Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



पूरब टाइम्स,दुर्ग-भिलाई। दुर्ग-भिलाई को जोडऩे सबसे व्यस्ततम वायशेप ब्रिज का सुनसान नजारा इन दिनों सुकुन दे रहा हैै. इस वायशेप ब्रिज के इतिहास में सभवत: इतनी वीरानी कभी नही देखी गई. कर्फ्यू का सख्ती से पालन, सड़कों में सून-सन्नाटा का लोग सख्ती से पालन कर रहे है.आवागमन पूर्णत: बंद है. चौक चौराहों पर पुलिस के जवान सुबह से शाम तक तैनात रहते है. कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए प्रभावशील लॉकडाउन में शासन- प्रशासन के निर्देशों का सख्ती से पालन करवाने दुर्ग जिले में कफ्र्यू लागू है. जिसके चलते दुर्ग-भिलाई की सड़कों में रविवार को सन्नाटा पसरा रहा. इस दौरान आवश्यक सेवाएं अस्पताल, मेडिकल स्टोर,पेट्रोल पंपो को छोड़कर सभी दुकाने बंद नजर आई.

पूरब टाइम्स , दुर्ग / रायपुर . एक तरफ कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते  पूरा देश स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों की जीवटता को सलामी ,  शाबासी देकर उनका उत्साह वर्धन कर रहा है वहीं दूसरी तरफ अनेक सरकारी अस्पतालों6 से मरीज़ों से दुव्र्यवहार की घटनाएं भी आ रहीं हैं जिन्हें नजऱ अन्दाज़ नहीं किया जा सकता . सूओत्रों के अनुसार अनेक प्राइवेट अस्पताल व्डॉक्टरों द्वारा अपनी प्रैक्टिस बंद करने से , सरकारी अस्पतालों में मरीजों की निर्भरता बढ़ गई है . यूं तो दुर्ग अस्पताल में इस तरह के प्रकरण कई बार देखने को मिले हैं परंतु पिछले दिनों एक गर्भवती स्त्री के साथ खराब कार्य व्यवहार की शिकायत की गई. पूरब टाइम्स की एक रिपोर्ट...  
जिला अस्पताल दुर्ग में इलाज करवाने आई गर्भवती महिला ने शिकायत दर्ज करवाई है कि इलाज के दौरान उपस्थित डॉक्टर के अडिय़ल रवैये के कारण उसे और उसके मां को अपमानित होना पड़ा . पीडि़त महिला ने अपनी शिकायत में उल्लेखित किया है उसकी मां ने जब डॉक्टर से पूछा कि दवाई कब कब खाना है तो उपस्थित डॉक्टर ने उसकी मां के हाथों से उपचार पर्ची लेकर उस पर्ची को पेन से काटकर उस पर पेन से मिस बिहेव लिख दिया और चिल्लाकर बात करने लगा . जिससे इलाज करवाने आई गर्भवती महिला और और उसकी मां बेहद घबरा गई और उन्होंने अपमानित महसूस किया जिसके बाद पडिता ने इस अशोभनीय व्यवहार और अपमान के लिए विरोध करने का मन बनाया और इसकी शिकायत दर्ज कराई .
बेहद आश्चर्य जनक विषय है कि गर्भवती महिला के साथ इलाज के दौरान घटित अशोभनीय व्यवहार की लिखित शिकायत सिविल सर्जन के समक्ष किए जाने के बाद भी इस मामले का संज्ञान स्वास्थ्य संचालक छत्तीसगढ़ शासन ने नहीं लिया है . उल्लेखनीय है कि वर्तमान महामारी वाले आपातकालीन स्थिति में स्वास्थ्य संचालक को जिला अस्पताल में घटाने वाली छोटी से छोटी घटनाओं के लिए सतर्क रहने की उम्मीद जनता करती है.  निश्चित तौर पर शासन द्वारा भी स्वास्थ्य संचालक से यह अपेक्षा की जाती  होगी लेकिन स्वास्थ्य संचालक ने इस मामले में अभी तक किसी प्रकार से संज्ञान लिए जाने की सूचना प्रेस को नहीं दी है , जिससे प्रतीत होता है कि स्वास्थ्य संचालक इस मामले की जांच करने के लिए अग्रेषित होने को समय लगाएंगे 

पूरब टाइम्स दुर्ग। शिवनाथ नदी के इंटकवेल एवं 42 व 24 एमएलडी फिल्टर प्लाट में हर माह खराबी आने से शहर के अधिकतर हिस्सों में पानी घरों तक नहीं पहुंच पाना आम बात हो गई है। वर्तमान में अमृत मिशन के 2 वर्षो से चल रहे अधूरे कार्य पूर्ण नहीं होने से फिल्टर प्लाट का क्लोरिन प्लाट व रिनोवेशन का कार्य नहीं हो पाया हैै। प्रदेश सरकार द्वारा निगम के जल विभाग से संबंधित कार्यो के लिए अरबो रुपए नए कार्यो के लिए व रिपेरिंग के लिए खर्च किया जाता है। किन्तु बार- बार जलापूर्ति बाधित होना एक बड़ी समस्या बन गई है। जिसमें तत्काल रोक लगाना अतिआवश्यक है। विधायक अरुण वोरा ने निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन से कहा कि इंटकवेल व फिल्टर प्लाट की मशीनों व पंपो में खराबी आने पर आवश्यक सेवा के तहत तत्काल मरम्मत करना अतिआवश्यक है। ग्रीष्मऋतु प्रारंभ हो चुकी है शहर के बोर रिपेरिंग, टैकर व बंद पड़े क्लोरिन गैस प्लाट को प्रारंभ करने व बार- बार ट्रासफार्मर के खराब होने से पेयजल की समस्याओं से निजात दिलाने तत्काल कार्यवाही करने कहा। जिससे वार्ड की जनता को शुद्ध व स्वच्छ पेयजल निरंतर प्राप्त हो सके। साथ ही महापौर धीरज बाकलीवाल ने जल विभाग के अधिकारियों से कहा कि जनस्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए घरो तक पहुंचने वाले पेयजल की गुणवत्ता में व साफ्टनेस व क्लोरिन की मात्रा का निरंतर जांचने कहा। 


पूरब टाइम्स,दुर्ग। छत्तीसगढ़ में कोरोना के साथ-साथ गर्मी का प्रकोप भी बढ़ता जा रहा है. इतनी चिलचिलाती धूप में जहां खड़ा रहना भी मुश्किल हो रहा है, वही दुर्ग पुलिस सुबह से ही खुले आसमान के नीचे सड़कों पर खड़ी है. आने-जाने वाले हर एक व्यक्ति की जांच कर रही है, फिर भी जनता मानने को और समझदारी दिखाने को तैयार नहीं है. 

ये आलम दुर्ग भिलाई के हर चौक चौराहों का है, जहां पुलिस सुबह से ही खड़े होकर लोगों से पूछताछ कर रही है. दुर्ग-भिलाई में एक तरफ काफी लोग बेवजह घर से बाहर निकलने के बहाने ढूंढ रहे है. वहीं दुर्ग पुलिस लगातार तपती धूप में खड़ी है और लोगों को समझा रही है कि घर से बाहर निकलने का प्रयास ना करें. महामारी से जंग जितने लॉकडाउन-2 में फिर तैयार है.कलेक्टर अंकित आनंद ने गुरुवार को दोपहर 12 बजे तक लोगो को थोड़ी राहत दी थी.

