Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



बिलासपुर। सिविल लाइन पुलिस ने अंतरराज्यीय सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है, पुलिस ने गिरोह के 5 युवती और 2 युवकों को गिरफ्तार किया है, और पीटा एक्ट के तहत कार्रवाई कर रही है। हीलालाल विहार कालोनी महर्षि रोड़ स्थित एक मकान को किराए पर लेकर सेक्स रैकेट चलाया जा रहा है. जहां दूसरे राज्यों से लड़कियों को बुलाकर उनसे देह व्यापार कराया जा रहा था। 




रायपुर। आज पुलिस ट्रांजिट मेस, पुलिस लाइन में जिला पुलिस बल के 3 प्रधान आरक्षक व 1 आरक्षक को उनकी अधिवार्षिकी आयु 62 वर्ष पूर्ण होने पर उमनि/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव के निर्देशानुसार उप पुलिस अधीक्षक लाइन मणि शंकर चंद्रा द्वारा विभाग से सेवानिर्वित्त हुए प्रधान आरक्षक ब्रह्मदेव सिंह, विष्णु साहू, सुरेश बाबू कटियार व आरक्षक महेश दुबे को समारोह आयोजित कर पूरे सम्मान के साथ विदाई दी गई ।

चंद्रा ने सेवानिर्वित्त हुए कर्मचारियों से अनुरोध किया कि वे अपने अनुभवों को सदैव विभाग से साझा करते रहेंगे। यह आशा भी की गई कि आप सभी दीर्घायु और निरोगी हो। इसी दौरान भारतीय स्टेट बैंक, शाखा शास्त्री मार्किट के प्रबंधक बिनेश्वर कामत ने उपस्थित कर्मचारियों को डिजिटल बैकिंग और उसके लाभ से अवगत कराया। इस अवसर पर रक्षित निरीक्षक चंद्र प्रकाश तिवारी, सूबेदार अभिजीत भदौरिया, गोविंद कुमार वर्मा सहित 50 अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।





देर रात उसका बेटा जब उसे खाना खाने के लिए उठाने आया तो उसने दरवाजा नहीं खोला। तब बेटे ने खिड़की के पास जाकर देखा तो परशुराम फांसी के फंदे पर लटका हुआ था। जीवित होने की संभावना पर उसकी पत्नी और बेटे ने फंदे से उसे उतारा, लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। उसने आयरन (प्रेस) के तार से फांसी लगाई थी. परशुराम मंडावी ने आत्महत्या क्यों की इसके कारणों का पता नहीं चल पाया है। 

रायपुर। अमित जोगी व ऋचा जोगी के प्रथम पुत्र रत्न की प्राप्ति होने के पश्चात आज अमित जोगी के जन्मदिन के अवसर नन्हें जोगी का गृह प्रवेश हुआ है। नन्हें जोगी का स्वागत गाजे बाजे के साथ किया गया, जिससे जोगी परिवार में खुशियां दुगुनी हो गई है। इस अवसर पर कोटा विधायक रेणु जोगी ने राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री स्व. अजीत जोगी की ईच्छानुसार उनके गृह जिले गौरेला-पेन्ड्रा-मरवाही जिले में स्वास्थ्य संबंधी सेवाऐं जनता को उपलब्ध कराने उनकी एंबुलेंस एवं दो व्हील चेयर को मरवाही की जनता के लिए समर्पित कर रहे हैं। जिसके सुचारू रूप से संचालन एवं संधारण के लिए मरवाही में 15 सदस्यीय एक ट्रस्ट का गठन भी किया है। ट्रस्ट में बून्द कुवंर मास्को, देवकी ओट्टी, पुश्पेष्वरी सिंह, भगवती र्पोते, पुष्पा टाडिया, राम शंकरराय, सुनील गुप्ता, प्रताप भानु, गणेश पाण्डेय, कैप्टन राम भजन, विजय चौबे, गंगा केसरी, विरेन्द्र बघेल, अजुर्न सिंह, अर्जुन मार्को, दयाराम पाव सम्मलित है।

