Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

लाॅक डाउन में बिजली गड़बड़ी जल्द दूर करने कारगर हुआ स्काडा सेंटर

02/05/2020
पूरब  टाइम्स  दुर्ग।  रूआॅबांधा से दुर्ग, भिलाई एवं चरोदा के 150 फीडर्स पर होती है 24 घंटे निगरानी दुर्ग, 02 मई 2020 - छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कंपनी द्वारा ‘‘क्वालिटी पाॅवर फाॅर कंन्ज्यूमर्स’’ को लक्ष्य बनाते हुये उपभोक्ता हित में कार्य किया जा रहा है। यहीं वजह है कि लाॅकडाउन के दौरान दुर्ग-भिलाई-चरोदा शहर में कहीं भी कोई भी बड़ा व्यवधान नहीं आया है। ऐसे विकट दौर में पाॅवर कंपनी के रूआॅबांधा में स्थित स्काडा (सुपरवाईजरी कंट्रोल एण्ड डाटा एक्वीजीषन) सेंटर  कस्मिक आई बिजली गड़बड़ी को जल्द दूर करने में कारगर सिद्ध हो रहा है। छत्तीसगढ़ स्टेट पाॅवर डिस्ट्रीब्यूषन कंपनी लिमिटेड दुर्ग क्षेत्र के कार्यपालकनिदेषक संजय पटेल ने बताया कि  दुर्ग-भिलाई-चरोदा शहर के 33/11 केव्ही के 32 उपकेन्द्रों से निकलने वाले 11 केव्ही के लगभग 150 फीडर्स पर स्काडा सेंटर से ‘‘स्क्रीन’’ पर 24 घंटे नजर रखी जाती है। दुर्ग-भिलाई-चरोदा शहर के किसी भी फीडर में फाॅल्ट आने की स्थिति में तत्काल स्काडा सेंटर को सूचना मिल जाती है। बिजली व्यवधान वाले क्षेत्रों में निकट स्थित अन्य फीडर्स के द्वारा उस क्षेत्र में बिजली आपूर्ति की जा सकती है।  स्काडा सेंटर के इंचार्ज कार्यपालन अभियंता  अनिल कुमार चेल्ला ने बताया कि दुर्ग-भिलाई-चरोदा शहर के विभिन्न क्षेत्रों में स्थापित 33/11 केव्ही उपकेंद्रो, 11केव्ही फीडरों,  तरण ट्रांसफार्मरों को भी आपस में रिंग मेन युनिट (आरएमयू) की सहायता से जोड़ा गया है। स्काडा सेंटर से जुड़े इंजीनियर्स जरूरत पड़ने पर मैदानी अधिकारियों कर्मचारियों से कोआॅर्डिनेषन कर आरएमयू के द्वारा विद्युत फीडरों को बंद चालू करने तथा फीडर में आये व्यवधान की त्वरित जानकारी संबंधित क्षेत्र के अधिकारी को सहजता से दे देते है। फलस्वरूप गड़बड़ी का निराकरण जल्द कर लिया जाता है।  स्काडा इंजीनियर्स की टीम में कु ज्योति येजरला,  पूजा प्रसाद, प्रीति रानी गुप्ता, कु सोनम प्रजापति,  एल.एन.बंछोर, जगतार सिंह भट्ट्ी,  बी वजीत सिन्हा,  भास्कर आनंद,  विवेक पोरवाल एवं  अनुराग ठाकुर विभिन्न पालियों में ड्यूटी दे रहे हैं, जिससे कि आम उपभोक्ताओं को निर्बाध बिजली की आपूर्ति होती रहे और वे घर परिवार के साथ सुरक्षित जीवन जी सके।