 लेकिन शुक्रवार से कफ्र्यू सख्ती से लागू कर दी गई है। कफ्र्यू के शुरू होने से 1 घंटा पहले जिला पुलिस ने शहर में फ्लैग मार्च कर लोगो अगाह किया. हालांकि कुछ जगहों पर कफ्र्यू का असर दिखाई दे रहा है. नेहरू नगर  चौक, पटेल चौक,गंजपारा, ग्रीन चौक, पुलगांव चौक, पर एका-दुक्का लोगो की आवाजाही  सड़को पर नजर आई. घरो से बाहर निकल रहे लोगो पर चलानी  कार्यवाई  की गई. वही चौक चौराहों पर पुलिस बल भी तैनात है।

पूरब टाइम्स दुर्ग।  नगर पालिक निगम भिलाई क्षेत्र अंतर्गत विभिन्न दुकानों का निरीक्षण निगम की उड़नदस्ता की टीम द्वारा किया जा रहा है, एवं जोन के राजस्व अधिकारियों द्वारा भी टीम बनाकर दुकानों,बाजारों एवं व्यवसायिक क्षेत्रों का निरीक्षण किया जा रहा है। लॉक डाउन का कड़ाई से पालन कराने निगम की टीम मुस्तैद है और ऐसे दुकान संचालक जो आदेशों के उल्लंघन का प्रयास कर रहे हैं उन पर कार्यवाही की जा रही है। वार्ड क्रमांक 22 लिंक रोड में राठी बुक्स एवं स्टेशनरी द्वारा दुकान खुला पाए जाने पर 2000 रुपए अर्थदंड लगाकर बंद कराया गया। वार्ड क्रमांक 27 फौजी नगर में निर्मल किराना स्टोर द्वारा समय के पश्चात भी दुकान खुला रखने पर 1000 रुपए जुर्माना वसूल किया गया, वार्ड क्रमांक 8 जय बाबा नमकीन द्वारा शिक्षक नगर कोहका में भीड़ बढ़ाकर मिक्सचर नमकीन का निर्माण किया जा रहा था जिससे 20000 रुपए जुर्माना वसूल किया गया! नवदुर्गा एवं जनरल स्टोर शिक्षक नगर द्वारा दुकान में एस्पायरी सामग्री जैसे डालडा, सोन पापड़ी, मिक्सचर, सोया सास एवं डिस्पोजल गिलास विक्रय करने पर 6000 रुपए का अर्थदंड लगाया गया, चुन्नू किराना स्टोर द्वारा अधिक कीमत पर खाद्य सामग्री बेचने पर 3000 रुपए वसूल किया गया। सलूजा थ्रेड हाउस सर्कुलर मार्केट कैंप 2 से 500 रुपए, मद्रास किराना स्टोर से 500 रुपए, धीरज सब्जी दुकान से सोशल डिस्टेंस का पालन न करने पर 500 रुपए, गोयल हार्डवेयर द्वारा दुकान खोलकर सामग्री विक्रय किए जाने पर 4000 रुपए जुर्माना, वर्मा ब्रदर्स प्रोविजंस पावर हाउस द्वारा गुमास्ता लाइसेंस नहीं होने तथा तंबाकू, सिगरेट आदि बेचने पर 2000 रुपए जुर्माना, रविंद्र किराना स्टोर वार्ड क्रमांक 23 द्वारा तंबाकू, गुटका, बीड़ी, सिगरेट बेचने पर सामग्री जप्त करते हुए विक्रय नहीं करने की समझाइश दी गई, सनशाइन किराना दुकान कैलाश नगर द्वारा समय के बाद भी दुकान खुला रखकर विक्रय किए जाने पर 2000 रुपए जुर्माना, इसी प्रकार अजय किराना स्टोर एवं रंजीत किराना स्टोर्स द्वारा तय समय के बाद भी दुकान खुला रखने पर दोनों दुकान से 2000-2000 रुपए जुर्माना वसूल किया गया।

पूरब टाइम्स दुर्ग।  पालिक निगम भिलाई क्षेत्र अंतर्गत अमृत मिशन फेस टू के तहत हाउसिंग बोर्ड पानी टंकी का निर्माण किया गया है घरों तक पानी पहुंचाने के लिए इस टंकी से वितरण पाइपलाइन बिछाई गई है, जिसकी सफाई की जा रही है ताकि शुद्ध पेयजल क्षेत्रवासियों को मिल सके। महापौर एवं भिलाई नगर विधायक  देवेंद्र यादव तथा आयुक्त  ऋतुराज रघुवंशी ने पेयजल व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए है जिसके तारतम्य में अधिकारियों द्वारा शुद्ध पेयजल प्रदाय करने कार्य किया जा रहा है। कार्यपालन अभियंता संजय शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि हाउसिंग बोर्ड के समीप के क्षेत्रों को जल प्रदाय करने के लिए ओवरहेड टैंक का निर्माण किया गया है तथा वितरण पाइपलाइन लगभग 35 किलोमीटर तक बिछाई गई है जिसको प्रारंभ करने के लिए निगम ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी है इसी के तहत वितरण पाइपलाइन बिछाने के पश्चात पाइप के गंदगी को बाहर निकालने तथा नलों में किसी भी प्रकार की गंदगी, कचरा नहीं फंसने देने के लिए इसकी सफाई की जा रही है। हाउसिंग बोर्ड पानी टंकी से आम्रपाली, फौजी नगर, तीन मंजिल एवं 32 एकड़, घासीदास नगर, पीली पानी टंकी के कुछ स्थानों पर, गुरुद्वारा के समीप आदि क्षेत्र को पानी दिया जाएगा। नए पाइपलाइन बिछाने के दौरान ईट, पत्थर इत्यादि गंदगी पाइप में होने की संभावना रहती है इसको साफ करने के लिए उच्च स्तरीय जलागार से वितरण पाइपलाइन में पानी छोड़कर तथा इंडकैप को खोलकर गंदे पानी को बाहर निकाला जाता है, इस दौरान पाइपलाइन लीकेज का भी निरीक्षण किया जा रहा है कहीं पर भी लीकेज की समस्या होने पर या पाइपलाइन पूर्णतः न जुड़ा होने पर पाइप लाइन जोड़ने तथा लीकेज को सुधारने का कार्य भी किया जा रहा है ताकि पर्याप्त मात्रा में जल प्रवाह की तीव्रता बनी रहे और घरों तक शुद्ध पेयजल पहुंचे। पाइपलाइन लीकेज सुधारने एवं कनेक्टिविटी करने के लिए गड्ढा खोदकर मरम्मत का कार्य किया जा रहा है। लॉक डाउन के विकट परिस्थिति में भी पेयजल को दुरुस्त करने निगम के अधिकारी/कर्मचारी लगे हुए हैं बाहरी श्रमिक/कर्मचारी न मिलने पर स्थानीय स्तर से कार्य कराया जा रहा है। विगत 3 दिनों से वितरण पाइप लाइन में चल रहे सफाई कार्य का निरीक्षण अधिकारी स्वयं कर रहे है। वही पीलिया से बचाव के लिए निगम द्वारा विभिन्न स्रोतों से प्राप्त पानी की टेस्टिंग की जा रही है प्रत्येक जोन से कम से कम प्रतिदिन 10 से 12 सैंपल लिए जा रहा है और इसके रिपोर्ट के अनुसार व्यवस्था में सुधार लाने की कोशिश की जा रही है इसी के साथ ही जल शोधन संयंत्र में दिन में तीन बार पानी की टेस्टिंग की जाती है ताकि शुद्ध पेयजल शहर को मिलता रहे। मदरटैरेसा नगर, खुर्सीपार एवं फरीदनगर की तीनों ओवरहेड टंकियों को सुबह एवं शाम को जल प्रदाय किया जा रहा है, गौतम नगर एवं छावनी की पानी टंकियों में भी एक टाइम की पानी सप्लाई प्रारंभ कर दी गई है। शुद्ध पेयजल शहर को प्रदाय करने के लिए निगम द्वारा सतत प्रयास किया जा रहा है आम नागरिकों से भी अपील है कि पानी को उबाल कर पिए एवं शुद्ध पेयजल ही इस्तेमाल करें।

