Poorabtimes

जिसे सब छुपाते है उसे हम छापते है



Detail

जब गेंदों की धुनाई के बाद वॉर्न ने लिया था बर्थडे बॉय तेंडुलकर से ऑटोग्राफ

23/04/2020
नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शतकों का शतक जमाने वाले सचिन तेंडुलकर ने इनमें से एक शतक अपने जन्मदिन यानी 24 अप्रैल को भी बनाया था जिसमें उन्होंने शेन वॉर्न  की गेंदों की जमकर धुनाई करके इस ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज को ऑटोग्राफ लेने के लिए मजबूर कर दिया था। तेंडुलकर और वॉर्न के बीच द्वंद्व क्रिकेट जगत के सबसे चर्चित व्यक्तिगत मुकाबलों में शामिल रहा है लेकिन शारजाह में 24 अप्रैल 1998 को ऑस्ट्रेलिया का शातिर लेग स्पिनर भारतीय मास्टर ब्लास्टर के आगे नतमस्तक था। 
आखिर तीन दिन के अंदर दूसरी बार उनकी गेंदों की जमकर धुनाई हुई थी जिसे खुद वॉर्न ने भी स्वीकार किया था। कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में अहम योगदान देने वाले चिकित्सकों, नर्सों, चिकित्सा सहयोगियों, पुलिसकर्मियों, सैन्यकर्मियों और सफाईकर्मियों के सम्मान में तेंडुलकर ने हालांकि कल अपना 47वां जन्मदिन नहीं मनाने का फैसला किया है। लेकिन आज से 22 साल पहले तेंडुलकर ने अपने 25वें जन्मदिन का भरपूर जश्न भी मनाया था और इस बीच उन्हें दो अनोखे उपहार भी मिले थे। भारत ने तेंडुलकर के दम पर शारजाह में तब त्रिकोणीय श्रृंखला जीती थी। तेंडुलकर मैन ऑफ द सीरीज और फाइनल के मैन ऑफ द मैच बने थे लेकिन अपने जन्मदिन पर उन्हें सबसे बड़ा पुरस्कार किसी और ने नहीं बल्कि स्वयं वॉर्न ने दिया था। उन्होंने अपनी शर्ट निकाली और तेंडुलकर को उस पर आटोग्राफ देने के लिए कहा। यह उस टूर्नामेंट का यादगार क्षण बन गया था। तेंडुलकर को दूसरा बड़ा इनाम ऑस्ट्रेलिया के तत्कालीन कप्तान स्टीव वॉ ने दिया था जिन्होंने पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान कहा था कि उनकी टीम को भारत ने नहीं बल्कि सचिन तेंडुलकर ने हराया।