,राहुल भट्ट, राकेश साहू,संकेश वैद्य आदि उपस्थित थे.@GI@