Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



पूरब  टाइम्स दुर्ग। पोटिया क्षेत्र में शहर के छात्र छात्राओं की सुविधा के लिए 12 करोड़ की लागत से बनाया जा रहा हेमचंद यादव यूनिवर्सिटी का प्रशासनिक भवन अब पूर्णता की ओर है। चार एकड़ क्षेत्र में फैले हुए कैंपस का डेढ़ वर्ष पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं विधायक अरुण वोरा के द्वारा किया गया था जिसका स्ट्रक्चर अब मूर्त रूप में नजर आने लगा है। कार्य की प्रगति देखने पहुंचे वरिष्ठ विधायक अरुण वोरा ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में सरकार शिक्षा एवं रोजगार की दिशा में सार्थक कदम उठा रही है। स्कूली शिक्षा के क्षेत्र में स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल से लेकर उच्च शिक्षा में हेमचंद यादव विश्वविद्यालय, महेंद्र कर्मा विश्वविद्यालय का कार्य प्रगति पर है।

 दुर्ग जिले के छात्र छात्राओं को आईआईटी, तकनीकी विश्वविद्यालय के बाद 12 करोड़ की लागत से हेमचंद यादव यूनिवर्सिटी के प्रशासनिक भवन का बड़ा लाभ मिलने जा रहा है जिससे उनके सभी काम एक ही छत के नीचे संचालित हो सकेंगे एवं सर्वसुविधायुक्त भवन बन जाने से भटकाव की स्थिति खत्म होगी। जल्द ही परिसर में पहुंच मार्ग एवं अन्य आवश्यक विकास कार्यों का निष्पादन भी कराया जाएगा। सरकार बनने के साथ ही शिक्षा स्वास्थ्य एवं अधोसंरचना में पर्याप्त राशि का प्रावधान रखा गया है कोविड काल मे भी भूपेश सरकार ने प्रदेश में विकास की रफ्तार थमने नहीं दी है। 

यूनिशेड निर्माण के लिए एक महीने की मोहलत वोरा ने विश्वविद्यालय के बाद इंदिरा मार्केट में निर्माणाधीन यूनिशेड के औचक निरीक्षण में अधिकारियों सहित पहुंचे। जहां अधिकारियों ने बताया कि एक माह के भीतर सब्जी व्यवसायियों एवं आमजनता की सुविधा के लिए सर्वसुविधायुक्त भव्य शेड बनकर तैयार हो जाएगा एवं धूप बरसात एवं गर्मी से निजात मिलने के साथ ही साफ सफाई भी बेहतर एवं सुचारू रूप से हो सकेगी। इस दौरान एमआईसी अब्दुल गनी, अनूप चंदनिया, हामिद खोखर, राजेश शर्मा, अंशुल पांडेय, अजहर जमील, भोजराम यादव एवं निगम के कार्यपालन अभियंता मोहनपुरी गोस्वामी मौजूद थे।

पूरब टाइम्स दुर्ग। कुछ दिनों पूर्व नगर निगम दुर्ग के द्वारा निगम क्षेत्र के बड़े बकायेदारों पर  बकाया राशि वसूल करने अभियान चलाया गया जिसके तहत राजेंद्र पार्क के पास स्थित लूट लो सेल का ₹3,00,000 बकाया वसूल करने की बात कही गई, इसके लिए नोटिस भी जारी किया गया परंतु बजाय बकाया राशि देने के दुकानदार रातों-रात दुकान खाली कर दिया।

