Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

आठ सामुदायिक केंद्रों में से दो केंद्रों पर सीजर शुरू,पहले जिला अस्पताल आना पड़ता था

08/02/2021
भिलाई। जिले के आठ सामुदायिक केंद्रों में से दो में सीजर की सुविधा शुरू हो गई है। वर्तमान में केवल पाटन स्वास्थ्य केंद्र में सीजर से ऑपरेशन किए जा रहे थे। लेकिन अब उतई के सीएचसी में सुविधा शुरू होने से ग्रामीणों को बड़ी सहूलियत मिली है। वर्ष 2018 में स्त्री एवं प्रसूती रोग विशेषज्ञ डॉ. ममता पांडेय का जिला अस्पताल स्थानांतरण हो जाने से उतई के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सीजर के ऑपरेशन बंद हो गए थे। गुरुवार से दोबारा शुरू होने पर दो दिनों में तीन महिलाओं की सीजर हुए। इससे पहले तक जिला अस्पताल आना पड़ता था।

उतई सामुदायिक केंद्र में दो साल बाद शुरू हुआ सीजर
जिले की 8 सीएचसी में उतई भी अब ऐसी सीएचसी हो गई है, जहां सीजर किया जाने लगा है। इससे पहले सभी सीएचसी में यह सुविधा केवल पाटन में दी जा रही थी। साल भर पहले धमधा में भी सीजर कर रहे थे, लेकिन अब केवल दो सीएचसी में ही सीजर हो रहा है। उतई के इस सीएचसी में इस साल जनवरी में स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ की खाली पोस्ट पर डॉ. शुभ लक्ष्मी की नियुक्ति की गई।

जानिए, दो दिन में किन प्रसूतियों का सीजर हुआ
उतई के सीएचसी में गुरुवार को सुविधा शुरू होने के बाद नेवई की शैलेंद्री, खोपली निवासी दीपिका और उतई निवासी सुषमा का सीजर हुआ। इसके अलावा सामुदायिक केंद्र में बच्चों की डॉ. दिव्या श्रीवास्तव और बेहोशी के डॉ. गोलन यहां पहले से तैनात है। उतई में जारी वैक्सीनेशन से जुड़े जरूरी काम डॉ. गोलन देख रही हैं, इसलिए सीजर के लिए बेहोशी के डॉक्टर के तौर पर कुम्हारी में तैनात डॉ. शीतल को बुलाया जा रहा है। लेकिन स्त्रीरोग विशेषज्ञ नहीं होने से मरीजों को परेशानी हो रही थी।