Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



नारायणपुर। छत्तीसगढ़ में सबके लिये शिक्षा के लक्ष्य की प्राप्ति हेतु वैकल्पिक शिक्षा व्यवस्था की आवश्यकता का ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ शासन द्वारा विद्यार्थियों को शिक्षा के मुख्य धारा से पुन: जोडऩे के लिए छ.ग. राज्य ओपन स्कूल प्रारंभ किया गया। इसी संदर्भ में वर्ष 2020-21 हेतु मुख्य परीक्षा में सम्मिलित होने अध्ययन केन्द्रो में फार्म जमा करने की अंतिम तिथि 5 जनवरी 2020 निर्धारित की गई।

जिले में तीन अध्ययन केन्द्र क्रमश: शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नारायणपुर, शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नारायणपुर, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय ओरछा बनाये गये हैै। जिला समन्वयक केन्द्र के प्राचार्य ने बताया कि ऐसे छात्र जो इस परीक्षा में सम्मिलित होना चाहते हेै, वे अध्ययन केन्द्रों के प्रभारी शिक्षक से संपर्क कर सकते है अथवा विस्तृत जानकारी हेतु वेबसाईट पर देख सकते है।

रायपुर। महामानव भारत के शिल्पकार संविधान निर्माता डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस 6 दिसंबर को भारतीय बौध्द महासभा के सयुक्त तत्वधान में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया है। समाज के जिला अध्यक्ष प्रकाश रामटेके ने कार्यक्रम की जानकारी दी. की भारत रत्न बोधिसत्व डाँ. बाबा अम्बेडकर जी का 64 वाँ. परिनिर्वाण दिवस आंबेडकर चौक मे बाबा साहेब के प्रतिमा के पास श्रृध्दाजंलि सभा का कार्यक्रम आयोजित किया गया है।

रायपुर। प्रदेश के पत्रकारों की निष्पक्ष एवं स्वतंत्र पत्रकारिता के लिए राज्य शासन द्वारा प्रस्तावित छत्तीसगढ़ पत्रकार सुरक्षा कानून के प्रारूप को आज प्रारूप निर्माण समिति की ऑनलाइन बैठक में चर्चा कर अंतिम रूप दिया गया है। प्रारूप निर्माण समिति शीघ्र ही छत्तीसगढ़ पत्रकार सुरक्षा कानून का प्रारूप राज्य शासन को सौंपेगी। ऑनलाइन बैठक को सम्बोधित करते हुए समिति के अध्यक्ष उच्चतम न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश न्यायमूर्ति अफताब आलम ने प्रारूप समिति एवं उप समिति के सदस्यों को सहयोग के लिए धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि प्रस्तावित छत्तीसगढ़ पत्रकार सुरक्षा कानून देश के अन्य राज्यों के लिए उदाहरण बनेगा।

समिति को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मीडिया सलाहकार एवं प्रारूप निर्माण समिति के सदस्य रूचिर गर्ग ने कहा कि राज्य शासन प्रदेश में निष्पक्ष एवं स्वतंत्रता पत्रकारिता के लिए कृत संकल्पित है। उन्होंने कहा कि प्रस्तावित पत्रकार सुरक्षा कानून इस दिशा में मील का पत्थर साबित होगा। समिति की ऑनलाईन बैठक में प्रारूप निर्माण समिति के सदस्य एवं देशबंधु समाचार पत्र समूह के प्रधान सम्पादक ललित सुरजन को श्रद्धांजलि भी अर्पित की गयी। बैठक में प्रारूप निर्माण समिति एवं उप समिति के सदस्य न्यायमूर्ति अंजना प्रकाश सेवा निवृत्त न्यायाधीश उच्च न्यायालय, वरिष्ठ अधिवक्ता उच्चतम न्यायालय राजू रामचन्द्रन, उच्चतम न्यायालय की अधिवक्ता शोमोना खन्ना, सुमिता हजारिका, जवाहर राजा, अनुज प्रकाश, निशांत कुमार, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रूचिर गर्ग, नागपुर के वरिष्ठ पत्रकार प्रकाश दुबे, अपर मुख्य सचिव गृह विभाग सुब्रत साहू, प्रमुख सचिव विधि विधायी एन.के. चन्द्रवंशी, पुलिस महानिदेशक डी.एम. अवस्थी, आयुक्त जनसम्पर्क तारण प्रकाश सिन्हा उपस्थित थे।

