Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

घरवालों ने नहीं दिलाया 30 हजार का कुत्ता तो लड़के ने फांसी लगाकर दे दी जान

16/06/2021
विशाखापट्टनम। 16 साल के लड़के ने फंदा लगा किया सुसाइड षणमुख ने ऑनलाइन एक कुत्ता देखा, जिसकी कीमत 30 हजार रुपये थी. षणमुख को कुत्ता बहुत पसंद आया और उसने अपने माता-पिता से उसे दिलाने की जिद की. हालांकि उसके परिजन इसके लिए तैयार नहीं हुए. इस बात से नाराज षणमुख ने फांसी लगाकर जान दे दी. बच्‍चों में कई बार किसी चीज को पाने की हसरत इस कदर हावी हो जाती है कि वो चीज न मिलने पर गुस्‍से में कई बार खतरनाक कदम तक उठा लेते हैं. 

ऐसा ही एक मामला आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में देखने को मिला. यहां पर 16 साल के एक लड़के ने इसलिए फांसी लगाकर जान दे दी क्‍योंकि उसके परिजनों ने उसे कुत्ता खरीदकर देने से मना कर दिया था. इस बात से नाराज लड़के ने सीलिंग फैन में फांसी का फंदा लटकाकर आत्‍महत्‍या कर ली.
जानकारी के मुताबिक विशाखपट्टनम के वेंकटेश्‍वरा मेट्टा इलाके में षणमुख वामसी (16) अपने परिवार के साथ रहा करता था.

 षणमुख ने ऑनलाइन एक कुत्ता देखा, जिसकी कीमत 30 हजार रुपये थी. षणमुख को कुत्ता बहुत पसंद आया और उसने अपने माता-पिता से उसे दिलाने की जिद की. हालांकि उसके परिजन इसके लिए तैयार नहीं हुए. बता दें कि षणमुख की मां ने कुत्ता लाने से साफ इनकार कर दिया था. षणमुख की मां ने कहा था कि अगर वह कुछ वक्त ठहर जाएगा तो वह उसे कुत्ता दिला देंगी. हालांकि घरवालों के ऐसा कहने पर षणमुख वामसी नाराज हो गया. 

इसके बाद जब षणमुख की मां सोमवार को जरूरी घरेलू सामान खरीदने बाजार गई तो षणमुख वामसी ने फांसी से लटककर जान दे दी. मां ने जब बेटे को फंदे से झूलता देखा तो वह बेहोश हो गईं. घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने षणमुख वामसी को तत्काल अस्पताल पहुंचाया, जहां जांच के दौरान डॉक्‍टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. एमआर पेट्टा थाने की पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज किया है और आगे जांच की जा रही है.