पूरब टाइम्स दुर्ग। छत्तीसगढ़ राज्य भंडारगृह निगम के अध्यक्ष एवं वरिष्ठ कांग्रेस विधायक अरुण वोरा ने वेयरहाउसिंग चेयरमैन के रूप में 1 वर्ष पूर्ण होते ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात कर एक वर्ष की उपलब्धियों का रिपोर्ट कार्ड सौंपा साथ ही उन्होंने भंडारगृह निगम की ओर से कोरोना की तीसरी लहर से बचाव की तैयारियों के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष में 11 लाख रु की राशि का चेक भी प्रदान किया। वोरा ने कारपोरेशन की उपलब्धियों के बारे में बताते हुए सीएम से कहा कि प्रदेश सरकार की विकासवादी सोंच के अनुरूप लगातार भंडारगृह की स्वनिर्मित क्षमता बढ़ाने एवं नवीन गोदामों के निर्माण व धर्मकांटों की क्षमता बढ़ाने का कार्य जारी है। एक वर्ष में 31 हजार 600 एमटी के गोदामों का निर्माण पूर्ण हो चुका है एवं 24 स्थानों पर 2.068 लाख एमटी के गोदाम निर्माणाधीन हैं।

 वित्तीय वर्ष 2019-20 में निगम ने 104.426 करोड़ का लाभ अर्जित किया है एवं 20-21 में लाभ बढ़कर 141 करोड़ होना संभावित है। 14 करोड़ की लागत से नवा रायपुर में मध्य भारत का पहला फ़ूड टेस्टिंग लैब , निगम गठन के 19 वर्षों बाद स्वयं का सेवा भर्ती एवं पदोन्नति नियम 2021 की शासन से स्वीकृति एवं दूरस्थ स्थानों पर समय पर राशन सुनिश्चित करने 1500 राशन दुकान सह गोदामों के निर्माण की प्रक्रिया प्रारंभ करना एक बड़ी उपलब्धि है। जिसे जल्द से जल्द आगे बढ़ाया जाएगा। 

श्री वोरा ने कहा कि निगम ने किसान एवं कर्मचारी हित का विशेष ध्यान रखते हुए सामान्य किसानों को भंडारण शुल्क में 20 प्रतिशत एवं अनुसूचित जाति व जनजाति के किसानों को 30 प्रतिशत की छूट दी है साथ ही कोरोना काल मे कर्मठता से अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करने के एवज में प्रोत्साहन के रूप में एक माह का वेतन दिया एवं कोविड से काल कलवित हुए 5 कर्मचारियों के परिजनों को तत्काल अनुकंपा नियुक्ति प्रदान की है। वोरा ने एक वर्ष की उपलब्धियों एवं निगम द्वारा संचालित कार्यों के विषय मे सीएम को एक बुकलेट भी सौंपा। मुख्यमंत्री ने वोरा के कार्यों एवं सक्रियता की तारीफ करते हुए  भंडारगृह की तरफ से प्रदान किए गए मुख्यमंत्री सहायता कोष में 11 लाख की सहयोग राशि के लिए धन्यवाद दिया।

पूरब टाइम्स दुर्ग। वरिष्ठ कांग्रेस विधायक अरुण वोरा ने दुर्ग शहर में चल रहे 64 करोड़ की लागत से मुख्य मार्ग निर्माण एवं शहर की 5 प्रमुख आंतरिक सड़कों के मजबूतीकरण और सौंदर्यीकरण के लिए भेजे गए 49 करोड़ के प्रस्ताव को जल्द स्वीकृति देने के संबंध में लोक निर्माण विभाग के विभागीय सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी से महानदी भवन में मुलाकात की। 

वोरा ने परदेशी को बताया कि विगत दो वर्षों से शहरी क्षेत्र में अधिक जनसंख्या दबाव वाले 5 सड़कों के पुनर्निर्माण का प्रस्ताव बजट में शामिल कराया गया है किंतु वित्तीय स्वीकृति नहीं मिल पाने से कार्य प्रारंभ कराया नहीं जा सका है जिसमें पटेल चौक से ग्रीन चौक तक 2.025 किमी, मिनीमाता चौक से जेल तिराहा फोरलेन 4.675 किमी, मालवीय नगर चौक से जेल तिराहा 1.45 किमी, राजेन्द्र पार्क चौक से ग्रीन चौक 1.2 किमी एवं गांधी चौक से जेल तिराहा तक 1.975 किमी की सड़कों का चौड़ीकरण एवं डामरीकरण शामिल है। 

