Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

सबसे कम मैचों में 200 टेस्ट विकेट लेने वाले बाएं हाथ के बोलर बने जडेजा

04/10/2019
विशाखापत्तनम। भारत के ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा ने टेस्ट क्रिकेट में नया रेकॉर्ड बना दिया है। साउथ अफ्रीका के खिलाफ विशाखापत्तनम में खेले जा रहे सीरीज के पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन उन्होंने डीन एल्गर को आउट कर टेस्ट क्रिकेट में अपने 200 विकेट पूरे कर लिए। जडेजा ने अपने 44वें टेस्ट मैच में यह उपलब्धि हासिल की। वह सबसे कम टेस्ट मैच में 200 विकेट लेने वाले बाएं हाथ के गेंदबाज बन गए हैं। जडेजा ने श्रीलंका के रंगना हेराथ के 47 मैचों के रेकॉर्ड को तोड़ा।
दो विकेटों की थी जरूरत
इस मैच से पहले जडेजा के नाम टेस्ट में 198 विकेट थे। उन्होंने मैच के दूसरे दिन डीन पीड को आउट कर अपने विकेटों की संख्या को 199 तक पहुंचा दिया था। पहले दिन जब साउथ अफ्रीका ने 39 रनों पर अपने तीन विकेट खो दिए थे तो लग रहा था कि जडेजा तीसरे दिन जल्द ही इस रेकॉर्ड को अपने नाम कर लेंगे। हालांकि एल्गर और कप्तान फाफ डु प्लेसिस की जोड़ी ने उनके इंतजार को लंबा कर दिया। तेंबा बावुमा का विकेट ईशांत शर्मा के नाम गया और डु प्लेसिस (55) को रविचंद्नन अश्विन ने आउट किया।
एल्गर को किया आउट
जडेजा ने 160 रनों की मैराथन पारी खेलने वाले एल्गर को चेतेश्वर पुजारा ने कैच किया। उन्होंने पहले डु प्लेसिस के साथ पांचवें विकेट के लिए 115 और क्विंटन डि कॉक के साथ 164 रनों की भागीदारी की।

और कौन है किस नंबर पर
बाएं हाथ के गेंदबाजों की बात करें तो मिशेल जॉनसन ने 49 और मिशेल स्टार्क ने 50 मैचों में अपने 200 टेस्ट विकेट पूरे किए थे। इसके साथ ही बिशन सिंह बेदी और वसीम अकरम ने 51 मैचों में 200 टेस्ट विकेट पूरे किए।

कुल मिलाकर कौन आगे
कुल मिलाकर बात करें तो पाकिस्तान के लेग स्पिनर यासिर शाह इस लिस्ट में सबसे ऊपर हैं। उन्होंने 33 मैचों में यह उपलब्धि अपने नाम की है। वहीं ऑस्ट्रेलिया के क्लेरी ग्रिमेंट ने 36 टेस्ट मैचों में 200 विकेट लिए थे। भारत के रविचंद्रन अश्विन ने 36 मैचों में 200 टेस्ट विकेट पूरे किए थे। वह इस सूची में तीसरे नंबर पर हैं।