पूरब टाइम्स भिलाई। जल जनित बीमारी पीलिया से बचाव के लिए निगम द्वारा क्लोरीन टेबलेट वितरण कर इसके उपयोग की जानकारी नागरिकों को दी जा रही है! निगम क्षेत्र में डेंगू से बचाव हेतु मलेरिया आॅयल व मैलाथियान का छिड़काव किया जा रहा है तथा निगम की टीम एवं मितानीनें घरों में जाकर सर्दी, खांसी व बुखार से पीड़ित मरीजों को तत्काल चिकित्सकीय परामर्श लेने की सलाह दे रही है। निगम प्रशासन आमजन से अपील करती है कि अपने घर व आस-पास साफ सफाई बनाकर रखे तथा पीलिया से बचाव हेतु उबला एवं स्वच्छ पेयजल का ही इस्तेमाल पीने के लिए करें! भिलाई निगम के सभी जोन कार्यालयों के स्वच्छता कर्मचारियों द्वारा पीलिया जैसी जलजनित बीमारियों से बचाव के लिए जोन क. 01 के 809 घरों में 8070 क्लोरीन टैबलेट, जोन कं.02 में 500 घरों में 3000 नग क्लोरीन टैबलेट, जोन कं. 03 के 340 घरों में 1880 नग क्लोरीन टैबलेट तथा जोन कं. 04 के 580 घरों में 4400 नग क्लोरीन टैबलेट वार्डों में आज घर-घर जाकर पानी की शुद्धता के लिए वितरण किया गया साथ ही बताया गया कि उबला हुआ तथा साफ छना हुआ पानी ही पीये ताकि किसी प्रकार से जलजनित बीमारी न हो। पानी जमाव वाले स्थान पर लार्वा उत्पन्न न हो इसे रोकने नालियों में जला आइल, एवं कूलर आदि पात्रों में टेमीफास का छिड़काव किया जा रहा है तथा मच्छर के काटने से होने वाली बीमारी से बचने के लिए भिलाई निगम प्रशासन की ओर से प्रतिदिन शाम को स्पेयर व व्हीकल माउंटेड के माध्यम फाॅगिंग किया जा रहा है। निगम क्षेत्रांतर्गत वार्ड -17 वृन्दानगर अन्तर्गत आन्ध्रा स्कूल, शिव हनुमान मंदिर, आंगनबाड़ी केंद्र, मितानिन निवास के आसपास, स्पेयर द्वारा मच्छर उन्मूलन हेतु फाॅगिंग कराया गया।

भिलाई। लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ पुलिस की सख्ती काफी हद तक बढ़ी हुई नजर आई। चौक-चौराहों में तैनात पुलिस के जवानों के निशाने पर बेवजह वाहन लेकर घूम रहे। ऐसे लोगों के खिलाफ दण्डात्मक कार्रवाई को अंजाम दिया गया है। वहीं लॉकडाउन के नियम का पालन करते हुए घर से निकले लोगों को मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने का सबक भी पुलिस लगातार देने में लगी हुई है। आज से लॉकडाउन पार्ट-2 की शुरुवात हो गई। 

इससे पहले कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक दुर्ग की ओर से बैठक लेकर लॉकडाउन का पालन शत-प्रतिशत तरीके से सुनिश्चित कराने कड़ाई बरतने का निर्देश अमले को दिया गया था। इसी निर्देश को अमलीजामा पहनाने चौक-चौराहों पर तैनात यातायात और थानों की पुलिस का तेवर सख्त नजर आया। कार और दुपहिया वाहन चालकों को रोक रोककर लॉकडाउन में बाहर निकलने की वजह पूछी गई। इस दौरान संतोषजनक और बाहर निकलने की तर्कसंगत जवाब नहीं मिलने पर वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई की गई।

पूरब टाइम्स भिलाई। कोविड 19 नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम एवं बचाव हेतु निगम क्षेत्र में सैनिटाइजिंग का कार्य निरंजर जारी है, निगम के स्वास्थ्य विभाग का अमला वार्डों के गली मोहल्लों के घर, आवश्यक सेवा वाले दुकान, बाजार क्षेत्र को टैंकर एवं हैन्ड स्प्रे के द्वारा सैनेटाइज का कार्य प्रतिदिन कर रहे हैं। आज जोन कं. 01, 02, 03 व 04 के 2064 स्थानों पर सेनेटाइज किया गया। मच्छरों के प्रकोप पर काबू पाने के लिए शहर के क्षेत्रों में लगातार फाॅगिंग किया जा रहा है। भिलाई निगम क्षेत्र में कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम हेतु निगम प्रशासन आमजन से अपील कर रही है कि लोग अपने घर में ही रहे ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके, वहीं लाॅक डाउन के तहत सोशल डिस्टेंस बनाए रखने तथा आवश्यक कार्य से घर से बाहर निकलने वाले नागरिकों को चेहरा ढकने के लिए अनिवार्य रूप से मास्क या अन्य कोई आवश्यक उपाय करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है! भिलाई निगम के सभी जोन कार्यालयों के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग की टीम कोरोना वायरस के रोकथाम हेतु क्षेत्र के वार्डों में सोडियम हाइपोक्लोराइड से दुकानों के शटर, बाजार क्षेत्र, घरों, खिड़की, दरवाजे, फर्नीचर तथा बाजार व घर के आस-पास सहित जोन के 58 कर्मचारियों ने 2064 स्थानों पर सोडियम हाइपोक्लोराइड का छिड़काव टैंकर गाड़ी व हैन्ड स्प्रे के माध्यम से सेनेटाइज करने का कार्य किया गया! निगम का स्वास्थ्य अमला लोगों को बता रहे है कोरोना का संक्रमण एक दूसरे से फैलता है इससे बचाव के लिए हाथों को समय-समय पर हैंडवॉश/सेनेटाइज करते रहे तथा एक दूसरे से सोशल डिस्टेंस बनाते हुए कम से कम 1 मीटर की दूरी पर रहे। निगम क्षेत्र अंतर्गत कमला मेडिकल लाईन, अम्बेडकर चौक, धनकर किराना, 64/3 ईस्ट, काली बाड़ी मंदिर के आस-पास, शंकर पारा, खटाल लाईन, उडिया बस्ती, हार्डवेयर लाईन, आकाश गंगा, सिटी बस स्टैण्ड के आस-पास क्षेत्र, पुुड़की पारा, नूरी मस्जिद के आस-पास, टाटा लाईन कोहका, साकेत नगर न्यू कालोनी, एल.आई.जी.-300 से एल.आई.जी-335 तक, शकंराचार्य दीनदयाल कालोनी, संतोषी पारा, शिवाजी चौक, बेदी कॉलोनी, शर्मा कॉलोनी, चमड़ा गोदाम लाइन, खजूर लाइन, गल्ला किराना स्टोर के आसपास, ताड़ी लाईन, पीपल पेड़, गुरूद्वारा लाईन, इमाम बाड़ी, गुरूद्वारा के पिछे क्षेत्र तक, राजेश क्लिनिक के आस-पास, जितेन्द्र टेंट हाउस, कैलाश चौक, राजीव नगर, लक्ष्मण नगर आदि स्थानों पर निगम के अमले ने सोडियम हाइपोक्लोराइड घोल को हैन्ड स्प्रे एवं टैंकर के माध्यम से घर के भीतर एवं आसपास के पूरे स्थल को सेनेटाइज करने का कार्य किया गया। मच्छरों उन्मूलन के तहत, छावनी, बालाजी नगर, बापूनगर, दुर्गा मंदिर, न्यू खुर्सीपार, नेताजी सुभाष मार्केट, शास्त्री नगर, गौतम नगर, चन्द्रशेखर आजाद नगर में मैलाथियान का छिड़काव किया गया। वार्ड 05 लक्ष्मीनगर, देवांगन पारा, भीमनगर, आंगनबाड़ी के आस पास, सार्वजनिक मंच, मितानीन निवास, हनुमान मंदिर, पीडीएस ड्रेसेस, परमेश्वरी विद्यालय, जय अम्बे मेडिकल सहित निगम क्षेत्र के विभिन्न वार्डों के गली मोहल्लों में व्हीकल माउंटेन एवं स्पेयर द्वारा मच्छर उन्मूलन हेतु फाॅगिंग किया गया।