उल्लेखनीय है कि राज्य शासन ने प्रदेश में पत्रकार सुरक्षा कानून लाने के लिए माह मार्च 2019 में उच्चतम न्यायालय के सेवा निवृत्त न्यायाधीश न्यायमूर्ति आफताब आलम की अध्यक्षता में वरिष्ठ कानूनविद, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों, वरिष्ठ पत्रकारों की एक समिति का गठन किया था। समिति ने अनेक दौर की चर्चा पश्चात् प्रस्तावित पत्रकार सुरक्षा कानून का प्रारूप तैयार कर माह नवम्बर 2019 में प्रदेश के अनेक जिलों में भ्रमण कर सुझाव प्राप्त किए और संशोधित प्रारूप तैयार किया। कोरोना संकट को देखते हुए संशोधित प्रारूप पर माह अक्टूबर 2020 में ऑनलाईन सुझाव प्राप्त कर प्रस्तावित छत्तीसगढ़ पत्रकार सुरक्षा कानून को अंतिम रूप दिया गया।

रायपुर। एक बड़ी खबर आ रही है कि पूर्व सीएम रमन सिंह को हाईकोर्ट से राहत मिली है। आय से अधिक सम्पत्ति के मामले में हाईकोर्ट में याचिका लगाई गई थी। इस याचिका पर हाईकोर्ट ने सुनवाई से इंकार कर दिया है। उन्होंने ने इसी मामले में हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। जस्टिस संजय के अग्रवाल की सिंगल बेंच ने निजी कारणों का हवाला देते हुए मामले में सुनवाई से इंकार कर दिया है। अब मामले को चीफ जस्टिस की डिवीजन बेंच के पास भेजा जाएगा।
विनोद तिवारी का आरोप है कि रमन सिंह ने 2008-09 और 2013-14 के विधानसभा चुनाव के दौरान अपनी संपत्ति से जुड़े ब्यौरे को छिपाया था। विनोद तिवारी ने रमन सिंह पर आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का आरोप लगाया है। विनोद तिवारी ने पूरे मामले में सीबीआई से मांग की थी। हालांकि जब मामला हाईकोर्ट के समक्ष आया तब सिंगल बेंच ने निजी कारणों का हवाला देते हुए सुनवाई से इंकार कर दिया। अब मामले को चीफ जस्टिस की डिविजन बेंच के पास भेजा जाएगा, जिसके बाद चीफ जस्टिस तय करेंगे कि मामले को किस बेंच के पास सुनवाई के लिए भेजना है। 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ राज्य को निःशुल्क और प्राथमिकता के आधार पर टीका आबंटित करने का अनुरोध प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से किया है। उन्होंने प्रधानमंत्री को भेजे पत्र में कहा है कि छत्तीसगढ़ आदिवासी बाहुल्य राज्य है, इसलिए इसे प्राथमिकता से पहले चरण में शामिल करते हुए कोविड-19 का निःशुल्क टीका उपलब्ध कराया जाए। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से छत्तीसगढ़ राज्य के प्रति अविरल सहयोग के लिए भी धन्यवाद किया है। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि कोविड-19 महामारी से देश के भीतर लोगों में तनाव और भय की एक अभूतपूर्व स्थिति निर्मित हुई है। 

देश के प्रत्येक व्यक्ति की शांति और उनका अच्छा स्वास्थ्य सुनिश्चित करना हमारा सर्वोच्च कर्तव्य है। जैसा कि हम सभी जानते हैं, कोरोना वायरस से जुड़े प्रकरणों और उससे होने वाली मृत्यु की रोकथाम के लिए कोविड-19 का टीकाकरण अत्यंत महत्वपूर्ण है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने संकेत दिया है कि निकट भविष्य में वैक्सीन उपलब्ध होने की संभावना है जो मानवता के लिए बड़ी उपलब्धि है। 