रायपुर। कांग्रेस समन्वय समिति की आज बैठक हो रही है जिसमें बचे निगम-मंडलों में नियुक्ति के लिए नाम तय होने की संभावना है। बैठक के लिए कल शाम छत्तीसगढ़ प्रभारी पी.एल.पुनिया रायपुर पहुंच चुके है। वे इस बैठक में निगम-मंडल, आयोगों की दूसरी सूची औैर संगठन के कामकाज की जानकारी लेंगे। रायपुर पहुंचने पर पुनिया ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि जिन्होंने कांग्रेस को सत्ता दिलाने के लिए 15 साल तक संघर्ष के साथी रहे हैं औैर भाजपा के भ्रष्ट सरकार शासन को हटाने के लिए मेहनत की है उन सबके चेहरे याद हैं। उन्होंने कहा कि निगम-मंडलों में नियुक्ति की प्रक्रिया जारी है। उन्होंने कहा कि कुछ पहली मीटिंग में तय हुए हैं कुछ आज होने वाली बैठक में तय होंगे कुछ आने वाले समय में होंगे। यह सतत चलने वाली प्रक्रिया है। उन्होंने कहा कि निगम-मंडल के अलावा संगठन के कामकाज और रणनीति पर भी चर्चा होगी।
निगम-मंडल और आयोगों में होने वाली नियुक्तियों की दूसरी सूची एक-दो दिन में जारी होने की संभावना है। मीडिया में आई खबरों के अनुसार इस बार जिन्हें बड़ी जिम्मेदारी दी जा रही है, उनमें सुशील आनंद शुक्ला को दुग्ध महासंघ, आरपी सिंह को ब्रेवरेज कार्पोरेशन तथा पंकज शर्मा कोऑपरेटिव बैंक का चैयरमैन बनाने की तैयारी है। इस बार आने वाली सूची में महिला विधायकों को मौका दिया जा रहा है। इनमें अनिता शर्मा और संगीता सिन्हा को हाउसिंग बोर्ड का सदस्य बनाया जा रहा है। वहीं इस बार सबसे चौंकाने वाला नाम सन्नी अग्रवाल का है जिसे सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल जैसे बड़े उपक्रम की जिम्मेदारी दी जा रही है। प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया और सीएम भूपेश की मौजूदगी में शनिवार होने वाली समन्वय समिति की बैठक में नामों को अंतिम रूप दिया जाएगा। 

इधर माना जा रहा था कि इस सूची में वरिष्ठ विधायक सत्यनारायण शर्मा का नाम आ सकता है लेकिन उन्होंने अपने पुत्र पंकज का नाम आगे बढ़ाया है और यदि विधायक धनेंद्र साहू कोई पद नहीं लेते तो उनके पुत्र प्रवीण का नाम भी लगभग तय है। इसी तरह विधायक अमितेश शुक्ल द्वारा भी अपने पुत्र का नाम आगे बढ़ाए जाने की चर्चा है। दरअसल सीएम भूपेश की अध्यक्षता में एक सप्ताह पहले हुई बैठक में लगभग सभी नाम तय कर लिए गए हैं। पहली खेप में प्रदेश के 26 सरकारी उपक्रमों के पदों पर नियुक्तियां की गई थी अभी लगभग 23 उपक्रमों में नियुक्तियां शेष हैं। इस बार होने वाली नियुक्तियों में अध्यक्ष के अलावा उपाध्यक्ष और सदस्यों के नाम भी घोषित किए जाएंगे।

धमतरी। 60 वर्षीया बुजुर्ग ने पत्नी से विवाद के बाद शराब के बाद जहर पी लिया, गंभीर हालत में उसे अस्पताल ले जाया गया, जहाँ उसकी मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि बीती रात बिरेझर चौकी क्षेत्र के ग्राम नवागांव से यह मामला प्रकाश में आया है। ग्रामीण दाऊलाल साहू 60 वर्ष, अपनी पत्नी घुरवा बाई 55 वर्ष पर शंका करता था। इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ था।