पूरब टाइम्स भिलाई। निगम क्षेत्र में अत्यावश्यक सेवा में लगे हुए वाहनों को भी सैनिटाइज करने का कार्य किया जा रहा है! लॉक डाउन के दौरान विभिन्न व्यवस्थाओं के तहत निगम भिलाई की वाहने अलग-अलग कार्यों के लिए उपयोग में लाई जा रही है, स्वच्छता के कार्यों में भी वाहन लगे हुए हैं इसके साथ ही निगम के वाहन विभाग तथा जोन क्षेत्र से शव वाहन, डंपर, ट्रैक्टर, एप्पे, वाटर टैंकर एवं अन्य वाहन संचालित होती है! यह वाहन सतत रूप से आवश्यक सेवाओं के कार्यों में लगी होती है! शव वाहन के जाने के पूर्व एवं उसके आने के पश्चात निरंतर सोडियम हाइपोक्लोराइट से सैनिटाइज करने का कार्य किया जा रहा है! भिलाई निगम क्षेत्र में निगम प्रशासन लगातार सघन रूप से सफाई कार्य में जुटी हुई है। स्वच्छता पर्यवेक्षक व जोन के स्वास्थ्य अधिकारी प्रतिदिन दोनो पालियों की सफाई कार्य की माॅनिटरिंग भी कर रहे हैं। प्रतिदिन सुबह कचरों के उठाव होने के साथ ही एवं नालियों की सफाई पश्चात ब्लीचिंग एवं चूना पाउडर का छिड़काव किया जा रहा है। निगम द्वारा संचालित हाथ धुलाई केन्द्रों में लोगों हाथ धोने के तरीके बताए जा रहे है। इसके अलावा जनजागरूकता हेतु स्वस्थ रहने के उपाय बताते हुए पंपलेट चस्पा एवं वितरण किया जा रहा है! भिलाई निगम के महापौर देवेंद्र यादव एवं आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी के निर्देशानुसार निगम का स्वास्थ्य अमला सफाई कार्य में पुरी मुस्तैदी से जुटा हुआ है। वार्डों में सेनेटाइज व फाॅगिंग कार्य के साथ ही डोर टू डोर गीले व सूखे कचरे का उठाव करके एसआरएलएम सेंटर में कचरों का पृथकीकरण कार्य किए जा रहे हैं। निगम क्षेत्र की सड़को व नालियों की सफाई नियमित रूप से स्वच्छता कर्मियों द्वारा की जा रही है। भिलाई के जोन कार्यालयों द्वारा नालियों की सफाई, गंदे स्थानों की सफाई के बाद ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव किया जा रहा है। डेंगू के रोकथाम हेतु मलेरिया आॅयल का छिड़काव कर रहे है। जलजनित बीमारी पीलिया के रोकथाम हेतु निगम कर्मी घर-घर जाकर क्लोरीन टैबलेट का वितरण करते हुए उबला हुआ अथवा स्वच्छ पानी पीने की सलाह भी दे रहे हैं। 320 लोगों को वार्ड कार्यालय के माध्यम से कोरोना वायरस से बचाव एवं रोकथाम की जानकारी दी गई। 570 घरों में कोरोना वायरस के बचाव हेतु जागरूकता के पाम्प्लेट वितरण किए गए। 930 मकानों को कोरोना वायरस से बचाव हेतु सोडियम हाइपोक्लोराइट से सेनेटाइज किया गया। 12360 मीटर पक्की नालियों की सफाई की गई! 49230 मीटर सड़कों की सफाई की गई। 134 लीटर सोडियम हाइपोक्लाराईड घोल का छिड़काव सेनेटाइज हेतु किया गया।