मुख्यमंत्री ने अपने पत्र में यह भी बताया है कि छत्तीसगढ़ आदिवासी बाहुल्य राज्य है, इसलिए प्राथमिकता से पहले चरण में ही छत्तीसगढ़ को शामिल करते हुए कोविड-19 टीकाकरण निःशुल्क उपलब्ध कराया जाए। कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम के क्रियान्वयन के लिए छत्तीसगढ़ राज्य पूरी तरह से तैयार है। इस टीकाकरण हेतु राज्य स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के अलावा पुलिस बल, राजस्व विभाग, शहरी विकास विभाग, ग्रामीण पंचायत विभाग के फंट लाईन वर्कर्स और मीडिया कर्मियों जैसे कोरोना योद्धाओं को भी शामिल करने की योजना है।



राजनांदगांव। राजनांदगांव मेडिकल कालेज में एक बड़ा हादसा टल गया। आईसीयू वार्ड में आक्सीजन सिलेंडर लीक हो गया, जिसके बाद पूरे वार्ड में आक्सीजन फैल गया। हादसे के बाद पूरे वार्ड में गैस फैल गया। इस हादसे में एक मरीज की मौत हो गयी, जबकि 9 मरीज को तत्काल दूसरे वार्ड में शिफ्ट में किया गया, जहां सभी का इलाज चल रहा है। हादसा देर रात की बतायी जा रही है। राजनांदगांव मेडिकल कालेज के आपातकालीन वार्ड में अचानक से आक्सीजन गैस का रिसाव होने लगा।
परिजनों का आरोप है कि अस्पताल में रात में डाक्टर और नर्स नहीं थे, उनकी गैर मौजूदगी में आया ने आक्सीजन सिलेंडर का वाल्ब खोला जा रहा था, जिसकी वजह से ये हादसा हो गया।गैर लीकेज की खबर मिलते ही चौकी में पदस्थ एक जवान ने फायर सिलेंडर की मदद से गैस पर काबू पाया और मरीज को तत्काल प्रभाव से शिफ्ट कराया गया। इस घटना में अभी तक एक मरीज की मौत हो गयी , जबकि बाकी 9 मरीज को इलाज के लिए दूसरे वार्ड में शिफ्ट किया गया।

जगदलपुर। बस्तर जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग पर कल रात हुए एक सडक दुर्घटना में एक ही परिवार के चार लोगो की मौत हो गई, जिसमें पति पत्नी समेत दो बच्चे शामिल हैं और एक गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस के अनुसार बीजापुर निवासी कावरे परिवार के पांच लोग वाहन में सवार थे। कल एक शादी समारोह मे शामिल होने कोण्डागांव जिले में स्थित लंजोड़ा गये थे। कल रात लौटते समय राष्टीय राजमार्ग कोण्डागांव-जगदलपुर मार्ग पर ग्राम सुकुरपाल के पास उनकी सूमो खड़ी ट्रक में जाकर भिड़ गई। 
हादसा इतना जगरदस्त था कि मौके पर चार लोगों की मौत हो गयी । वहीं एक परिवार का सदस्य गंभीर रूप से घायल हो गया। इस भीषण हादसे में काफी समय तक मृतको का शरीर ट्रक के पहिये में फंसा रहा। ट्रक और कार के बीच फंसे मृतकों को बड़ी मुश्किल से निकाला गया। मृतको में बुर्जुग दंपति पेंटा कावरे ,पत्नी प्रभा कावरे, और दो जवान बेटे अविनाश कावरे तथा राहुल कावरे शामिल हैं। घायलों में प्रदीप सूर्यवंशी जिसकी स्थिति गंभीर बतायी जात रही है, उसे कोण्डागांव अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती किया गया है।

जांजगीर चाम्पा। जांजगीर चाम्पा में छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडेरेशन ने 14 सूत्रीय मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा है। इनमें मुख्य रूप से वेतन विसंगति को दूर करना, लंबित महंगाई भत्ते का स्वीकृति आदेश जारी करना, छत्तीसगढ़ वेतन पुनरीक्षण नियम 2017 का बकाया एरियर्स, 04 किश्त के भुगतान हेतु आदेश जारी करना सहित अन्य मांगे शामिल है।

ज्ञापन सौंपने के दौरान अधिकारी-कर्मचारियों ने शासन के रवैए को लेकर आक्रोश जताया। ज्ञापन मे कहा गया है कि आश्वासन के बावजूद मांगों पर विचार नही होने से कर्मचारी जगत व्यथित है। कर्मचारियों अधिकारियों की मांग के विषय मे फिलहाल कोई आश्वासन उन्हे नही मिला है। वही ज्ञापन लेने वाले डिप्टी कलेक्टर ने भी कुछ कहने से इनकार कर दिया।