वर्तमान में इन कार्यों को जल्द से जल्द स्वीकृति दी जाने से मुख्य मार्ग निर्माण के साथ साथ इन मार्गों का भी कार्य संपादित कराया जा सकता है जिससे आमजनता को वर्षों तक निर्माणाधीन सड़कों के कारण समस्या ना झेलना पड़े और शहर की सुंदरता एक साथ उभरकर सामने आ सके। मुख्यमंत्री एवं लोक निर्माण मंत्री का गृह जिला होने के कारण जन मानस को राजधानी की तर्ज पर तेज गति से विकास कार्यों की उम्मीद है। जनभावनाओं को देखते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू से भी इस आशय से आग्रह किया गया है।  ​श्री वोरा ने बोरसी रुआबंधा मार्ग का भूमिपूजन होने के बावजूद कार्य प्रारंभ नहीं होने पर नाराजगी भी जताई। जिस पर विभागीय सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी ने ठोस पहल का आश्वासन दिया 

पूरब टाइम्स दुर्ग। नगर निगम रिसाली में आने वाले समय में निगम व भवन सहित सभी प्रकार की आवश्यकता वाले विकास कार्यों को जल्द ही मूर्त रूप मिलेगा। यहाँ नगर निगम अंतर्गत स्कूल, कालेज, अस्पताल सहित सड़क, पानी की मूलभूत कार्यों को गति पूर्वक करते हुए निगम क्षेत्र को विकसित किया जाएगा। इस दिशा में आ रही जमीन संबंधी समस्या को लेकर गृह मंत्री ने जिला प्रशासन, निगम व बीएसपी के अधिकारियों की उच्च बैठक कर आ रही समस्या को सुलझाने और निगम के विकास की दिशा में कार्ययोजना बनाने कहा। मंत्री श्री साहू ने रिसाली निगम के लिए पूर्व में आबंटित भूमि के हस्तांतरण में आ रही समस्या को शीघ्र हल करने कहा। बैठक में निगम अंतर्गत स्वीकृत विकास कार्य व भविष्य में किये जाने वाले कार्यों की भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि जिन कार्यों के लिए बजट आबंटन किया गया है और जिसका टेंडर लिया गया है, उसे शीघ्र प्रारम्भ कराया जाए जिससे निगम की मूल आवश्यकता और यहां रहने वाले नागरिकों को इसका लाभ मिल सके। उन्होंने विकास की दृष्टि से आगामी समय के लिए रणनीति तैयार करने और इसके लिए शासन को भी अवगत कराने कहा।

भिलाई। नंदकट्ठी निवासी एक युवक ने अपनी मां पर केरोसिन छिड़ककर उसे आग के हवाले कर दिया। घटना में महिला करीब 90 फीसद तक झुलस चुकी है। उसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना की जानकारी मिलते ही नंदिनी पुलिस ने आरोपित के खिलाफ हत्या के प्रयास की धारा के तहत प्राथमिकी दर्ज कर उसे हिरासत में लिया है।

पुलिस ने बताय कि ग्राम नंदकट्ठी निवासी सूर्यकांत वर्मा ने अपनी मां मधु वर्मा (50) पर केरोसिन छिड़ककर उसे आग लगा दिया। शाम को मधु वर्मा अपनी बेटी रेणुका और पोती के साथ घर पर थी। वहीं उसका पति कृष्णा वर्मा काम पर गया हुआ था। शाम करीब चार बजे आरोपित सूर्यकांत वर्मा घर पर पहुंचा और उसने अपनी बेटी को नहलाने की बात को लेकर विवाद शुरू कर दिया।

विवाद के दौरान आरोपित सूर्यकांत वर्मा ने अपनी बहन और बेटी को घर के एक कमरे में बंद कर दिया और परछी में अपनी मां पर केरोसिन छिड़ककर उसे आग लगा दिया। उसके चीखने चिल्लाने की आवाज सुनकर आस पास के लोग वहां गए और आग को बुझाया। महिला को फौरन अस्पताल पहुंचाया और पुलिस को जानकारी दी गई। पुलिस ने महिला का अस्पताल में बयान लिया है। जिसमें उसने अपने बेटे सूर्यकांत वर्मा के कृत्य के बारे में बताया है।