पूरब टाइम्स दुर्ग। आपदा की इस घड़ी में लाकडाऊन में फंसे लोगों की बुनियादी सुविधाओं को पूरा किया जा सके, इस दिशा में जिला प्रशासन ने विशेष पहल की है। जिले भर में अलग-अलग स्थानों में 10 आश्रयस्थल हैं जहां साढ़े चार सौ लोग ठहरे हैं। इन आश्रय स्थलों में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। लोगों के लिए बेड वगैरह की सुविधाएँ उपलब्ध की गई हैं। समय-समय पर नाश्ता-खाना तथा अन्य सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं। उदाहरण के लिए भिलाई के प्रियदर्शिनी परिसर में यूपी और बिहार के स्टूडेंट ठहरे हैं। इन्होंने बताया कि लाकडाउन की वजह से वे वापस नहीं जा पाये। निगम के अधिकारियों ने हमें यहां ठहराया। हमारी चिंता दूर हुई और घर वालों की भी चिंता दूर हुई है। राज्यपाल भी हमसे मिलने आई थी। कलेक्टर और निगम कमिश्नर ने भी मिलकर हमसे सुविधाओं की जानकारी ली। इस तरह से हमारा ख्याल रखा गया। छत्तीसगढ़ में लाकडाउन के दौरान बाहर से फंसे लोगों के लिए अच्छी सुविधा दी गई है। हमें घर जैसा महसूस हो रहा है। इन केंद्रों की मानिटरिंग कर रहे भिलाई निगम के अधिकारी  अजय शुक्ला ने बताया कि लाक डाउन के पश्चात सर्वे कर ऐसे लोगों का चिन्हांकन किया गया जो फंस गए थे और जिनके पास किसी तरह का आसरा नहीं था। इन लोगों को आश्रयस्थल लाया गया। इनके भोजन और नाश्ते का प्रबंध किया गया है।  शुक्ला ने बताया कि कई श्रमिक लाकडाउन के दौरान फंस गए थे। कुछ स्टूडेंट भी फंसे हुए हैं इन्हें भी आश्रय स्थल में ठहराया गया है। उल्लेखनीय है कि कुछ आश्रयस्थलों में टेलीविजन की सुविधा भी उपलब्ध है ताकि लाकडाउन पीरिएड के दौरान फंसे हुए लोगों का मनोरंजन होता रहे। गर्मी के सीजन को देखते हुए आमोद भवन आश्रयस्थल में कूलर की सुविधा भी उपलब्ध करा दी गई है। सभी आश्रय स्थलों में मेडिकल टीम भी समय-समय पर लोगों के स्वास्थ्य की निगरानी करती है। आश्रयस्थल में लोग मलेरिया जैसी गंभीर बीमारियों से बचे रहें। इसके लिए मच्छरदानी की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है। इसके साथ ही वरिष्ठ अधिकारी भी निरंतर इन आश्रयस्थलों का दौरा करते रहते हैं। बीते दिनों राज्यपाल सुश्री अनुसूइया उइके भी भिलाई स्थित प्रियदर्शिनी परिसर में आई। उन्होंने यहां के इंतजाम को देखते हुए खुशी जताई थी। प्रियदर्शिनी परिसर में रूके श्रमिकों ने चर्चा में बताया कि यहां किसी तरह की दिक्कत नहीं है। लाकडाउन में हम लोगों ने सोचा था कि काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा लेकिन यहां पर आकर हम संतुष्ट है और लाकडाउन की यह अवधि आसानी से बिना किसी दिक्कत के बीता देंगे।

कलेक्टर अंकित आनंद ने जारी किए आदेश. एपिडेमिक एक्ट के अंतर्गत दी गई शक्तियों का प्रयोग करते हुए कलेक्टर अंकित आनंद ने दुर्ग जिले में 16 अप्रैल गुरुवार अर्थात शाम 6 बजे से कर्फ्यू लगाने का आदेश जारी किया है. कर्फ्यू रविवार 19 अप्रैल की मध्य रात्रि तक प्रभावी रहेगा. इस दौरान जिला प्रशासन एवं निगम की केवल अत्यावश्यक सेवाओं का ही संचालन हो सकेगा एवं केंद्र एवं राज्य सरकार के कार्यालय ही खुल सकेंगे. 

इस दौरान अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े मेडिकल स्थापना, मेडिकल दुकान, एम्बुलेंस, पेट्रोल पंप, गैस एजेंसी, मीडिया संस्थान, सीवरेज ट्रीटमेंट, पेयजल सुविधा, फायर ब्रिगेड, टेलीफोन-इंटरनेट, मिल्क पार्लर, डेरी, राष्ट्रीय राजमार्ग में गुड्स एंड कररिर्स सेवाओं की दुकानें ही खुल सकेंगी. आदेश का उल्लंघन करने वालों पर नियमानुसार कड़ी कार्रवाई की जाएगी. मीडियाकर्मियों को इस दौरान कवरेज की अनुमति रहेगी।

पूरब टाइम्स, दुर्ग/भिलाई। देश में लॉकडाउन 3 मई तक के लिए बढ़ गया है. पिछली बार की अपेक्षा इस बार लॉकडाउन का ज्यादा सख्ती से पालन कराने की बात प्रधानमंत्री ने जरूर कही है, लेकिन जमीनी स्तर पर इसका कोई असर नहीं दिख रहा है. लॉकडाउन के पालन में ढिलाई बरती जा रही है. लोग तरह तरह के बहाने बनाकर घरो से बाहर निकल रहे है. बुधवार को दुर्ग-भिलाई की सभी प्रमुख सड़को पर लोगो की आवाजाही नजर आई। सड़कों में लोगो की भीड़ देखकर लगता है. कि धारा 144 का कोई मतलब ही नही रह गया है. आवश्यक चीजे लोगों को उपलब्ध कराने का प्रयास शासन प्रशासन द्वारा किया जा रहा है. 

लोगों को परेशानी से बचाने के लिए पुलिस व डॉक्टर जी-जान से लगे हुए हैं बावजूद इसके लोग घरों पर समय बिताने के बजाय सड़कों पर बिना किसी आवश्यक काम के घूमते दिख रहे हैं. गौरतलब है कि कुछ समय पूर्व जिले से एक कोरोना मरीज मिल चुका है जो फिलहाल स्वस्थ होकर अपने घर पर क्वारंटाईन में है. लेकिन लोग शायद अब इस बात को भूल रहे हैं कि अगर इस महामारी से निपटना है तो उन्हें धैर्य कायम रखते हुए लॉकडाउन का पालन अनिवार्यत: करना ही होगा अन्यथा इसका बड़ा खामियाजा शहरवासियों को भुगतना पड़ सकता है।