रायपुर। जी हां आज शहर को स्मार्ट सिटी की तर्ज पर डेव्हलप करने का काम रायपुर नगर निगम और स्मार्ट सिटी लिमिटेड कर रही है। इस दौरान संकरी सड़कों को ट्रॉफिक के अनुसार चौड़ी करने व बिना पार्किंग वाली बिल्डिंगों के लिए पार्किंग की समूचित व्यवस्था की जा रही है, लेकिन राजधानी के हृदय स्थल में स्थित मेडिकल कॉम्प्लेक्स सालों से पार्किंग का मोहताज बना हुआ है। कॉम्प्लेक्स निर्माण के वक्त भी निगम के अफसरों ने नक्शा पास करने से पहले पार्किंग की व्यवस्था अनुरूप भवन निर्माण की अनुमति देना मुनासिफ नहीं समझा।
इसका खामियाजा अब राजधानी की जनता को भुगतना पड़ रहा है। सड़कों पर खड़ी होने वाली गाडिय़ों की वजह से कई दिन घंटों का जाम इस सड़क पर लग जाता है। इसके साथ ही मेडिकल से निकलने वाले एक्स्पायरी दवाईयों के वेस्ट खुले में पड़े कभी भी देखे जा सकते हैं। निगम के अफसर सिर्फ खाना पूर्ति मात्र सफाई के लिए शिकायत मिलने पर आते हैं। इसके अलावा कचरा फेंकने वाले मेडिकल दुकान संचालकों के खिलाफ निगम अमले की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की जाती। 
इसी का नतीजा है आज मेडिकल कॉम्प्लेक्स के सामने का स्थान मीनी ट्रेन्चिंग ग्राउंड में तब्दील हो गया है। वहीं यदि मेडिकल कॉम्प्लेक्स में पर्याप्त पार्किंग की व्यवस्था नहीं है तो वाहनों को नियंत्रित करने या फिर पार्किंग की समूचित व्यवस्था करने निगम, जिला व मेडिकल कॉम्प्लेक्स के संचालक मंडल को मिलकर निकालने की आवश्यकता है, लेकिन इस अव्यवस्था पर सब पल्ला झाडऩे में लगे हैं। इस ओर निगम अफसरों व महापौर की नजर कब पड़ेगी यह तो समय ही बताएगा।@GI@




मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को एक समाचार पत्र में छपी खबर से छात्रा खुशबू कुर्रे के कठिन संघर्ष और नीट परीक्षा में सफलता के बारे में जानकारी मिली। खुशबू ने परिवार की कठिन आर्थिक परिस्थितियों के बावजूद मेडिकल कॉलेज में प्रवेश के लिए अपनी पढ़ाई जारी रखी और इस वर्ष दूसरे प्रयास में नीट परीक्षा क्वालिफाई की। 
खुशबू को नीट परीक्षा में 1822 की रैंक मिली है। वे राजनांदगांव मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस की पढ़ाई करेंगी। खुशबू के पिता मेकेनिक का काम करते हैं। भूपेश बघेल ने खुशबू की लगन की सराहना करते हुए उन्हें आगे की पढ़ाई के लिए एक लेपटॉप और 50 हजार रूपए की सहायता राशि मंजूर की है। 

रायपुर। कार्तिक शुक्ल एकादशी (देवउठनी) पर बुधवार की शाम को घर-घर में तुलसीजी का विवाह रचाने के लिए तैयारियां जोर-शोर से हो रही हैं। तुलसी पौधे के चारों ओर मंडप सजाने के लिए सुबह से गन्नों की खूब बिक्री हो रही है। हर चौक, चौराहों, मोहल्लों में सड़क पर गन्ना बेचने वालों के चेहरों पर मुस्कान दिखाई दे रही है। गन्ना खरीदने लोगों की भीड़ उमड़ रही है। गन्ना बेचने वालों ने बताया कि राजधानी के हर मोहल्ले में 15 से 20 जगह पर गन्ना दुकानें सजी हैं। संपूर्ण राजधानी में एक हजार से अधिक दुकानें लगी हैं। चूंकि हर घर में गन्ना खरीदा जाता है, इसलिए अनुमान है कि कुछ ही घंटों में 30 से 40 लाख रुपये के गन्ने बिक जाएंगे।