पड़ोसियों की मदद से उसे जिला अस्पताल धमतरी लाकर भर्ती कराया गया है, जहां उसकी मौत हो गई। इधर इस संबंध में बिरेझर चौकी प्रभारी शांता लकड़ा ने बताया कि शंका को लेकर पति पत्नी में विवाद हुआ था,जिसके चलते पति ने घर के सामानों को आग के हवाले कर दिया था और जहर भी पी लिया था,जिससे उसकी मौत हो गई है। पुलिस मामले में आगे छानबीन कर रही है।

राजनांदगांव। शनिवार सुबह हुए सड़क हादसे में बिलासपुर हाईकोर्ट के जज गौतम चौरडिया के पुत्र प्रियांश चौरडिया की मौत हो गई। घटना कोतवाली क्षेत्र के आरके नगर की है। तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर ट्रेलर में जा घुसी। जानकारी के मुताबिक, प्रियांश चौरडिया शनिवार सुबह करीब 5.30 बजे अपनी कार में पेट्रोल भरवाने के लिए निकले थे। आशंका जताई जा रही है कि लौटने के दौरान तेज रफ्तार कार अनियंत्रित हो गई। इसके बाद आरके नगर में बरफानी बाबा आश्रम के पास सड़क पर आगे जा रहे ट्रेलर में जा घुसी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कार के आगे से परखच्चे उड़ गए।

टक्कर के बाद भी ट्रेलर चालक को पता नहीं चला. ट्रेलर से टक्कर के बाद कार उसी में पीछे फंस गई। इस दौरान ट्रेलर चालक करीब आधा किमी तक कार को घसीटता ले गया, लेकिन उसे हादसे का पता ही नहीं चला। बताया जा रहा है कि सड़क पर जा रहे लोगों ने देखा तो ट्रेलर रुकवाकर पुलिस को सूचना दी। घटना की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई. फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. 

पूरब टाइम्स.भिलाई। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मरीजों को देखते हुए राज्य सरकार ने पूरे प्रदेश में एहतियातन लाॅकडाउन लगाने के निर्देश  कलेक्टर को दिए थे। अंतिम दिन गुरूवार को रिसाली निगम के अधिकारियों ने नियमों की अनदेखी करने वालों के खिलाफ दण्डात्मक कार्यवाही की। वही निगम के स्वास्थ्य विभाग ने आधा दर्जन से ज्यादा संवेदनशील क्षेत्रों में सेनेटाइज किया।

निगम के राजस्व निरीक्षक अनिल मेश्राम व नेवई टी. आई. भावेश साव की संयुक्त टीम नेवई, टंकी मरोदा, रिसाली बाजार क्षेत्र का भ्रमण किया। इस दौरान नेवई स्थित कश्यप किराना दुकान निर्धारित समय के बाद भी खुला था। इसी तरह प्रतिबंध के बाद भी काशी पशु आहार केन्द्र संचालित होना पाया गया। नियमों की अनदेखी करने पर दोनों दुकान संचालक से क्रमशः 500 व 1000 रूपए  जुर्माना वसूल किया गया।

रिसाली निगम क्षेत्र के पाॅश काॅलोनी से लेकर श्रमिक बाहूल्य क्षेत्र में कोरोना पाजिटिव मिले है। जिस क्षेत्र में कोरोना संक्रमित मिले है उन क्षेत्र को जिला प्रशासन के निर्देश पर कंटेनमेन जोन बनाए गए है। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने गुरूवार को मरोदा सेक्टर, प्रियदर्शनी नगर, मैत्रीकुंज शुभकामना अपार्टमेंट, स्टेशन मरोदा, लक्ष्मी नगर रिसाली, रिसाली सेक्टर, अवधपुरी, बी ब्लाक तालपुरी पहुंचकर सेनेटाइज किया।@GI@


जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ केआर सोनवानी ने मौत की पुष्टि की है। बच्चे के माता-पिता समेत परिवार के 7 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले थे। रिपोर्ट के बाद सभी को पांच अगस्त को कोविड हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। जहां इलाज के दौरान बच्चे की मौत हो गई। मौत की सूचना के बाद जिला चिकित्सालय में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