दुर्ग। आल इंडिया डेमोक्रेटिक यूथ आर्गेनाइजेशन के द्वारा देशभर में बेरोजगारी के खिलाफ लड़ाई लड़ने के उद्देश्य से कैलाश नगर दुर्ग में राष्ट्रीय युवा सम्मेलन का आनलाइन माध्यम से आयोजन किया गया। जिसमें विभिन्ना राज्यों से पांच हजार से अधिक युवाओं ने इसमें भाग लिया। सम्मेलन में बेरोजगारी की समस्या के खिलाफ एक प्रस्ताव रखा गया। साथ ही बेरोजगार संघर्ष समिति का गठन किया गया। सम्मेलन में सभी बेरोजगार युवाओं को बेरोजगारी भत्ता देने की मांग भी की गई।

प्रस्ताव में कहा गया कि देश में निजी करण,सार्वजनिक कंपनियों को बेचने, संविदा नीति के तहत केंद्र और तमाम राज्य सरकारों द्वारा सभी कार्यों को ठेकेदारी प्रथा में देने व विभागीय कार्यों को बंद करने के कारण भयंकर बेरोजगारी बढ़ रही है। देश में विभिन्ना राज्य और केंद्र सरकार ने अभी तक पचास लाख से अधिक पदों को खत्म किया है और करीब 50 लाख पद रिक्त हैं। जिस पर भर्ती नहीं की जा रही है। संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विश्वजीत हारोड़े ने इस प्रस्ताव के समर्थन में अपना वक्तव्य दिया।

उन्होंने कहा कि वर्तमान में कोरोना प्रभावित लोगों को बचाने के लिए सरकार ने संविदा पर कर्मचारी रखे थे ऐसे उन कोरोना योद्धाओं को बर्खास्त कर दिया गया। जिन शिक्षकों का चयन हो गया है उन्हें नौकरी नहीं दी जा रही है। स्कूल और कालेज में शिक्षकों से अस्थायी रूप से काम करवाया जाता है। जिन्हें नियमित किया जाना चाहिए।

सम्मेलन को छत्तीसगढ़ के राज्य प्रभारी आत्माराम साहू व दुर्ग जिला सचिव देवेंद्र चौरे सहित अन्य लोगों ने भी संबोधित किया। राष्ट्रीय सम्मेलन में देशभर के युवाओं को एकजुट करते हुए बेरोजगारी संघर्ष समिति का गठन किया गया। इस समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष कर्नाटक के उमा एवं राष्ट्रीय महासचिव दिल्ली के अमरजीत को बनाया गया। नवगठित बेरोजगार युवा संघर्ष समिति ने बेरोजगारी के खिलाफ जोरदार आंदोलन करने एवं नौ अगस्त को पूरे देश भर में धरना-प्रदर्शन करने का निर्णय लिया गया।


जोन-1 नेहरू नगर में शासकीय प्राथमिक शाला माडल टाउन, राधा कृष्ण मंदिर नेहरू नगर, सूर्या माल, प्रियदर्शनी स्कूल लक्ष्‌मी नगर, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कोहका मंगल बाजार, कोहका सामुदायिक भवन, कर्मा विद्यालय सुपेला, सियान सदन मिलन चौक हुडको, भिलाई नायर समाजम बी एन एस स्कूल सेक्टर 8 में जोन-2 वैशाली नगर- राम जानकी मंदिर भवन रामनगर, शिशु मंदिर कैलाश नगर, छत्तीसगढ़ सदन शास्त्री नगर, शासकीय स्कूल हाई स्कूल हाउसिंग बोर्ड, दशहरा मैदान शासकीय स्कूल शांति नगर, दुर्गा पंडाल घासीदास नगर।