पूरब टाइम्स  भिलाई।  नगर पालिक निगम भिलाई के महापौर एवं भिलाई नगर विधायक श्री देवेंद्र यादव तथा आयुक्त श्री ऋतुराज रघुवंशी ने आज विभिन्न पहलुओं पर निगम के अधिकारियों से जूम ऐप के माध्यम से चर्चा कर आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने मास्क एवं फेस कवर की अनिवार्यता को देखते हुए अत्यावश्यक कार्य से बाहर निकलने वाले लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करने कहा है। ग्रीष्म ऋतु मे पेयजल प्रदाय को लेकर पानी टंकी निर्माण, पाइप लाइन डिस्ट्रीब्यूशन कार्य, पानी टैंकर की व्यवस्था एवं शुद्ध पेयजल प्रदाय को लेकर चर्चा की तथा ऐसे स्थानों को चिन्हित कर जहां पर पेयजल की समस्या अधिक होती है उसके लिए कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए। विभिन्न जोनों में राहत सामग्री की जानकारी प्राप्त की तथा कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे इसके लिए सतर्क रहने के निर्देश दिए। डोनेशन ऑन व्हील्स के जरिए आने वाले राहत सामग्री के विषय में जानकारी प्राप्त की। जनप्रतिनिधियों के निधि से खरीदे जाने वाले मास्क एवं सैनिटाइजर के वितरण की जानकारी प्राप्त की! शहर में लग रहे सब्जी बाजारों को व्यवस्थित करने के निर्देश भी कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दिए गए साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने भी कहा गया। जल जनित बीमारी, पीलिया सहित डेंगू, डायरिया तथा स्वच्छता के कार्यों की प्रगति के विषय में जानकारी प्राप्त कर आवश्यक निर्देश दिए! राशन कार्ड निर्माण के प्रगति के विषय में समस्त जोन से बारी-बारी से जानकारी प्राप्त कर कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए गए। जुम ऐप की कांफ्रेंसिंग में उपायुक्त अशोक द्विवेदी एवं तरुण पाल लहरें, जोन आयुक्त अमिताभ शर्मा, सुनील अग्रहरि महेंद्र पाठक पूरब टाइम्स  भिलाई।  नगर पालिक निगम भिलाई के महापौर एवं भिलाई नगर विधायक श्री देवेंद्र यादव तथा आयुक्त श्री ऋतुराज रघुवंशी ने आज विभिन्न पहलुओं पर निगम के अधिकारियों से जूम ऐप के माध्यम से चर्चा कर आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने मास्क एवं फेस कवर की अनिवार्यता को देखते हुए अत्यावश्यक कार्य से बाहर निकलने वाले लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करने कहा है। ग्रीष्म ऋतु मे पेयजल प्रदाय को लेकर पानी टंकी निर्माण, पाइप लाइन डिस्ट्रीब्यूशन कार्य, पानी टैंकर की व्यवस्था एवं शुद्ध पेयजल प्रदाय को लेकर चर्चा की तथा ऐसे स्थानों को चिन्हित कर जहां पर पेयजल की समस्या अधिक होती है उसके लिए कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए। विभिन्न जोनों में राहत सामग्री की जानकारी प्राप्त की तथा कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे इसके लिए सतर्क रहने के निर्देश दिए। डोनेशन ऑन व्हील्स के जरिए आने वाले राहत सामग्री के विषय में जानकारी प्राप्त की। जनप्रतिनिधियों के निधि से खरीदे जाने वाले मास्क एवं सैनिटाइजर के वितरण की जानकारी प्राप्त की! शहर में लग रहे सब्जी बाजारों को व्यवस्थित करने के निर्देश भी कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दिए गए साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने भी कहा गया। जल जनित बीमारी, पीलिया सहित डेंगू, डायरिया तथा स्वच्छता के कार्यों की प्रगति के विषय में जानकारी प्राप्त कर आवश्यक निर्देश दिए! राशन कार्ड निर्माण के प्रगति के विषय में समस्त जोन से बारी-बारी से जानकारी प्राप्त कर कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए गए। जुम ऐप की कांफ्रेंसिंग में उपायुक्त अशोक द्विवेदी एवं तरुण पाल लहरें, जोन आयुक्त अमिताभ शर्मा, सुनील अग्रहरि महेंद्र पाठक प्रीति सिंह कार्यपालन अभियंता सुनील जैन एवं संजय शर्मा, स्वास्थ्य अधिकारी धर्मेंद्र मिश्रा एवं साक्षरता अधिकारी जावेद अली उपस्थित रहे।

पूरब टाइम्स दुर्ग।    एक ओर जहां कोरोना को लेकर पूरे देश में लॉकडाउन यानि एक तरह का कफ्र्यू लगाकर लोगों को घरों में रहने की हिदायत दी जा रही है। वहीं दूसरी ओर इस विपरीत परिस्थिति में मानव जाति की सेवा के लिए कुछ लोग घर से बाहर निकलकर गरीब, असहाय जरूरतमंदों, गौ माता एवं अन्य जानवरों की सेवा कर रहे है. उनकी हर जरूरत की सामाग्री उपलब्ध करा रहे है, जन समर्पण सेवा संस्था, दुर्ग के युवा सभी के सहयोग से पूरी सावधानी से बाहर निकल रहे हैं, और जरूरतमंदों की मदद भी कर रहे हैं।   सभी के सहयोग से आज दिनाँक 14 अप्रेल को संस्था की इस भोजन सेवा का 1200 दिवस एवं लॉकडाउन में भोजन सेवा का 21 दिवस पूर्ण करने पर संस्था द्वारा प्रातः 11 बजे से 2 बजे तक शहर के विभिन्न स्थानों में जाकर लगभग 300 एवं रात्रि 8 बजे से 10 बजे तक लगभग 250 गरीब, असहाय एवं जरूरतमंदों को दूर दूर बैठाकर भोजन कराया गया. क्योकि ये लोग बेघर है और इनके पास पकाने के बर्तन नही है, इसलिए इन्हें पका हुआ भोजन दोनों समय दिया जा रहा है।   भोजन सेवा को 1200 दिवस पूर्ण होने के अवसर पर दुर्ग शहर के माननीय विधायक श्री अरुण वोरा जी, धीरज बाकलीवाल, इंद्रजीत बर्मन ने संस्था के सभी सदस्यों को बंटी शर्मा के मोबाइल फोन पर वीडियो कॉल करके बधाई दी, एवं राजेश यादव , सुरेंद्र शर्मा अध्यक्ष ब्राम्हण समाज, दुर्ग कृष्ण भवन स्थल (रसोई घर) में उपस्थित होकर संस्था के सभी सदस्यों को 1200 दिवस पूर्ण होने पर बधाई दी एवं संस्था को हर संभव मदद करने की घोषना की।     इस सेवा कार्य मे संस्था के सदस्य अलग अलग दो टीम बनाकर सुबह शाम भोजन वितरण कर रहै है, जिसमें एक टीम पुराना बस स्टैंड, पटेल चौक, नया बस स्टैंड, राजेन्द्र पार्क चौक, मालवीय नगर में निवास कर रहे जरूरतमंदों को भोजन वितरण कर रही है एवं दूसरी टीम स्टेशन रोड़, पोलसाय पारा, दुर्ग रेल्वे स्टेशन, शहीद चौक, अग्रेसन चौक में भोजन वितरण कर रही है, भोजन सेवा में प्रतिदिन शिशु शुक्ला, आशीष मेश्राम, संजय सेन, प्रकाश कश्यप, राजेन्द्र ताम्रकार, ईश्वर साहू, राकेश मिश्रा, दीपक धर्मगुढी, आकाश राजपूत, शंकर राउत, पूनम नागरे, कमल नामदेव, नितेश यादव, रवि राजपूत,  एवं अन्य संस्था के सदस्य सेवा दे रहे है।  एक ओर जहां कोरोना को लेकर पूरे देश में लॉकडाउन यानि एक तरह का कफ्र्यू लगाकर लोगों को घरों में रहने की हिदायत दी जा रही है। वहीं दूसरी ओर इस विपरीत परिस्थिति में मानव जाति की सेवा के लिए कुछ लोग घर से बाहर निकलकर गरीब, असहाय जरूरतमंदों, गौ माता एवं अन्य जानवरों की सेवा कर रहे है. उनकी हर जरूरत की सामाग्री उपलब्ध करा रहे है, जन समर्पण सेवा संस्था, दुर्ग के युवा सभी के सहयोग से पूरी सावधानी से बाहर निकल रहे हैं, और जरूरतमंदों की मदद भी कर रहे हैं।   सभी के सहयोग से आज दिनाँक 14 अप्रेल को संस्था की इस भोजन सेवा का 1200 दिवस एवं लॉकडाउन में भोजन सेवा का 21 दिवस पूर्ण करने पर संस्था द्वारा प्रातः 11 बजे से 2 बजे तक शहर के विभिन्न स्थानों में जाकर लगभग 300 एवं रात्रि 8 बजे से 10 बजे तक लगभग 250 गरीब, असहाय एवं जरूरतमंदों को दूर दूर बैठाकर भोजन कराया गया. क्योकि ये लोग बेघर है और इनके पास पकाने के बर्तन नही है, इसलिए इन्हें पका हुआ भोजन दोनों समय दिया जा रहा है।   भोजन सेवा को 1200 दिवस पूर्ण होने के अवसर पर दुर्ग शहर के माननीय विधायक श्री अरुण वोरा जी, धीरज बाकलीवाल, इंद्रजीत बर्मन ने संस्था के सभी सदस्यों को बंटी शर्मा के मोबाइल फोन पर वीडियो कॉल करके बधाई दी, एवं राजेश यादव , सुरेंद्र शर्मा अध्यक्ष ब्राम्हण समाज, दुर्ग कृष्ण भवन स्थल (रसोई घर) में उपस्थित होकर संस्था के सभी सदस्यों को 1200 दिवस पूर्ण होने पर बधाई दी एवं संस्था को हर संभव मदद करने की घोषना की।     इस सेवा कार्य मे संस्था के सदस्य अलग अलग दो टीम बनाकर सुबह शाम भोजन वितरण कर रहै है, जिसमें एक टीम पुराना बस स्टैंड, पटेल चौक, नया बस स्टैंड, राजेन्द्र पार्क चौक, मालवीय नगर में निवास कर रहे जरूरतमंदों को भोजन वितरण कर रही है एवं दूसरी टीम स्टेशन रोड़, पोलसाय पारा, दुर्ग रेल्वे स्टेशन, शहीद चौक, अग्रेसन चौक में भोजन वितरण कर रही है, भोजन सेवा में प्रतिदिन शिशु शुक्ला, आशीष मेश्राम, संजय सेन, प्रकाश कश्यप, राजेन्द्र ताम्रकार, ईश्वर साहू, राकेश मिश्रा, दीपक धर्मगुढी, आकाश राजपूत, शंकर राउत, पूनम नागरे, कमल नामदेव, नितेश यादव, रवि राजपूत,  एवं अन्य संस्था के सदस्य सेवा दे रहे है। 