नवागढ़ बेमेतरा से गन्ना बेचने आए युवा हरीश निषाद ने बताया कि वे पिछले पांच सालों से गन्ना बेच रहे हैं, उनके साथ दो तीन युवा भी आते हैं। हर साल तुलसी पूजा के दौरान एक ही दिन में 30 हजार का कारोबार कर लेते हैं। उनकी तरह 200 से अधिक व्यापारी गावों से गन्ना खरीदकर लाते हैं। इसके बाद स्थानीय युवा कई जगह पर दुकान सजा आसानी से गन्ना बेच देते हैं। आज के दिन हजारों महिला-पुरुष गन्ना खरीदने बाजार में उमड़ते हैं। प्रायः सभी दुकानदार चार पांच हजार रुपये की बिक्री कर लेते हैं। एक हजार दुकानदार के हिसाब से 40-50 लाख का व्यापार हो जाता है। यही कारण है कि गांव गांव से लोग गन्ना बेचने रायपुर आते हैं। 

गरियाबंद। त्रिवेणी संगम राजिम में प्रतिवर्ष माघी पुन्नी के अवसर पर लगने वाले राजिम माघी पुन्नी मेला के आयोजन के लिए स्थाई रूप से जमीन का चिन्हांकन और आवश्यक प्रक्रिया तेज हो गई है। कलेक्टर ने आज अनुविभागीय अधिकारी जी. डी. वाहिले और पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों के साथ चौबेबांधा रोड पर चिन्ह अंकित 54 एकड़ जमीन का मुआयना किया। 

कलेक्टर निलेशकुमार क्षीरसागर ने इन स्थलों का जायजा करते हुए कहा की इस क्षेत्र में अधोसंरचना विकास के लिए निश्चित कार्य योजना बनाई जाए। उन्होंने संतो के निवास, व्यवसायिक प्रतिष्ठान, मीना बाजार, नागा अखाड़ा, मुख्य मंच ,शौचालय ,आवास, कौशल्या माता मंदिर सहित अनेक आवश्यक अधोसंरचना निर्माण के लिए अधिकारियों से चर्चा की। कलेक्टर ने कहा की आवश्यकता पडऩे पर इन स्थलों पर निजी जमीनों का भू-अर्जन कर बदले में जमीन दी जाएगी। 

उन्होंने पटवारी को आवश्यक कार्यवाही प्रारंभ करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने मौजूद धरसा का सीमांकन करने के लिए राजस्व विभाग को निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इस स्थल क्षेत्र में चौड़े रोड और अन्य मूलभूत सुविधाएं विकसित की जाएगी। कलेक्टर ने लोक निर्माण विभाग को डीपीआर बनाने के निर्देश दिए हैं। इस मौके पर राजिम रेस्ट हाउस में विधायक अमितेश शुक्ल ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर कार्य प्रगति की समीक्षा की। कलेक्टर ने राजिम मेला के लिए चिन्हित जमीन और उसमें अधोसंरचना विकास के लिए की जा रही तैयारियों की जानकारी दी।

रायपुर। राजधानी के बूढ़ातालाब में नगर निगम और स्मार्ट सिटी की ओर से किए गए सुंदरीकरण कार्य के तीन सप्ताह बाद ही खामियां सामने आ गई हैं। बूढ़ातालाब के पास लाखों की लागत से तैयार झूले ने गुणवत्ता की पोल खोल दी है। महज 24 दिन में ही गार्डन में 45 लाख रुपये की लागत से बच्चों के लिए लगा लोहे का झूला प्लास्टिक की तरह झुकगया है। यदि इसे जल्द ही ठीक नहीं किया गया तो कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।

महापौर एजाज ढेबर ने मुख्यमंत्री को अतिथि बनाकर बूढ़ातालाब परिसर के सुंदरीकरण का खूब तामझाम के साथ उद्घाटन कराया था। बता दें कि बूढ़ातालाब परिसर के सुंदरीकरण का कार्य शुरू से ही विवादित रहा। जानकारों का कहना है कि महापौर के दबाव और अफसरों के जल्द से जल्द इस काम को पूरा करने की होड़ के कारण इस तरह घटिया का झूला सामने आया है।