जोन-3 मदर टेरेसा नगर-सर्कुलर मार्केट प्राइमरी स्कूल, शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला जेपी नगर कैंप-1, यूपीएचएससी बैकुंठ धाम, जनता स्कूल कैंप-2, बीएसपी मिडिल स्कूल इंग्लिश मीडियम सेक्टर-1, एवेन्यू बी, बीएसपी मिडिल स्कूल इंग्लिश मीडियम सेक्टर-2 ।जोन-4 शिवाजी नगर- मंगल बाजार छावनी, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बापू नगर,पंडित जवाहरलाल नेहरू माध्यमिक शाला खुर्सीपार, शासकीय स्कूल गुरुद्वारा के पास, पावर हाउस बस स्टैंड, सांस्कृतिक भवन अंडा चौक खुर्सीपार में। जोन-5 सेक्टर क्षेत्र - 52 बीएसपी सीनियर सेकेंडरी स्कूल सेक्टर 4, कालीबाड़ी मंदिर सेक्टर 6,डोम शेड सेक्टर 5, एचएससीएल कालोनी दुर्गा पंडाल, हनुमान मंदिर के पास स्ट्रीट 18 सेक्टर-7, बीएसपी स्कूल स्ट्रीट 28 सेक्टर 10 में पहुंचकर टीका लगवा सकते हैं।




पूरब टाइम्स भिलाई/  रायपुर .भूषण अदलखा नामक  फोनकर्ता का पक्ष अब शासकीय कार्यवाहियों के दौरान कैसे सामने आयेगा इसका इंतजार सभी को है व्यापारियों के आपसी झगडे के कारण व्यापारी किसी षड़यंत्र का शिकार तो नहीं हो रहे है इस आशंका के साथ भिलाई के पावर हाउस के मार्केट में व्यापारियों के बीच कई विषयों को लेकर चर्चा चल रही है जिसकी असलियत आने वाले कुछ समय में स्पष्ट हो जाएगी लेकिन अभी की स्थिति में खाद्य सुरक्षा अधिकारी खाद्य एवं औषधि प्रशासन जिला दुर्ग कार्यालय के वायरल पत्र ने भिलाई के व्यापारियों के सामने कई प्रश्न खड़े कर दिए है जिस पर आगामी दिनों मे होने वाली प्रशासनिक कार्यवाही कई पहलुओं को उजागर करेगी पढ़िए इनमे से कुछ चर्चित पहलू. 


विगत दिनों से पावर हाउस स्थित एक दुकानदार के नाम का जिक्र एक शासकीय कार्यवाही के पत्र में आने बाद से यह पत्र सोशियाल मीडिया पर तथाकथित  वायरल होने लगा यह मामला सभी को आकर्षित कर रहा था क्योंकि एक शासकीय अधिकारी नारद राम कोमरे खाद्य सुरक्षा अधिकारी खाद्य एवं औषधि प्रशासन जिला दुर्ग ने अपने वरिष्ठ अधिकारी को पत्र लिखा है यह पत्र श्रीमान अनुविभागीय अधिकारी (रा) दुर्ग सह अभिहित अधिकारी खाद्य एवं औषधि प्रशासन जिला दुर्ग को उन्हीं के अधीनस्थ कार्यरत शासकीय सेवक ने लिखकर अवगत करवाया की शिव ड्राईफुड्स एवं स्वीट्स जवाहर मार्केट पावर हाउस के शिकायत जांच के संबंध में आपके आदेश पर दिनांक 09/07/2021 को मेसर्स शिव ड्राईफुड एवं स्वीट्स मे जांच हेतु उपस्थित हूये निरीक्षण कर नियमानुसार नमूना संकलन किया गया तथा दिनांक 10/07/2021 को मोबाइल नंबर 7974722148 पर मोबाइल नं 9424122056 (नाम भूषण अदलखा ) से मुझे फोन पर कहा गया कि मै सीएम हाउस से बोल रहा हूं उस फर्म पर कार्यवाही ना जाय आवश्यक कार्यवाही पर आपकी ओर सादर सूचनार्थ प्रेषित