पूरब टाइम्स दुर्ग। डोनेशन ऑन व्हील्स के जरिए दान देने वाले दानवीरो की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है आज 9 लोगों ने चावल, दाल, तेल, चायपत्ती, शक्कर, मसाला, नमक, आटा एवं धनराशि आदि देकर जरूरतमंदों की मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाया है। डोनेशन ऑन व्हील्स की शुरुआत होने के बाद से ही लगातार दान देने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है लोग अपने घरों तक वाहन को बुलवाकर राहत सामाग्री प्रदाय कर रहे हैं। आज शिवाजी नगर के राममूर्ति मिश्रा, राधिका नगर के भरत, मॉडल टाउन के जवाहर श्रीवास्तव, फरीदनगर के रिजवान अख्तर, सुपेला से कन्हैया यादव, सुपेला से राजेंद्र प्रसाद यादव, सुपेला से सुनील कुशवाहा, तीन दर्शन मंदिर के निवासी अखिलेश सिंह एवं तीन दर्शन मंदिर के पास के रहवासी संतोष गुप्ता ने जरूरतमंदों की मदद के लिए सराहनीय कार्य करते हुए राहत सामाग्री प्रदाय की है। लॉक डाउन में भूखे, गरीब, असहाय एवं इसी प्रकार के अन्य लोगों तक सहायता प्रदान करने अब आप अपने घर पर ही रह कर डोनेशन ऑन व्हील्स वाहन की मदद से राहत पैकेट इत्यादि प्रदाय करके सहयोग कर सकते हैं। ऐसे लोगों के लिए किसी भी प्रकार की सहायता देने के लिए डोनेशन ऑन व्हील्स वाहन की मदद ले सकते हैं साथ ही निगम के हेल्पलाइन नंबर ,6260008819, 8839271595, 9907878744 एवं 9109176812 पर संपर्क करके वाहन को अपने घर तक दान करने के लिए बुलाया जा सकता है। लॉक डाउन के दौरान लोग घर से नहीं निकल पा रहे है परंतु जरूरतमंदों की मदद के इच्छुक है ऐसे लोग डोनेशन ऑन व्हील्स की मदद से राहत पैकेट या अन्य राशन सामग्री जरूरतमंदों के लिए दे सकते हैं। निगम प्राप्त राशन सामग्रियों को जरूरतमंदों तक पहुंचाने का कार्य करेगी। दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करने से वाहन का लोकेशन की जानकारी मिल सकेगी जिसे दान देने के लिए घर तक बुलाया जा सकता है। लॉक डाउन की तिथि बढ़ने के बाद दान देने वाले आगे आ रहे हैं और जरूरतमंदों के लिए राहत सामग्री डोनेशन ऑन व्हील्स के जरिए देकर मदद कर रहे हैं।

पूरब टाइम्स दुर्ग।   वार्ड क्रमांक 12 के पार्षद अजय वैद्य ने वार्ड के गरीब परिवार को अपने पार्षद निधी 2लाख रुपए तक खाद्य सामग्री की अनुसंशा किए जाने के बाद नगर निगम द्वारा आज विधायक अरुण वोरा ,महापौर धीरज बाकलीवाल व उनके सहमति के बिना फोटो युक्त झोले में राशन सामग्री भेजे जाने पर कड़ी आपत्ति दर्ज करते हुए छोटा हाथी वाहन में पूरे सामग्री को वापस लौटा दिया और इस मुद्दे को लेकर शाम को नेताप्रतिपक्ष अजय वर्मा के नेतृत्व में भाजपा पार्षदों ने राशन सामग्री स्टोर स्थल विवेकानन्द सभागृह पहुंचकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई में गरीब जनता को मदद करने के नाम पर चुनाव प्रचार की तर्ज पर फोटोयुक्त झोला में राशन बाटने पर घोर आपत्ति कराया एवं विधायक व महापौर द्वारा गरीबों के साथ मदद के नाम अपना राजनीति चमकाने का आरोप लगाते हुए कहा है कि संकट व चिंता के समय भाजपा पार्षद गरीब व जरूरतमंद के साथ सादगी से खड़े होकर सहयोग कर  रही है न कि कांग्रेस नेताओ की तरह फोटो खीचाकर भाजपा पार्षदों ने नेताओ आगे कहा कि अपने वार्डो में पार्षद निधी ही नहीं किसी भी प्रकार के राहत सामग्री बाटने में फोटो बाजी से दूर रहेगी।जबकि विधायक महापौर शहर के दानवीरों के दिए गए पैसे का दुरुपयोग करते हुए अपने फोटो छपाने पैसे खर्च कर रही है ।  विवेकानन्द सभागृह पहुंचकर आपत्ति दर्ज कराने वाले भाजपा पार्षदों में नेता प्रतिपक्ष अजय वर्मा,देव नारायण चंद्राकर,नरेंद्र बंजारे,नरेश तेजवानी,अजय वैद्य,गुलाब वर्मा,योगेन्द्र साहू आदि प्रमुख है।

