Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

पात्र हितग्राहियों को मिलेंगे पट्टे, दुर्ग निगम तेजी से आवेदनों की कर रहा समीक्षा

14/08/2021
-कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने ली बैठक, निगम अधिकारियों से कहा कि शासन की मंशा अनुरूप हितग्राहियों के आवेदन पर तेजी से कार्रवाई कर पट्टा वितरण के लिए करें चिन्हांकित
-अमृत मिशन के कामों की समीक्षा, तेजी से निपटाने के निर्देश, कहा पेयजल सर्वोच्च प्राथमिकता, तेजी से और गुणवत्तापूर्वक हो क्रियान्वयन
पूरब टाइम्स दुर्ग . दुर्ग निगम में राजीव गांधी आश्रय योजना के अंतर्गत पात्र हितग्राहियों को शीघ्र ही पट्टे प्रदान किये जाएंगे। इस संबंध में तेजी से कार्रवाई निगम द्वारा की जा रही है। इस संबंध में आज निगम अधिकारियों के साथ आयोजित समीक्षा बैठक में कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि शासन की मंशा अनुरूप हितग्राहियों को राजीव गांधी आश्रय योजना का लाभ दिलाना है। इस कार्य को प्राथमिकता से करते हुए शीघ्र ही पात्र हितग्राहियों का चिन्हांकन कर लें ताकि इन्हें पट्टा वितरण की कार्रवाई आरंभ की जा सके। बैठक में कलेक्टर ने निर्माण कार्यों एवं नागरिक सुविधाओं से संबंधित विषयों पर भी चर्चा की। बैठक में नगर निगम दुर्ग आयुक्त  हरेश मंडावी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

अमृत मिशन पर तेजी से गुणवत्तायुक्त कार्य हो- कलेक्टर ने कहा कि लोगों के लिए शुद्ध पेयजल और पर्याप्त पेयजल प्राथमिकता का कार्य है। इसके लिए अमृत मिशन अंतर्गत कार्य हो रहा है। कार्य की गुणवत्ता पर बारीक नजर रखे, साथ ही यह भी देखें कि कार्य युद्धस्तर पर हो ताकि शीघ्रताशीघ्र योजना में चिन्हांकित हितग्राहियों तक पर्याप्त जलापूर्ति सुनिश्चिचत की जा सके। कलेक्टर ने बीते दिनों अमृत मिशन की प्रगति पर एक समीक्षा बैठक ली थी और कुछ महत्वपूर्ण तकनीकी मुद्दों पर अधिकारियों एवं कार्यान्वयन कर रही एजेंसी को निर्देश दिये थे। इन पर हुई प्रगति की आज उन्होंने समीक्षा भी की।
पीएम आवास जल्द पूर्ण कराएं एवं शिफ्टिंग कराएं- कलेक्टर ने पीएम आवास योजना की प्रगति की समीक्षा भी की। उन्होंने आवासों के निर्माण कार्य को शीघ्र पूरा कर हितग्राहियों को शिफ्टिंग के निर्देश दिये। शासन द्वारा दुर्ग शहर में अधोसंरचना विकास के लिए बड़े निर्माण कार्य किये जा रहे हैं। कलेक्टर ने कहा कि इनका गुणवत्तायुक्त निर्माण कार्य शीघ्र पूरा करें ताकि शहर के निवासियों को शानदार अधोसंरचना शीघ्र ही मिल सके। उन्होंने सभी महत्वपूर्ण अधोसंरचनाओं में अब तक आई प्रगति की जानकारी ली।

शहरी गौठान में सुविधाएं बेहतर रहें, इसकी मानिटरिंग करते रहें- कलेक्टर ने गोधन न्याय योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा भी की। उन्होंने कहा कि शहरी गौठानों में पशुओं के लिए चारा-पानी की बेहतर व्यवस्था हो। गोबर खरीदी की व्यवस्था सुचारू रूप से चलती रहे। कंपोस्ट खाद के निर्माण एवं इनके विपणन की व्यवस्था सुदृढ़ होती रहे, इसकी मानिटरिंग करते रहें। मुख्यमंत्री के निर्देश के अनुरूप शहरी गौठानों में चारागाह के लिए जो निर्देश दिये गये हैं उसके कार्यान्वयन की मानिटरिंग निगम आयुक्त करते रहें।

सभी उद्यान हों सुव्यवस्थित- कलेक्टर ने उद्यानों की स्थिति की विशेष रूप से समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सभी उद्यान सुव्यवस्थित होने चाहिए। जहां किसी तरह के रिपेयर की जरूरत है वहां रिपेयर का कार्य करा लें। विशेष अभियान चलाकर सभी गार्डन दुरुस्त करा लें। इसके अलावा नागरिक सुविधाएं सबसे अहम हैं। लोगों के आवेदनों पर समय सीमा पर कार्रवाई हो। निगम आयुक्त मार्निग विजिट से मिले फीडबैक पर व्यवस्था तुरंत दुरूस्त कराएं। सार्वजनिक स्थानों पर साफसफाई का रोटेशन बढ़ा दें।