Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

दुर्ग जिले में अभी से बजने लगी कोरोना खतरे की घंटी

03/05/2020
पूरब टाइम्स, दुर्ग। दुर्ग जिला, भारत सरकार द्वारा जारी की गई लिस्ट में ग्रीन जोन में है. इस बात से यहां की आम जनता को विशेष छूट मिल रही है. वही जिला प्रशासन कोरोना महामारी से निपटने की अपनी तैयारी पर अपनी पीठ ठोक रहा है. हालात यह है कि जिला प्रशासन धड़ल्ले से अन्य क्षेत्र में आने-जाने की अनुमति दे रहा है. ऐसा लगता है कि इस बात से स्थानीय पुलिस व प्रशासन ने अपने कार्यो में ढीलाई बरतनी चालू कर दी है. इन परिस्थितियों को देख कर दुर्ग जिले में कोरोना, कभी भी दस्तक दे सकता है. इस बात को नकारा नही जा सकता है. 

आज सुबह से ही पूरब टाइम्स की टीम ने नेशनल हाइवे पर बाफना टोल प्लाजा के पास जाकर ट्रकों की आवाजाही की पड़ताल की . इस पर चौकाने वाली बातें सामने आई कि ट्रकों के भीतर व  ऊपर अनेक लोग बिना माक्स व बिना सोशल डिस्टेसिग के दिखे. पता करने पर मालूम चला कि अनेक लोग, महाराष्ट्र बॉर्डर को पार कर यहां तक पहूंचे थे. महाराष्ट्र बॉडर से ड्राइवर व खलासी की अनुमति के साथ ट्रक जांच चौकी को पार कर, छत्तीसगढ़ बॉडर में प्रवेश कर रहे है.

और महाराष्ट्र से उनके साथ आने वाले यात्रीगण अन्य वैकल्पिक रास्ते से घुसपैठ कर, फिर से उसी ट्रक पर आकर बैठ जाते है. जिसमे वे पहले से महाराष्ट्र के भीतर यात्रा कर रहे थे. एक अन्य यात्री ने बताया कि ट्रक ड्राइवर मनमानी पैसा वसूल कर रहे है. वे बता रहे है  कि जगह-जगह पुलिस को पैसा खिलाना पड़ता है. इन हालात में कोरोना मामले में दुर्ग जिले की स्थिति भी विस्पोटक हो सकती है। अभी भी कुछ नहीं बिगड़ा है , जिला प्रशासन व पुलिस उच्च अधिकारी के संज्ञान आने व कड़ाई दिखाने पर सब कुछ नियंत्रित किया जा सकता है।