सीएमएचओ सोनवानी ने बताया कि बच्चे को तीन दिन पहले कोविड अस्पताल लाया गया था। बच्चे के माता-पिता सहित परिवार के 7 लोग संक्रमित थे। गुरुवार को देर रात अचनाक तबियत बिगड़ने से उसकी मौत हो गई है। बच्चा कोरोना पॉजिटिव था, इसलिए बच्चे का पोस्टमार्टम नहीं किया जाएगा। प्रोटोकॉल के तहत बच्चे के परिजनों को शव सौंपी जाएगी।

कवर्धा। कोरोना वायरस की वजह से लागू लॉकडाउन के बीच लोग अपने घरों में कैद हैं. संक्रमण के डर से बाहर निकलना कम हो गया है. छत्तीसगढ़ में तो कोरोना संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए कई जगह फिर से लॉकडाउन भी लगा दिया गया है. ऐसे में जब कहीं मुफ्त की शराब मिलने की खबर मिले, तो लोगों का धैर्य जवाब दे ही जाता है. कवर्धा में आज कुछ ऐसा ही हुआ. यहां शराब से भरा एक ट्रक पलट गया, जब तक पुलिस आती, स्थानीय लोग शराब लूटने दौड़ पड़े. भीड़ ऐसी टूटी कि पुलिस को इसे तितर-बितर करने के लिए लाठियां तक भांजनी पड़ गई. 

नेशनल हाइवे रायपुर-जबलपुर रोड में रानी सागर गांव के पास टायर फटने के बाद ट्रक अनियंत्रित होकर शराब से भरा एक ट्रक पलट गया। हादसे में ट्रक ड्राइवर को गंभीर चोटें आई हैं. दुर्घटना के बाद उसे इलाज के लिए नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इस बीच बताया गया कि ट्रक में 250 पेटी शराब लोड थी. हाईवे पर ट्रक के पलटने के बाद शराब की पेटियां सड़क पर छितरा गईं. इसकी जानकारी मिलते ही आसपास के गांव के लोगों में शराब की बोतलें लूटने की होड़ मच गई। ट्रक में शराब की बोतलों के 200 कार्टून लदे हुए थे जिनकी कुल कीमत 20 लाख रुपए थी। ट्रक पलटने से कितने का नुकसान हुआ है इसका पता अभी तक नहीं लगाया जा सका है। कवर्धा के एक्साइज ऑफिसर ने यह जानकारी दी।

बिलासपुर। कभी कभी ज्यादा होशियारी खुद पर भारी पड़ जाती है। कुछ ऐसा ही ट्वीटर पर हुआ, जहां एक यूज़र ने आईजी दीपांशु काबरा को ट्रोल करने की कोशिश की, लेकिन उसके साथ मामला उल्टा हो गया। खुद का छोड़ा तीर खुद को लग गया। दरअसल सोशल मीडिया पर सक्रिय दीपांशु काबरा ने तो जो जवाब दिया सो दिया ही, पलटवार यूँ हुआ कि, ट्रोल करने की कोशिश में आईजी दीपांशु के फ़ॉलोवर्स ने ही उलट उसे ट्रोल कर दिया और ट्रोल करने की कोशिश भारी पड़ गई।

दरअसल अपने ट्वीटर हैंडल पर दीपांशु काबरा ने एक वीडियो शेयर किया था, यह वीडियो महासमुंद के उस लड़के का है जिसके एक वीडियो पर कई मीम बन गए थे। वीडियो में उस युवक ने कहा था। मत करो भाई ऐसा. दिल से बुरा लगता है. उस लड़के ने नया वीडियो जारी किया और यह भी हिट हो गया,जिसमें उसने मज़ाक़िया अंदाज में कहा मुझे दिल से बहुत बुरा लगता है जब स्कुल में लड़कियाँ ज़बर्दस्ती राखी बांध देती हैं. यही सिलसिला कॉलेज में भी चल रहा है. मुझे दिल से बुरा लगता है।

इस वीडियो को शेयर करते हुए  दीपांशु  ने पत्रकारों को ही ट्वीट किया और मज़ाक़िया अंदाज में कहा मेरे इस नन्हे दोस्त का मुद्दा उठाईए और मदद करिए दिल से बुरा लगता है। इस वीडियो के लोग मज़े लेने लगे और मज़ेदार था भी। तभी अनुग्रह पटेल नाम के यूज़र ने कमेंट मे अचानक लिखा बहुतायत में आप ऐसे लोगों को टैग करते हैं जो कि नफरती हैं या कि फ़र्ज़ी खबरों को वायरल करते हैं। क्यों श्रीमान अधिकारी ? क्या आप भक्त भी है?

