Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

केले गिरने से घायल हो गया था मजूदर, ठोंका मालिक पर मुकदमा और बन गया करोड़पति

11/10/2021
पूरब टाइम्स। खेत से फल-सब्ज़ियां तोड़ने की नौकरी  भी रिस्की हो सकती है. कम से कम ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड  के एक खेत में काम करने वाले मजदूर के साथ जो हुआ, वो तो यही बताता है. मजदूर खेत में केले तोड़कर इकट्ठा कर रहा था, इसी बीच हुए एक हादसे में वो ज़ख्मी हो गया. हालांकि मजदूर ने इसके बाद अपने मालिक पर मुकदमा दायर किया और इसे जीता भी.

घटना कुकटाउन  के पास मौजूद एक खेत में हुई. यहीं जैमी लॉन्गबॉटम  नाम का मजदूर पेड़ों से केले तोड़ने की नौकरी करता था. जून, 2016 में एल एंड आर कोलिंस फॉर्म में काम करते वक्त वो केले के एक बड़े गुच्छे के साथ गिरा और बुरी तरह जख्मी हो गया. द केर्न्स पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक जैमी पर एक बड़ा पेड़ और केले का बड़ा गुच्छा भी गिर गया था, जिससे उसे चोट लगी थी.

मजदूर ने दायर किया मालिक पर मुकदमा
केले का पेड़ और केले गिरने के बाद जैमी  दोबारा काम पर नहीं आ सका. इसके बाद उसने अपने मालिक पर मुकदमा दायर करते हुए कहा कि ये हादसा कंपनी की लापरवाही की वजह से हुआ. मजदूरों को इस बात की ट्रेनिंग नहीं दी गई थी कि उन्हें केले के भारी और बड़े गुच्छों को किस तरह हैंडल करना है. पेड़ अप्रत्याशित तौर पर ऊंचे थे और केले भी ऊंचाई पर लगे थे. जैमी ने अपने दाहिने कंधे पर केले के गुच्छे को रखा और भार ज्यादा होने की वजह से वो दाहिनी तरफ ही ज़मीन पर गिर गए. जब उन्हें कुकटाउन में अस्पताल लाया गया, उसके बाद वे काम पर लौटने लायक नहीं रहे.

कोर्ट ने दिलवाया 4 करोड़ का हर्जाना
कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि जैमी 70 किलोग्राम केले के साथ गिरे थे. इस दुर्घटना के बाद वे किसी तरह का शारीरिक श्रम करने लायक नहीं बचे. जज ने ये भी कहा कि जैमी के कटर से पेड़ में गहरा कट इसलिए लगा क्योंकि जैमी को इसकी ठीक से ट्रेनिंग नहीं दी गई. ऐसे में उनके जख्मी होने का खतरा बढ़ा. इसलिए कोर्ट की ओर से जैमी को $502,740 यानि 4 करोड़ का मुआवज़ा देने का आदेश उनकी कंपनी को दिया गया है.