Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

पूरी तरह फिट घोषित होने के लिए क्रिकेटरों को NCA जाना ही होगा: सौरव गांगुली

29/12/2019
नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) बेंगलुरु स्थित नेशनल क्रिकेट एकेडमी (NCA) के अधिकारों को लेकर कोई समझौता करने के मूड में नहीं है। बीसीसीआई ने यह तय कर लिया है कि खिलाड़ियों को चोट से उबरकर पूरी तरह फिट घोषित होने के लिए एनसीए जाना अनिवार्य होगा। यदि किसी को क्रिकेटर का इलाज करना है तो उसे भी एनसीए आना होगा। बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने इस मामले में शुक्रवार को एनसीए प्रमुख राहुल द्रविड़ से मुलाकात की थी। इस मुलाकात के बाद गांगुली ने हिन्दुस्तान टाइम्स को दिए इंटरव्यू में कहा कि एनसीए को लेकर एक सिस्टम तैयार किया गया है। गेंदबाजों/खिलाड़ियों को एनसीए जाना ही होगा। यदि उन्हें किसी अन्य से अपना इलाज करवाना हो तो उस डॉक्टर/फिजियो/विशेषज्ञ को एनसीए आकर ही ऐसा करना होगा। उन्होंने कहा कि इसके पीछे भले ही कुछ भी कारण को लेकिन पूरी व्यवस्था की जाएगी। इस बात का पूरा ख्याल रखा जाएगा कि खिलाड़ी को कोई असुविधा नहीं हो। बोर्ड इसके लिए हरसंभव श्रेष्ठ प्रयास करेगा। उल्लेखनीय है कि तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह रिहैबिलिटेशन के लिए एनसीए नहीं गए थे। उन्होंने अलग से इलाज करवाया और मुंबई में रिहैब किया। इसके बाद जब बुमराह ने एनसीए से फिटनेस टेस्ट लेने को कहा तो एनसीए ने मना कर दिया था। इसके बाद गांगुली को मोर्चा संभालना पड़ा था। गांगुली ने कहा कि एनसीए हमारी प्राथमिकता की लिस्ट में सबसे उपर है। नई जमीन पर एकेडमी का निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा 18 महीनों के अंदर ऐसी विश्वस्तरीय एकेडमी तैयार कर ली जाएगी जहां श्रेष्ठतम सुविधाएं मौजूद रहेंगी।