नारद राम कोमरे खाद्य सुरक्षा अधिकारी खाद्य एवं औषधि प्रशासन जिला दुर्ग का वायरल पत्र जिसमे स्पष्टता से लिखा था कि आवश्यक कार्यवाही हेतु आपकी ओर सादर सूचनार्थ प्रेषित इसलिए सभी यह जानना चाहते हैं कि इस मामले में आखिर कार्यवाही क्या होगी गौर तलब रहे कि जैसे ही यह पत्र कार्यवाही प्रक्रिया ने आया तो शासकीय कार्यवाहीं पर दबाव बनाने के मामले में सीएम हाउस का उल्लेख ज्वलंत चर्चा विषय बन गया जिसके बाद से पावर हाउस क्षेत्र के व्यापारियों ने अपने - अपने स्तर से यह जानने का प्रयास प्रारंभ कर दिया कि सीएम हाउस का इस मामले में क्या भूमिका है चूंकि शिकायतकर्ता एक लोक सेवक है और उसने वायरल पत्र के उल्लेखा नुसार अपने उच्च अधिकारी को लिखित सूचना देकर बताया है कि फोनकर्ता ने क्या बात की है इसलिए अब यह मामला कार्यालयीन प्रकरण का स्वरूप ले चुका है और ऐसी स्थिति में इस मामले में होने वाली प्रत्येक कार्यवाही पर सभी की नजर है क्योंकि इस कार्यवाही का निष्कर्ष यह साबित कर देगा की इस मामले में सीएम हाउस की भूमिका क्या है ?


 शासकीय अधिकारी नारद राम कोमरे खाद्य सुरक्षा अधिकारी खाद्य एवं औषधि प्रशासन जिला दुर्ग का पत्र वायरल होने बाद से सीएम हाउस की प्रतिक्रिया का सभी को इताजार है वैसे इस मामले में जांच किए जाने की बात बताई जा रही है और संभावना व्यक्त की जा रही है कि प्रशासकीय तौर पर सभी संबंधित पक्षों से पूछताछ कि जायेगी चूंकि इस मामले में सीएम हाउस का उल्लेख है इसलिए जन अपेक्षित है कि सीएम हाउस की भी प्रतिक्रिया कभी न कभी इस मामले आयेगी और सम्बंधित पक्षकारों द्वारा अपना स्पष्टीकरण भी दिया जायेगा लेकिन अब आने वाला समय ही बतायेगा कि इस वायरल मामले में जन साधारण की अपेक्षा को कितना महत्व मिलेगा और संबंधित सभी पक्षकारों की प्रतिक्रिया क्या होगी.
भूषण अदलखा नामक  फोनकर्ता का पक्ष रखते हुए उनके भाईसाहब में भी इस मामले से जुड़े कुछ तथ्यों पर प्रकाश डाला है देखें वीडियो 

पूरब टाइम्स रिसाली। मूसलाधार बारिश हो या फिर कड़ाके की ठंड शहर की स्वच्छता की जिम्मेदारी निगम के सफाई मित्र पर है। बारिश में कोई कर्मचारी भीगते हुए कार्य न करे इसी उद्देश्य के साथ रिसाली नगर पालिक निगम के आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे ने रेनकोट वितरण किया। रिसाली स्थित नए कार्यालय भवन में रेनकोट लेने स्वास्थ्य विभाग के 20 सुपरवाइजर व 380 सफाई मित्र एकत्र हुए थे।
इस अवसर पर आयुक्त ने कहा कि सफाई मित्र निगम का आधार है। उनकी सुरक्षा और सेहत का ध्यान पहले पायदान पर होना चाहिए। सफाई मित्र की वजह से आम नागरिकों को स्वस्थ्य वातावरण मिलता है। बरसते पानी में भी वे पानी निकासी के लिए जूझते हैं और नागरिकों को राहत पहुंचाते है। बारिश में कार्य करते समय सेहत न बिगड़े इसलिए उन्होंने पहल करते हुए महिला एवं पुरूष सफाई मित्रों को रेनकोट देने का निर्णय लिया है। रेनकोट वितरण कार्यक्रम में प्रभारी स्वच्छता निरीक्षक बृजेन्द्र परिहार, एल्डरमेन विलास राव बोरकर, डोमार देशमुख व फकीर राम ठाकुर उपस्थित थे।

