Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

भिलाई निगम क्षेत्र में बाहर से आए हुए लोगों की सूचना इन नंबरों पर जोनवार नोडल अधिकारी को दे

02/05/2020
पूरब  टाइम्स दुर्ग। कोरोनावायरस कोविड-19 महामारी के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु ऐसे व्यक्ति जो भिलाई शहर के वार्ड, क्षेत्र, मोहल्ला या आसपास में अन्य शहर, गांव, राज्य से आए हुए हैं उनकी जानकारी हेल्पलाइन नंबर 1100 या 07882210180 पर दे सकते हैं। इसके अलावा इस कार्य के लिए नियुक्त भिलाई निगम के नोडल अधिकारी जोन क्रमांक एक नेहरू नगर के जोन आयुक्त अमिताभ शर्मा मोबाइल नंबर 7000092136, प्रकाश अग्रवाल प्रभारी सहायक राजस्व अधिकारी मोबाइल नंबर 8109106208, जोन क्रमांक 2 वैशाली नगर के जोन आयुक्त सुनील अग्रहरि मोबाइल नंबर 7050344444, संजय वर्मा प्रभारी सहायक राजस्व अधिकारी मोबाइल नंबर 9669332966, जोन क्रमांक 3 मदर टैरेसा नगर के जोन आयुक्त महेंद्र पाठक मोबाइल नंबर 9424227177, परमेश्वर चंद्राकर प्रभारी सहायक राजस्व अधिकारी मोबाइल नंबर 9826947891, जोन क्रमांक 4 खुर्सीपार की जोन आयुक्त प्रीति सिंह मोबाइल नंबर 7697590459, बालकृष्ण नायडू प्रभारी सहायक राजस्व अधिकारी मोबाइल नंबर 9425245007, सेक्टर क्षेत्र जोन क्रमांक 5 के जोन आयुक्त सुनील जैन मोबाइल नंबर 9425555648, मलखान सिंह सोरी प्रभारी सहायक राजस्व अधिकारी मोबाइल नंबर 9977421330 पर संपर्क करके जानकारी दे सकते हैं। कोरोनावायरस को हराने और इस कार्य के लिए अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए निगम भिलाई आम जनता से अपील करता है कि ऐसे लोगों की सूचना तत्काल इन नंबरों पर देकर निगम प्रशासन को सहयोग करें। आयुक्त श्री ऋतुराज रघुवंशी ने नोडल अधिकारी का आदेश जारी कर दिया है यह अधिकारी प्रतिदिन अपने जोन क्षेत्रों में बाहर से आए हुए लोगों की जानकारी एकत्रित कर अवगत कराएंगे, आयुक्त  रघुवंशी ने जोन आयुक्तों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि इस कार्य में लापरवाही नहीं होनी चाहिए, अपने-अपने जोन के क्षेत्र में ऐसे लोगों की जानकारी प्राप्त करने सतर्क रहें। जो भी व्यक्ति भिलाई निगम क्षेत्र में बाहर से आए हैं या आ रहे हैं वह भी अपने आने की सूचना तत्काल स्थानीय प्रशासन एवं नियुक्त नोडल अधिकारियों को देंगे अन्यथा जानकारी छुपाने वाले संबंधित के विरुद्ध एफआईआर दर्ज सहित अन्य दंडात्मक कार्यवाही की जावेगी। इस संबंध में बता दें कि जानकारी देने वाले का नाम निगम द्वारा गोपनीय रखा जाएगा।