रायपुर। राजधानी में अब मास्क नहीं लगाने वालों पर प्रशासन कार्रवाई करेगा। टावर से मास्क नहीं लगाने वालों पर निगरानी होगी। कलेक्टर डा.एस. भारतीदासन ने कहा कि कोरोना का खतरा अभी तक टला नहीं है, लोग बिना मास्क लगाए बाहर न निकलें। कलेक्टर ने जिले के गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधियों की बैठक लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए कहा है। दुकानदारों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि अब अपने सभी कर्मचारियों की कोरोना जांच कराएं। इसके बाद ही त्योहारों के कारण उनसे काम कराएं।

कलेक्टर ने चिंता जताते हुए कहा कि वर्तमान में त्योहार आदि के कारण पिछले महीने से बाजार में भीड़ बढ़ गई है। हम सभी को यह याद रखना है और सचेत रहना है कि अभी कोरोना का खतरा टला नहीं है। इस स्थिति को ध्यान में रखते हुए लोगों को एक बार फिर से जागरूक करना आवश्यक हो गया है। लोग बेपरवाह बाजार में घूम रहे हैं। दोबारा कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए सावधानी रखने, मास्क लगाकर रहने और छह फिट की दूरी बनाये रखने की जरूरत है।

इन इलाकों में होगी निगरानी : कलेक्टर ने बताया कि गैर सरकारी संगठनों के वालिंटियर के माध्यम से शहर के भीड़ वाले बाजार जैसे शास्त्री मार्केट, गोल बाजार, पंडरी, तेलीबांधा, कटोरा तालाब, मालवीय रोड, स्टेशन रोड, बूढ़ातालाब, सुंदर नगर, डीडी नगर आदि जैसे स्थानों पर टावर बनाकर माइक के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जनता को भी अपनी जवाबदारी समझनी होगी और कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर का अनिवार्य रूप से पालन करना होगा।

नियम तोड़ा तो होगी कार्रवाईः कोरोना संक्रमण से बचाव और नियंत्रण के लिए दल का गठन किया गया है। दल के निरीक्षण के दौरान बिना मास्क या कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर का पालन नहीं करने वालों पर आर्थिक दंड लगाया जाएगा। बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव, जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी डा. गौरव कुमार सिंह, निगम आयुक्त सौरभ कुमार सहित संबंधित अधिकारी कर्मचारी और व्यापारी संघ जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

राजनादगांव। बसेली थाना क्षेत्र के मानपुर ITBP कैंप से एक बड़ी खबर है. यहां गोली लगने से ITBP के एक जवान की मौत हो गई. गोली जवान की ठोड़ी व गले के बीच लगी है. चौंकाने वाली बात ये है कि फायरिंग जवान की राइफल से ही हुई है. इसलिए जवान ने आत्महत्या की है या फिर ये हादसा है, स्पष्ट नहीं हो सका है. फिलहाल पुलिस और ITBP अपनी ओर से मामले की जांच कर रहे है। 

 जानकारी के मुताबिक, जवान पवन रोमी (32) आदिवासी बाहुल्य नक्सली इलाके मानपुर के ITBP कैंप में तैनात था. शुक्रवार सुबह अचानक से गोली चलने की आवाज सुनाई दी तो साथी जवान भागकर मौके पर पहुंचे. वहां पवन घायल हालत में पड़ा हुआ था. इसके बाद उसे मानपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के लिए लाया गया, जहां डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर गोली निकाल दी। 

इसके बाद जवान को राजनांदगांव जिला अस्पताल रेफर किया गया. हालांकि जवान की हालत बिगड़ रही थी, ऐसे में एयर लिफ्ट कर रायपुर ले जाना था, लेकिन हेलीकॉप्टर आने से पहले ही जवान ने दम तोड़ दिया. पुलिस अधिकारी एरैवार ने बताया है कि जवान ने खुदकुशी की है या फिर राइफल साफ करने के दौरान हादसा हुआ है, यह अभी तक पता नहीं चल सका है. इसको लेकर जांच की जा रही है। 


जानकारी के मुताबिक, अंबागढ़ चौकी से 8 किमी दूर स्थित एक गांव में 5 साल की बच्ची से पड़ोस में रहने वाले 25 साल के युवक ने दुष्कर्म किया। आरोपी रोज बच्ची के साथ खेलता था। गुरुवार रात बच्ची को बहलाकर अपने घर ले गया और दुष्कर्म कर भाग निकला। काफी देर तक बच्ची नहीं दिखने पर घरवाले आरोपी के यहां पहुंचे तो बच्ची लहूलुहान हालत में मिली। इसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया।

परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया और आरोपी की तलाश शुरू की। आरोपी के रिश्तेदारों और परिचितों का पता लगाकर छापा मारा जा रहा था। इस बीच एक टीम जानकारी जुटा कर आरोपी के भिलाई के खुर्सीपार क्षेत्र में रहने वाले बहनोई के घर पहुंची तो वहां छिपा मिल गया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में उसने बच्ची से दुष्कर्म की वारदात भी स्वीकार कर ली है।

कोंडागांव। भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण नई दिल्ली के निर्देशन व नियंत्रक खाद्य एवं औषधि प्रशासन छत्तीसगढ़ के आदेशानुसार अब प्रत्येक मिठाई निर्माता,होटल संचालकों को प्रतिष्ठान में निर्माण की गई मिठाईयों की निर्माण तिथि व उपयोग हेेतु बेस्ट बिफोर दिनांक, मिठाईयों के बॉक्स ट्रे या कंटेनर पर प्रदर्शित करना अनिवार्य किया गया है। 

कोंडागांव जिला प्रशासन द्वारा जिले के मिठाई निर्माताओं की बैठक लेकर इस संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किया गया है।  मिठाईयों की गुणवत्ता को लेकर प्राप्त शिकायतों पर विभाग द्वारा निगरानी की जा रही है एवं विक्रेता व क्रेता दोनों को इस संबंध में जागरूक किया जा रहा है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि गत दिवस मिठाई व्यापारियों को मिठाईयों के सेल्फ लाईफ से संबंधित गाईडलाईन भी जारी किए गए है।

कांकेर। कांकेर की डीआरजी, फॉल्कान टीम, जिला बल व 04 वीं वाहिनी बीएसएफ की सीओबी डुट्टा से एमडी इस्लाम एसी, सुशील पटेल निरीक्षक, हरीशंकर ध्रुव उप निरीक्षक, सौरभ उपाध्याय उप निरीक्षक थाना प्रभारी कोयलीबेड़ा, हेमन्त साहू सहायक उप निरीक्षक, श्रवण कुलदीप सहायक उप निरीक्षक, संपत टांडिया सहायक उप निरीक्षक के हमराह बीएसएफ व डीईएफ की संयुक्त टीम थाना कोयलीबेड़ा क्षेत्रांतर्गत ग्राम केशोकोड़ी, गट्टाकाल की ओर नक्सल गस्त सर्चिंग पर रवाना हुई थी। 

गस्त सर्चिंग के दौरान जरिये मुखबीर सूचना पर ग्राम गट्टाकाल की महिला नक्सली दशरी उर्फ समीता पति तीजू कोरसा अपने परिवार से मिलने आई है जो वर्तमान में माओवादी संगठन के किसकोड़ो एरिया कमेटी सदस्या के रूप में सक्रिय रहकर कार्य कर रही है, सूचना पर घेराबंदी कर महिला को पकड़कर पूछताछ करने पर अपना नाम दशरी उर्फ समीता पति तीजू कोरसा बताई। वह वर्ष 2007 से सकि्रय रूप से नक्सली संगठन में रहकर पानीडोबिर एलओएस, मिलिट्री कम्पनी नम्बर 05, कुएमारी एलओएस में कार्य की है एवं वर्तमान में किसकोड़ो एरिया कमेटी सदस्य के पद पर कुएमारी क्षेत्र में कार्य कर रही है। 

गिरफ्तार माओवादी के खिलाफ पूर्व से कोयलीबेड़ा थाने में एक स्थाई वारंट के अलावा कोरर एवं कोतवाली थाने में पुलिस पार्टी पर हमला, आगजनी जैसे गंभीर मामले में तलाश थी। इसके अलावा जिला कोण्डागांव एवं नारायणपुर जिले में किए अपराधों की जानकारी ली जा रही है। गिरफ्तार माओवादी पर छ.ग. शासन की ईनाम पॉलिसी के तहत् उक्त महिला माओवादी एरिया कमेटी सदस्या पर 05 लाख रूपये का ईनाम घोषित है।