इस दौरान निगम आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे ने सफाई मित्रों और सुपरवाइजरों से चर्चा की। कार्य करने के समय के साथ ही उनसे क्षेत्र की ऐसी नालियों और नाला के बारे में जानकारी ली जहां सफाई नहीं हुई है। सफाई कर्मचारी व गैंग के सद्स्य का कहना था कि बारिश को देखते हुए मुख्य पानी निकासी के संसाधन मार्ग की सफाई की जा चुकी है। कुछ स्थानों पर कार्य चल रहा है।

पूरब टाइम्स दुर्ग। गुरुनानक दादा बाड़ी मालवीय रोड को चालू करने और वहां हो रहे निर्माण को रोकने के साथ नगर निगम द्वारा दी गई निर्माण की अनुमति को रद्द करने की मांग लेकर भाजपा नेता नरेश तेजवानी, सिंधी समाज के अध्यक्ष मुरली सचदेव, विनोद अरोरा सहित वार्ड के नागरिकों ने रविवार की सुबह वेयर हाउस कार्पोरेशन के चेयरमेन व विधायक अरुण वोरा से मुलाकात की। श्री वोरा ने वार्ड की नागरिकों की समस्याओं को गंभीरता से सुना और इसके निराकरण के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से चर्चा करने का आश्वासन दिया। इस दौरान भाजपा नेता नरेश तेजवानी सहित वार्ड के लोगों का कहना था कि शासन स्तर पर मुआवजा दिलाने के लिए पहल करें ताकि इस मार्ग पर आवागमन सुलभ हो सके।

 श्री वोरा ने नागरिको से कहा कि गुरुनानक दादाबाड़ी मार्ग में पिछले 50 वर्षो से आवागमन होता रहा है। यह मार्ग बेहद महत्वपूर्ण है। जनता की भावना का सम्मान होना चाहिए। उन्होने कहा कि भाजपा शासनकाल में यदि मुआवजा दे दिया गया होता तो यह समस्या आज सामने नहीं आती। लेकिन भाजपा सरकार ने जनभावना का आदर नहीं किया। नागरिकों को हो रही परेशानियों से मैं वाकिफ हूं। इस संदर्भ में शासन स्तर पर आपका पक्ष रखूंगा। मैं वार्डवासियों के साथ हूं उनकी समस्या के निराकरण के लिए प्रयास करना मेरा दायित्व है। विधायक वोरा से मुलाकात करने वाले प्रतिनिधि मंडल में सिक्ख समाज के अध्यक्ष हरविंदर सिंह खुराना, सिंधी समाज के अध्यक्ष मुरली सचदेव, अवतार सिंह रंधावा, विनोद अरोरा, पूहूमल, परमजीत सिंह, लब्बे सिंह, दर्शन किंगरानी, केलकर पाजी,  किट्टू  गिल, राजू गिल, जसवंत पाजी, कमल लुनिया सहित अन्य उपस्थित थे। 

पूरब टाइम्स। आज के दौर में हर इंसान पर इतना ओवर स्ट्रेस बढ़ गया है कि रात को नींद तक आना  मुश्किल हो जाता है। काफी कोशिशें करने पर भी नींद नहीं आती है, ऐसे लोग लेट नाइट मोबाईल और टीवी का इस्तेमाल करते है ताकि उन्हें नींद आ सके लेकिन इस बीच उनकी सेहत पर काफी बुरा असर पड़ता है। यह जरूरी नहीं कि दिनचर्या में ज्यादा काम करने के वजह से हमें नींद नहीं आती लेकिन कई बार रात को हमारे गलत खाने की वजह से भी हम नींद न आने की समस्या से परेशान होते हैं। आइए जानते हैं रात में किन चीज़ों का परहेज करना चाहिए ताकि हमें चैन की नींद आ सके- 