इस कमेंट की भाषा और अंदाज उकसाने वाला था, लेकिन इस पर बहुत सहज भाव से दीपांशु काबरा ने जवाब दिया पटेल, यह मेरी मर्ज़ी है मैं किसे फ़ॉलो करुं क्या ट्वीट रिट्वीट और लाईक करुं। यदि आपको कोई समस्या है तो इसी वक्त मुझे अनफॉलो कर लीजिए। इस जवाब के बाद ट्वीटर यूज़र ने तो कोई रिप्लाई नहीं किया, लेकिन दीपांशु काबरा को जानने वाले और ट्वीटर के उनके साथियों ने उस यूज़र को चौतरफ़ा ही घेर दिया। और अंततः वो फिर लौट कर कुछ कहने नहीं आया। @GI@


रायपुर। कांग्रेस ने पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह से पूछा है कि अब रमन सिंह बता दें कि पनामा पेपर्स में जिस अभिषाक सिंह का नाम है वह उनका पूर्व सांसद बेटा अभिषेक सिंह ही है या नहीं? कांग्रेस संचभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि पहले तो रमन सिंह इस बात से इनकार करते रहे कि अभिषेक सिंह अभिषाक सिंह नहीं हैं लेकिन अब वे सच बता दें.



पनामा पेपर्स में दिए गए पते पर सवाल उठाते हुए शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि पनामा पेपर्स में ‘रमन मेडिकल स्टोर्स, विंध्यवासिनी वार्ड, कवर्धा’ का पता है, अगर ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड में कालाधन जमा करवाने के लिए किसी और व्यक्ति ने इस पते का दुरुपयोग किया है तो उन्होंने मुख्यमंत्री रहते इसकी शिकायत क्यों नहीं की? उन्होंने कहा है कि अगर वे पहले इसकी शिकायत नहीं कर पाए तो अब भूपेश सरकार से इसकी शिकायत कर दें और कांग्रेस वादा करती है कि सरकार इसकी निष्पक्ष जांच करेगी.

संचार विभाग प्रमुख ने कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह को इस बात का भी जवाब देना चाहिए कि उनके घर के पते पर विदेश में जमा हुआ काला धन अगुस्टा हेलिकॉप्टर की धांधली और दलाली से कमाया हुआ पैसा तो नहीं था? उन्होंने कहा है कि रमन सिंह छत्तीसगढ़ की जनता के प्रति जवाबदेह हैं और उन्हें बताना चाहिए कि उनके पते पर खुले खाते में पैसा किसका है और कहां से आया?

शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि रमन सिंह यह कतई न सोचें कि वे सत्ता से हटते ही जवाबदेही से मुक्त हो गए हैं. वे अपने 15 साल के कार्यकाल की हर धांधली, हर कमीशनखोरी और हर दलाली के लिए जवाबदेह हैं और उन्हें जनता को जवाब देना ही होगा. अभी पनामा पेपर्स की जांच चल रही है और आज नहीं तो कल सच तो सामने आ ही जाएगा और तब तक जनता की ओर से कांग्रेस सवाल पूछती रहेगी कि छत्तीसगढ़ का नवाज़ शरीफ़ कौन है?

