Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

धमतरी में पुलिस ने शनिवार को नकली पान मसाला बनाने वाली भंडाफोड़ किया है।

19/10/2019

धमतरी।  धमतरी में पुलिस ने शनिवार को चार मंजिला एक इमारत में चल रही इस फैक्ट्री में छापा मारकर पुलिस ने करीब 30 लाख रुपए का नकली माल सहित मशीनें और अन्य सामान जब्त किया। इस मामले में पुलिस ने फैक्ट्री के तीन संचालकों को हिरासत में ले लिया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। बताया जा रहा है कि इस अवैध कारोबार के खिलाफ शुक्रवार देर शाम से ही कार्रवाई शुरू कर दी गई थी।  बिक्री कम होने पर फैक्ट्री प्रबंधन ने की शिकायत इस पर खरीदार बनकर पहुंची पुलिस मकान में नकली पान मसाले के पैकेट दरअसल प्रदेश में ब्रांडेड कंपनियों के पान मसाले की बिक्री में गिरावट हो रही थी। इस पर कंपनियों की ओर से सर्वे किया गया तो पता चला कि माल दुकानोंं में तो है, लेकिन नकली है। इस पर कंपनी की ओर से पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई। शिकायत के बाद शुक्रवार शाम करीब 5 बजे कंपनी के अधिकारी खरीदार बनकर बस स्टैंड पहुंच गए। यहां उन्होंने गुटखा बनाने वाले सिहावा चौक निवासी मोहन नामक व्यापारी से फोन पर बातचीत की दोनों के बीच 250 पैकेट राजश्री पान मसाला लेने के लिए के लिए सौदेबाजी हुई। 



इसके बाद पुलिस ने शनिवार को मोहन मंधान उसके बेटे सागर मंधान और एक कारोबारी प्रहलाद मूलवानी को हिरासत में लिया। पूछताछ में पता चला कि तीनों ही नकली पान मसाला बनाने वाली फैक्ट्री के संचालक हैं। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने टिकरापारा स्थित मकान में छापेमारी कर वहां से पान मसाना बनाने की मशीन तैयार किए गए नकली राजश्री और विमल पान मसाला के पाउच बरामद किए। साथ ही ग्राम शकरवारा में दबिश के दौरान तीन मशीनें और भारी मात्रा में नकली पान मसाला बरामद हुआ है। 



बरामद माल की कीमत करीब 30 लाख रुपए बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि एक मशीन से हर मिनट 450 पाउच तैयार होते हैं। इस तरह 3 मशीनों से  करीब 1350 पाउच व्यापारी तैयार करता था। इसमें सुपारी की जगह चिकनी सुपारी और चावल की कनकी व कत्थे की जगह केमिकल और बोरिक पाउडर का इस्तेमाल किया जा रहा था। बताया जा रहा है कि नकली पान मसाले का कारोबार करीब 20 वर्षों से धमतरी में चल रहा था। यहां से पान मसाला छत्तीसगढ़ के अलावा ओडिशा मध्य प्रदेश सहित कई अन्य राज्यों में सप्लाई किया जाता है।