लहसुन- लहसुन वैसे तो हमारे शरीर के लिए लाभदायक है लेकिन रात में इसका सेवन करने से आपकी नींद में खलल पैदा हो सकती है।  लहसुन में मौजूद पोषक तत्व आपकी हड्डियों और स्वास्थ के लिए फायदेमंद हो सकते हैं लेकिन ये नींद भी खराब कर देती है। अगर आपको भी अकसर रात में नींद न आने की दिक्कत रहती है उनको रात में लहसुन के सेवन से बचना चाहिए।


पूरब टाइम्स दुर्ग।  आज दुर्ग रेल्वे स्टेशन परिसर में रेल्वे प्रशासन एवं जी.आर.पी. के विशेष सहयोग से राजेश श्रीवास्तव जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दुर्ग के मार्गदर्शन एवं निर्देश पर यात्रीगणों को उपभोक्ता अधिनियम, नशा उन्मूलन संबंधी कानूनी विधिक जानकारी दिये जाने के संबंध में विशेष जागरूकता शिविर आयोजित किया गया। रेलवे परिसर में उक्त जागरूकता अभियान में विशेष तौर पर ऐसे लोग को जो कि बिना मास्क धारण किए रेलवे परिसर में घूम रहे हैं, उन्हें इस आशय का बंधपत्र भरवाया जा रहा है कि कोविड-19 संक्रमण के बचाव के संबंध में सार्वजनिक स्थान पर मास्क अवश्य लगाउॅगा तथा शासन की कोविड संबंधी नियमों का पालन करूंगा ।

 राहुल शर्मा न्यायिक मजिस्ट्रेट सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने बताया कि कोविड संबंधित नियमों का पालन करना अति आवश्यक है ताकि कोविड-19 महामारी से बचा जा सके साथ ही उन्होंने बताया कि रेलवे क्षेत्र में अक्सर यह शिकायत प्राप्त होती है कि विक्रेता किसी वस्तु पर वर्णित एमआरपी से ज्यादा उस वस्तु को बेचते हैं।

विक्रेता मुद्रित एमआरपी से ज्यादा का कोई सामान नहीं ले सकता है और  कोई भी दुकानदार और निर्माता द्वारा निर्धारित एमआरपी से अधिक नहीं बेच सकता है, परंतु यदि कोई दुकानदार एमआरपी मूल्य से ज्यादा मूल्य से वस्तु को बेचता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई हो सकती हैं। वर्तमान में ग्राहकों से एमआरपी से अधिक कीमत वसूलने वालों को अधिकतम 1 लाख रुपए का जुर्माना देना होता है। पहली गलती पर 25 हजार रुपये का जुर्माना है, जिसे बढ़ाकर 1 लाख रुपए किये जाने का प्रस्ताव है। दूसरी गलती पर अभी 50 हजार लिए जाते हैं, जिसे बढ़ाकर 2.5 लाख रुपए किये जाने की बात है। तीसरी गलती पर अभी 1 लाख रुपए का जुर्माना लगता है, जिसे बढ़ाकर 5 लाख रुपए करने का प्रस्ताव है।

रेल्वे परिसर एवं दुर्ग रेल्वे स्टेशन पर उपस्थित होने वाले यात्रीगणों  एवं जनमानस को उपभोक्ता अधिनियम की जानकारी नही होती है यात्रीगणों को उपभोक्ता अधिनियम की जानकारी नही होने से कानूनी उपचार प्राप्त नही हो पाता है। यात्रा के दौरान तथा समय पर साईबर क्राईम के माध्यम से यात्रीगण ठगी का शिकार हो जाते है। यात्रा के दौरान नशा का सेवन करने वाले व्यक्ति भी यात्रियों से अव्यवहारिक व्यवहार करते है। इन सभी की कानूनी जानकारी दिये जाने के उद्वेश्य से ही इस विशेष जागरूकता अभियान की शुरूआत की गई है। जागरूकता अभियान 16 जुलाई से 19 जुलाई 2021 तक चलाया जाएगा तथा परिसर में लोगों को विधिक जागरूक किया जाएगा।