Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

गोपाल कांडा एक बहुत बदनाम व्यक्ति पर अभी बेहद काम का विधायक ..... दिवालिया एयरलाइंस एयरहोस्टेस आत्महत्या व फर्ज़ीवाड़ा से जुड़े थे तार

26/10/2019
इस बंदे के नाम पे  सियासत गर्मा चुकी है सिरसा से गोपाल कांडा निर्दलीय चुनाव जीत कर आया है। पता नही इस देश मे एकतरफा राय बनाने वाले कब तक नाटक मचाते रहेंगें कोई मुझे बताये कि गोपाल कांडा ने कौन सा  अपराध किया था  एक बारहवीं पास लडकी  कांडा के संपर्क मे आती है। कांडा के गोवा स्थित कैसीनो और होटलो मे सपरिवार कांडा परिवार के साथ महीनो रहती है । चूँकि लडकी  एयर होस्टेज की  ट्रैनिंग ले चुकी है । कांडा उस लडकी पर मेहरबान है । वो लडकी कांडा की बेटी के  हमउम्र और उसकी दोस्त भी है । लडकी के माँ-बाप भी कांडा के होटलो कैसीनो और पब मे मालिको की हैसियत से क्वालिटी टाईम व्यतीत करते रहते है। गोपाल कांडा  एमडीएलआर के नाम से  उस महत्तवाकांक्षी लडकी के लिए बाकायदा एयरलाईन लाँच करता है । लडकी एमडीएलआर एयरलाईन की एमडी यानि मैनेजिंग डायरेक्टर बना दी जाती है । इसके अलावा कांडा उसे सिरसा मे चलने वाले एक इंरनेशनल स्कूल की ट्रस्ट की  चेयरपर्सन भी बनाकर रखता है । 

एक दिन लडकी कांडा से शादी करने का दबाव डालती है, कांडा मना कर देता है। लडकी फिर से दबाव डालती है, मगर कांडा बेटी की दोस्त होने उम्र और अपनी  हैसियत का हवाला देकर मना कर देता है । लडकी एक सुसाईड नोट लिखकर आत्महत्या कर लेती है । लडकी की माँ  रो धोकर कांडा पर आरोप लगाती है। कांडा गिरफ्तार होता है। एमडीएलआर एयरलाईन दिवालिया हो जाती है।   रोहिणी कोर्ट मे गोपाल कांडा सूबूतो के साथ स्वीकार करता है कि उसके लडकी गीतिका शर्मा से शारिरिक संबंध थे। लडकी का दो तीन बार  अबार्शन भी हुआ था। दो बार तो ये अबार्शन लडकी की मम्मी ने ही कराया था। लडकी कांडा से शादी करना चाहती थी। मगर कांडा नही माना था। रोहिणी कोर्ट मे ये भी सूबूतो के साथ साबित होता है कि गोपाल कांडा और उसके अरबो रूपयो के एंपायर मे गोवा मे उसके   कैसीनो होटल रिजाॅर्ट के अलावा वो अकूत संपत्ति का मालिक है। जब कुछ ही सालो पहले तक वो मात्र जूते चप्पलो की दुकान चलाया करता था। सिरसा मे भी कांडा के पास और उसके ससुराल पक्ष के पास महलनुमा घर और खरबो की जमीन जायदाद है। कांडा के मामूली दुकानदार से खरबपति बनने मे उसके  ससुराल पक्ष की भी बडी भूमिका है । 




कोर्ट मे एक और बात निकलकर  सामने आती है, कि कांडा का परिवार और  बारहवीं पास लडकी गीतिका शर्मा के परिवार  गीतिका शर्मा की वजह से बेहद करीबी रहे है। शर्मा परिवार  गोवा थाइलैंड और कई  डेस्टिनेशनो पर सालो से साथ साथ छुट्टियां मनाते आ रहे है। गीतिका के माता पिता कांडा के बिजनेस  एंपायर मे अच्छा खासा दखल रखते है। फिर अचानक लडकी के आत्महत्या करते ही  लडकी का परिवार कांडा पर एक के बाद एक आरोप लगाता है। मगर उनकी लडकी का कांडा से क्या संबंध था इस पर खामोश रहता है। कभी सवाल नही करता कि उनकी बारहवीं पास लडकी  एमडीएलआर एयरलाईन की मैनेजिंग डायरेक्टर कैसे बनी खरबो रूपयो के  साम्राज्य के मालिक की आखिर उनकी बेटी मे क्या दिलचस्पी है,  बेटी के दम पर उन्हे देश विदेश की सैर क्यों कराई जा रही है उनकी कुँवारी बेटी क्यों बार बार एबार्शन करवा रही है । फरवरी 2013 मे गीतिका शर्मा की माँ  अनुराधा शर्मा ने भी बिल्कुल उसी तरीके से आत्महत्या कर ली थी जैसे 2012 मे उनकी बेटी ने की थी। वो भी बिल्कुल उसी तरीके से सुसाईड नोट छोडकर मरी थी। कांडा कोई  चरित्रवान या दूध का धुला  धर्मात्मा नही है। निसंदेह अय्याश भ्रष्टाचारी और दलाली से अकूत संपत्ति अर्जित करने वाला इंसान है। गरीबी से निकला है, और खरबो का साम्राज्य खडा किया है। चरित्रहीन भी है, अय्याश भी हराम के पैसे से गुलछर्रे भी उडाता है। हर चीज को पैसे से हासिल करने का  ख्वाहिशमंद  मै गोपाल कांडा को एक  बिगडैल रईस, चरित्रहीन दुष्ट, कपटी, पापी, नीच, कमीना, मक्कार, भ्रष्ट मानता हूँ। मगर दस सालो तो कांडा के हरम की रानी बनने वाली लडकी और उसके परिवार को दूध का धुला, चरित्रवान, और बेचारे लाचार समझना, हमारे समाज की  अपरिपक्व सोच का परिचायक है।  हालाँकि, मार्च 2014 मे दिल्ली हाई कोर्ट, गीतिका शर्मा केस मे कांडा पर लगे सेक्सुअल हेरासमेंट  के आरोपो को निरस्त कर चुका है ।