Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

निगम आयुक्त ने तोड़फोड़ दस्ता प्रभारी प्रकाश अग्रवाल को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

03/05/2020
पूरब टाइम्स भिलाई। नगर पालिक निगम भिलाई के तोड़फोड़ दस्ता टीम को भंग कर दिया गया है, अब तोड़फोड़ दस्ता संबंधी कार्यवाही जोन स्तर से की जाएगी। उच्चाधिकारी के आदेश की अवहेलना करते हुए अशोभनीय आचरण करने पर निगम आयुक्त ने तोड़फोड़ दस्ता प्रभारी प्रकाश अग्रवाल को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। निगम आयुक्त ने तोड़फोड़ दस्ता में संलग्न कर्मचारियों के कार्यस्थल में फेरबदल करते हुए भंग किए गए तोड़फोड़ दस्ता के कर्मियों को अलग-अलग जोन में पदस्थापना हेतु आदेश जारी किए हैं। इसके पूर्व उड़नदस्ता टीम की शिकायतें आने के बाद उड़नदस्ता के गठन को निरस्त किया जा चुका है और इनको प्रदाय किए  गए वाहनों को जमा करा दिया गया है। तोड़फोड़ दस्ता की टीम के प्रभारी प्रकाश अग्रवाल को निगम के उच्चाधिकारी द्वारा अवैध निर्माण पर कार्यवाही किए जाने का आदेश दिए गए थे जिसकी जानकारी मांगे जाने पर अग्रवाल द्वारा अशोभनीय आचरण किए जाने पर निगम आयुक्त ने कारण बताओ नोटिस जारी कर 24 घंटे में सामाधान कारक जवाब मांगा गया है निर्धारित समयावधि में समाधान कारक उत्तर प्राप्त नहीं देने पर एक पक्षीय कार्यवाही का उल्लेख नोटिस में किया गया है। तोड़फोड़ दस्ता में शामिल खेमलाल यादव, कन्हैया सिंह, राजेन्द्र सिंह, विष्णु प्रसाद सोनी, जैतुराम राउत, मंगल जांगड़े व गौकरण कुर्रे सहित कुल 7 कर्मचारियों को भिलाई निगम के अलग-अलग जोन में पदस्थ किया गया है। बता दें कि मॉडल टाउन भिलाई में अवैध निर्माण को लेकर शिकायत प्राप्त हुई थी जिसकी जानकारी उपायुक्त एवं नोडल अधिकारी भवन अनुज्ञा शाखा तरुण पाल लहरें द्वारा पूर्व तोड़फोड़ दस्ता प्रभारी प्रकाश अग्रवाल से मांगी गई परंतु जानकारी देने के बजाय अग्रवाल द्वारा अशोभनीय आचरण किया गया जोकि छत्तीसगढ़ सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम 3 के नियम (1),(2),(3) के विपरीत है जिस पर कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए जवाब मांगा गया है!