Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

केंद्र सरकार के सौतेला व्यवहार से कारण राज्य में टीकाकरण हो रहा है बाधित- सोनू साहू

12/05/2021
ए.पी.एल वर्ग के 18 से 44 आयु वाले नागरिकों के टीकाकरण केंद्रों की संख्या बढ़ाने के लिए कलेक्टर व दुर्ग महापौर को एनएसयूआई  ने सौंपा ज्ञापन 
पूरब टाइम्स दुर्ग। मोदी सरकार की गलत कार्यनीति के कारण छत्तीसगढ़ के नागरिकों को टीकाकरण अभियान बाधित होने बात कहकर एनएसयूआई ने केंद्र सरकार से सौतेले व्यवहार नहीं करने की मांग की गई है. एसयूनएआई नेकलेक्टर को ज्ञापन देकर कहा है कि छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण फैली महामारी को नियंत्रित करने के लिए वृहद स्तर पर टीकाकरण अभियान ही एकमात्र उपाय व विकल्प के रूप में हमारे सामने है इस जिम्मेदारी को पूरा करने के लिए वृहद स्तर का टीकाकरण करवाने की जानकारी देकर एनएसयूआई दुर्ग भी जन जागरूकता के लिए सोशल मीडिया और अपने संपर्क दायरे में आने वाले सभी लोगों को टीकाकरण करवाने के फायदों को बताकर आम जनों को टीकाकरण करवाने के लिए प्रेरित कर रही है. ऐसे में खास करके एपीएल वर्ग के लोगो की टिका लगवाने के लिए संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती नजर आ रही है. सामान्य नागरिकों की बड़ी संख्या टीकाकरण करवाने के संबंध में एनएसयूआई कार्यकर्ताओं से टीकाकरण केंद्रों की जानकारी और इन केंद्रों में उपलब्ध टीकों के आधार पर टीकाकरण केंद्रों पर आने के उचित समय की जानकारी ले रही है. लेकिन टीकाकरण केंद्रों की संख्या कम होने के कारण टिकाकरण केंद्रों पर भीड़ इकट्ठा हो रही है और टीका लगवाने के इच्छुक नागरिकों को अव्यवस्थाओं का भी सामना करना पड़ रहा है जिसे देखते हुए दुर्ग शहर में टीकाकरण केंद्रों की संख्या बढ़ाने के साथ साथ एपीएल श्रेणी में आने वाले 18 से 44 आयु वर्ग वाले नागरिकों के लिए यथासंभव अधिक संख्या मे टीकाकरण केंद्रों का संचालन करने का निवेदन महापौर और कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा कर मांग किए जिससे कि अनावश्यक और अनियंत्रित भीड़ की अवांछित स्थिति को टीकाकरण केंद्रों से टाला जाना संभव हो सकेगा 
दुर्ग एनएसयूआई जिला कार्यकारी अध्यक्ष सोनू साहू ने बताया कि एनएसयूआई कार्यकर्ता अपनी सामाजिक जिम्मेदारी को पूरा कर रहे है और जिला प्रशासन को लगने वाले किसी भी प्रकार के सहयोग को करने के लिए कार्यकर्ता तैयार है पर आज कलेक्टर और महापौर से मिलने के बाद जो बात सामने आया वह यह है कि केंद्र सरकार छःग राज्य सरकार को पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध नही करा रही है जिसके कारण जिलों में वैक्सीन पर्याप्त मात्रा में नही पहुंच पा रही है राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पूरे नागरिकों का जल्द से जल्द टीकाकरण हो इसके लिए केंद्र सरकार से 50 लाख डोज वैक्सीन के मांग किए है पर केंद्र की मोदी सरकार छःग सरकार को वैक्सीन देने में सिर्फ खाना पूर्ति कर रही है जिसके कारण 18 से 44 वर्ष के लोगो को वैसिनेस से वंचित होना पड़ रहा है. ज्ञापन में कहा गया है कि जब भी वैक्सीन की उपलब्धता हो जाती है तो केंद्रों की संख्या यथासंभव बढ़कर जहां भी एनएसयूआई कार्यकर्ताओं के सेवाओं की आवश्यकता हो तो इसकी जानकारी हमे देवे। शासन प्रशासन के मदद में दुर्ग एनएसयूआई के हर एक कार्यकर्ता अपनी जिम्मेदारी पूरी करने के लिए तैयार हैं. उक्त टीकाकरण अभियान को तेज गति देने के लिए कलेक्टर के माध्यम से केंद्र सरकार को पत्र लिख करके छःग राज्य के युवाओं के लिए पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध कराने और केंद्रों की संख्या बढ़कर सामान्य आय वर्ग के 18 से 44 आयु वाले लोगो की बढ़ती भीड़ को व्यवस्थित करने का निवेदन किया। इस विषय में  जिलाधीश एवम दुर्ग महापौर धीरज बाकलीवाल ने एनएसयूआई के मांग को संज्ञान में लेकर सभी के सहयोग से शीघ्र ही समस्या का निराकरण करने का भरोसा दिलाया इस अवसर पर एमआईसी सदस्य हमीद खोखर , श्रद्धा सोनी पार्षद उपस्थित थे.