रायपुर। राजधानी में इस समय लॉकडाउन लगाया गया है। प्रशासन के सख्त निर्देश के बावजूद रायपुर के मंडी गेट के पास कपड़ा शो रूम से कारोबार जारी था। शिकायत मिलने पर निगम की टीम ने छापा मारकर दुकान संचालक के खिलाफ कार्रवाई की है। निगम की टीम ने कार्रवाई कर शोरूम को सील कर दिया है।

आरोपी व्यापारी लॉकडाउन में भी शो रूम से कपड़ा कारोबार संचालित कर रहा था, सुबह 7 बजे से ही व्यापार शुरू कर देता था। व्यापार संचालन का वीडियो भी सामने आया था। शिकायत मिलने पर निगम की टीम ने छापा मारा तो शिकायत सही पाई गई, जिस पर टीम ने शोरूम को सील कर दिया है।

रायपुर। राम की नगरी अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। इसकी तैयारियां पूरी हो चुकी है। जिन्हें आमंत्रण मिला है, वो अयोध्या के लिए रवाना हो रहे हैं। राम मंदिर भूमिपूजन समारोह के लिए छत्तीसगढ़ से एकमात्र संत युधिष्ठिर को न्यौता मिला है। इसके अलावा किसी को भी आमंत्रण नहीं मिला है। मंगलवार सुबह संत युधिष्ठिर रायपुर एयरपोर्ट से अयोध्या के लिए रवाना हो गए हैं।

अयोध्या में राम जन्मभूमि के भूमिपूजन में शामिल होने शदाणी दरबार के नवम पीठाधीश संत युदिष्टर लाल के अयोध्या रवाना होने पर डॉ. भीष्म शदाणी, ललित जैसिंघ, उदय शदाणी, सचिन मेघानी, विवेक जैन ने उन्हें बधाई दी। दरअसल अयोध्या में आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम में देश भर से केवल 150 संतों को आमंत्रित किया गया है, जिसमें से छत्तीसगढ़ से अकेले संत युधिष्ठिर लाल को ही आमंत्रित किया गया है।

इससे पहले संत युधिष्ठिर ने अपना कोरोना टेस्ट कराया था, उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। बता दें कि रायपुर से करीब 20 किलोमीटर दूर मंदिर हसौद के समीप ग्राम चंद्रखुरी में रामजी की माता कौशल्या का जन्म स्थल है। छत्तीसगढ़ भगवान राम का ननिहाल है। इसीलिए बहुत वर्षों से विश्वहिंदू परिषद की उच्च अधिकार समिति से जुड़े हुए संत युधिष्ठिर लाल को न्योता मिला है।

रायपुर। मुख्यमंत्री ने राज्यपाल की रक्षाबंधन पर भेजी गई राखी मिलने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा है कि रक्षाबंधन और भुजलिया पर्व के अवसर पर आपने मुझे स्नेह, आर्शीवाद तथा राखी भेजकर जो विश्वास व्यक्त किया है, वह मेरे लिए अत्यंत प्रसन्नता तथा सम्मान का विषय है। भूपेश बघेल ने बहन अनुसुइया उइके को रक्षाबंधन पर्व की परंपरा अनुरूप भाई की तरफ से शुभकामनाओं सहित उन्हें नगद राशि और साड़ी उपहार में भेजी है।

मुख्यमंत्री बघेल ने बहन सुश्री उइके को लिखे पत्र में कहा है कि रक्षाबंधन का यह पर्व हमारे पारिवारिक संबंधों को नए शिखर पर पहुंचाने का माध्यम बना है। आपका संरक्षण मेरे और राज्य के लिए सौभाग्य का विषय है। मुख्यमंत्री के रूप में अपने दायित्वों का निर्वहन करने, कोरोना महामारी से निपटने और प्रदेश को प्रगति के पथ पर आगे ले जाने के लिए आपने मेरा जो उत्साहवर्धन किया है, उसके लिए मैं सदैव आपका आभारी रहूूंगा।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि यह पावन पर्व हमारी महान संस्कृति के गरिमामय उत्कर्ष का प्रतीक भी है, जो बहनों के प्रति भाईयों के संकल्पों को सुदृढ़ बनाता है। आपने उत्तरदायित्वों के प्रति सजग करते हुए मुझे जो शुभकामनाएं प्रेषित की है, उसके लिए मैं कृतज्ञता व्यक्त करता हॅू तथा आपको विश्वास दिलाता हॅू कि आपकी भावनाओं के अनुरूप अपनी जिम्मेदारियों का निर्वाह पूरी निष्ठा तथा परिश्रम से करूंगा।