रविवार को राजधानी के रावणभाठा, गोलबाजार, टिकरापारा, संतोषी नगर, डीडी नगर, राजेंद्र नगर, पुरानी बस्ती आदि इलाके के सब्जी बाजार, किराना दुकानों में फिर भीड़ भरा नजारा दिखाई दिया। रावणभाठा में सब्जी बेचने वाले एक-दूसरे से चिपक कर दुकान लगाए हुए थे। खरीदार भी बिना मास्क लगाएं खरीदते दिखे। यही हालात सड़कों पर भी रहे।
मास्क लगाने की अनिवार्यता के बाद भी लोग बिना मास्क लगाए बेखौफ दोपहिया, चारपहिया वाहन से आवा-जाही करते रहे। इनमें से कुछ सरकारी गाडिय़ों में सवार कर्मचारी भी शामिल थे। हालांकि चौक-चौराहे पर तैनात पुलिस के जवान बिना मास्क लगाए घूमने वालों को रोककर फटकार लगाकर वापस लौटाते रहे। इसके बाद भी लोग लापरवाही से बाज नहीं आ रहे हैं, यह सिलसिला देर शाम तक चला।
जिला और पुलिस प्रशासन लॉकडाउन का शत प्रतिशत पालन कराने की कोशिश लगातार कर रहे हैं। लेकिन सख्ती न होने का फायदा घुमक्कड़ उठा रहे है। गली-मुहल्लों में लोग समूह में बैठकर शारीरिक दूरी बनाने के नियमों की धज्जी उड़ा रहे हैं। पुलिस ने ऐसे लोगों पर ड्रोन कैमरे से नजर रखना शुरू कर दिया है। रायपुर और आरंग में 22 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई। शनिवार की आधी रात को सिविल लाइन पुलिस थानाक्षेत्र के राजातालाब, पंडरी में बिना मास्क और समूह में खड़े दस युवकों को गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भेज दिया।

भिलाई । कोविड 19 नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण से शहर को मुक्त रखने सैनिटाइजिंग का कार्य निरंतर जारी है, निगम के स्वास्थ्य विभाग का अमला टैंकर एवं हैन्ड स्प्रे द्वारा सैनेटाइज का कार्य सघन रूप से कर रहे है। नगर पालिक निगम भिलाई क्षेत्र में कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम के लिए निगम प्रशासन आमजन से अपील कर रही है कि लोग अपने घर में ही रहे ताकि कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सके, वहीं लाॅक डाउन के तहत सोशल डिस्टेंस बनाए रखने सभी सार्वजनिक स्थानों की माॅनिटरिंग भी नियमित रूप से की जा रही है। 

भिलाई निगम के सभी जोन के स्वास्थ्य विभाग की टीम अपने-अपने क्षेत्र के वार्डों में सोडियम हाइपोक्लोराइट के घोल से घरों, दुकान, सार्वजनिक स्थानों बाजार - मंच इत्यादि के साथ ही घरों के खिड़की, दरवाजे व फर्नीचरों व शौचालयों एवं आसपास के क्षेत्र को सेनेटाइज कर रही है। निगम भिलाई के अंतर्गत सभी जोन कार्यालयों द्वारा प्रतिदिन दो पालियों में टैंकर व हैन्ड स्प्रे के माध्यम कर्मचारी नियमित रूप से सेनेटाइज करने में जुटे हुए है। निगम का स्वास्थ्य अमला लोगों को बता रहे है कोरोना का संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंस का पालन करें, हाथों को बार बार सेनेटाइज या साबुन से धोते रहे तथा मुंह, आंख व चेहरे को छूने से पहले हाथों की सफाई जरूरी है।  

ताकि संक्रमण न फैले। दुर्गा सायकल स्टोर लाईन, मितानीन गली, संतोषी पारा, जनता ब्लाक, कोसा नगर, कृष्णा नगर, राजू किराना के पास, गौतम नगर, चिंगरी पारा, कमला मेडिकल के पीछे, पुराना हाउसिंग बोर्ड, पुरानी बस्ती कोहका, सुभाष गली, अजय स्टोर के पीछे आर्य नगर सड़क नं. 08 बंधन तालाब, सड़क नं. 03, 04 गली, पटेल होटल लाईन के आस-पास, एम.आई.जी. 2/329 से 378 तक, एल.आई.जी.48 से 123 तक, जोन 04 के छावनी, बापूनगर, बालाजी नगर, दुर्गा मंदिर, न्यू खुर्सीपार, कांती मार्केट, शास्त्री नगर, गौतम नगर सहित विभिन्न क्षेत्रों में सोडियम हाइपोक्लोरीड के घोल का उपयोग करते हुए हैन्ड स्प्रे एवं टैंकरों के माध्यम से सघन रूप सेनेटाइज करने का कार्य 2 पाली में किया गया। जोन कार्यालय के स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी हैन्ड स्प्रे से सेनेटाइज करने का कार्य करते हुए घर एवं आसपास के स्थल को स्वच्छ बनाए रखने की अपील किए।

भिलाई । दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन तब्लीगी मरकज की इत्जिमा में शामिल हुए एक और जमाती को पुलिस ने खोज निकाला है। जमाती हुडको में अपने भाइयों के घर पर रह रहा था। वो जगदलपुर में आर्किटेक्ट का काम करता था। उसे खोजने के बाद पुलिस ने उसे क्वारंटाइन तो करवा दिया है, लेकिन उसे लेकर प्रशासन की चिंता काफी ज्यादा बढ़ गई है। क्योंकि वो न सिर्फ भिलाई में रहा है, बल्कि अपनी भतीजी की शादी में भी शामिल हुआ है। जिससे उसके दर्जनों लोगों के संपर्क में आने की आशंका है।

भिलाई नगर थाना प्रभारी सुरेश ध्रुव ने बताया कि शनिवार को जिस जमाती को हुडको से खोजा है, उसका नाम अबु नातिक खान बताया जा रहा है। वो छह से नौ मार्च को मरकज में हुए इज्तिमा में शामिल हुआ था। इसके बाद वो 10 मार्च को भिलाई आया और उसी दिन जगदलपुर चला गया था। जगदलपुर जाने के लिए वो पहले रायपुर गया और वहां से जगदलपुर के लिए रवाना हुआ। वहां से फिर वे 19 मार्च को भिलाई लौटा और अपनी भतीजी की शादी में शामिल हुआ। इसके बाद लॉकडाउन लागू हो जाने के कारण वो भिलाई से वापस जगदलपुर नहीं जा सका। उसके यहां होने की जानकारी भी जगदलपुर से ही मिली थी। वहां के लोगों ने पुलिस को बताया कि हुडको में एक जमाती रुका हुआ है, जो जगदलपुर में काम करता है।


प्रारंभिक जांच में पता चला है कि जमाती अबु नातिक खान करीब 90 लोगों के संपर्क में आया है। उसके परिवार में 30 लोग हैं और करीब 50 से अधिक लोग उसकी भतीजी की शादी में आए थे। हालांकि उसने पुलिस से दावा किया है कि कोरोना के चलते लॉकडाउन की घोषणा के बाद उसने स्वास्थ्य विभाग को जानकारी दी थी। स्वास्थ्य विभाग के कहने पर उसने खुद को होम आइसोलेट कर लिया था और 14 दिन की अवधि पूरा कर चुका है, लेकिन पता चलने के बाद पुलिस ने उसे क्वारंटाइन सेंटर भेजा है। साथ ही उसका सैंपल भी रायपुर भेजा है।